फॉलो

हमने गायनोकॉलोजिस्ट से जाने ऑर्गेज्म से जुड़े सबसे ज्यादा गूगल किये जाने वाले सवाल

Published on:30 July 2020, 20:01pm IST
कारण जागरूकता की कमी को मानें या समाज की सोच को, हमें सच मे ऑर्गेज्म के बारे में जानकारी नहीं है। जानिए अपने सभी सवालों का जवाब, एक्सपर्ट से।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 95 Likes
ऑर्गेज्‍म के बारे में लोगों में सबसे ज्‍यादा जिज्ञासा और सबसे कम समझ है। चित्र: शटरस्‍टॉक

महिलाओं में कामोत्तेजना या ऑर्गेज्म (Orgasm) गूगल पर सबसे ज्यादा ढूंढा जाने वाला विषय है। इसे जिज्ञासा समझें, उत्सुकता या सेक्सर के प्रति आकर्षण, लेकिन महिलाओं के ऑर्गेज्म को लेकर जानकारी की भारी कमी है।

इस जानकारी के लिए हम गूगल के पास जाते हैं, जहां हर बार सही जानकारी मिले यह जरूरी नहीं है। इसलिए हमने गयनोकॉलोजिस्ट से जाने इन सभी सवालों के जवाब।

1. ऑर्गेज्म होता क्या है?

कम शब्दों में कहें, तो कामोत्तेजना या ऑर्गेज्म हमारी वेजाइना से निकलने वाला डिस्चार्ज होता है, जो सेक्सुअल टेंशन के कारण होता है। यह ऑटोनोमिक नर्वस सिस्टम द्वारा कंट्रोल होता है।

ऑर्गेज्‍म हर एक के लिए आनंददायी होता है। चित्र: शटरस्‍टॉक

2. ऑर्गेज्म कैसे मिलता है?

फोर्टिस मेमोरियल रिसर्च इंस्टीट्यूट, गुरुग्राम की मिनिमल एक्सेस गाइने सर्जरी कंसल्टें ट डॉ ममता पटनायक बताती हैं, “क्लाइटोरिस महिलाओं में ऑर्गेज्मि पाने का सबसे इजी स्पॉट है। लेकिन यह हर व्यक्ति का अलग तरीका होता है कि उन्हें क्लाइटोरिस स्टिमुलेशन कैसे पसन्द है।”

डॉ. ममता पटनायक कहती हैं, “कई महिलाओं के लिए G-स्पॉट स्टिमुलेशन अत्यधिक आनंददायी होता है। G-स्पॉट वेजाइना की इनर वॉल पर होता है, वेजाइना और सर्विक्स के बीच में। लेकिन ऑर्गेज्म. बहुत हद तक साइकोलॉजिकल फैक्टर्स पर निर्भर करता है।” साइकोलॉजिकल रूप से सेक्सुअल महसूस करने के लिए फोरप्ले ज़रूरी होता है।

3. ऑर्गेज्म एंग्जायटी क्या होती है?

जब किसी को इस बात की एंग्जायटी होती है कि वह सेक्सुअली परफॉर्म नहीं कर पाएगा तो उसे ऑर्गेज्मक एंग्जायटी कहते हैं। इसका कारण होता है कोई असफल पास्ट एक्सपीरिएंस या नर्वसनेस। यह नार्मल है जब तक आप इसे अपनी सेक्स लाइफ को हानि पहुंचाने नहीं देते।

ऑर्गेज्‍म एंग्‍जायटी आपकी सेक्‍स लाइफ को प्रभावित कर सकती है। चित्र: शटरस्‍टॉक

अगर आपको लगता है कि ऑर्गेज्म एंग्जायटी आपकी सेक्स लाइफ को नुकसान पंहुचा रही है, तो किसी प्रोफेशनल की मदद लें।

4. ऑर्गेज्म में कैसा महसूस होता है?

ऑर्गेज्मे के वक्त आनन्द महसूस होता है, ऐसा कहा जा सकता है। वैसे तो हर व्यक्ति को ऑर्गेज्मी के वक्त अलग महसूस होता है, लेकिन वह फीलिंग अच्छी होती है यह सबके लिए कॉमन है। कुछ महिलाओं को पसीना आता है, गर्मी लगती है, कुछ को कम्पन होती है, कुछ को रोने या कराहने की इच्छा होती है।

5. G-स्पॉट कहां होता है?

साइंस के नज़रिए से बताएं तो G-स्पॉट प्यूबिक बोन और सर्विक्स के आगे के हिस्से में होता है। यह पीछे की ओर ना होकर आगे की ओर होता है।
डॉ पटनायक सुझाव देती हैं,”मेस्टरबेशन या सेक्स के वक्त नाभि के करीब रहने की कोशिश करें, न कि पीठ की ओर। हालांकि G-स्पॉट ढूंढने का सबसे अच्छा तरीका एक्सपेरिमेंट करना ही है।

6. ऑर्गेज्म के बाद सर दर्द क्यों होता है?

डॉ पटनायक बताती हैं,” सेक्स या मेस्टरबेशन के कारण अगर आपको सर दर्द होता है, तो उसका कारण है दिमाग में ऑक्सीजन की कमी।” एक कारण परफॉर्मेंस एंग्जायटी या स्ट्रेस भी हो सकता है।

7. ऑर्गेज्म पाने में इतना समय और मेहनत क्यों लगती है?

महिलाओं के लिए सेक्स शारीरिक से ज्यादा मानसिक गतिविधि है। अगर आप मानसिक रूप से एन्जॉय नहीं कर रही हैं, तो ऑर्गेज़म प्राप्त नहीं होगा।

यह साइकोलॉजी से जुड़ा मसला है, इसलिए फीमेल ऑर्गेज्‍म आने में टाइम लगता है। चित्र: शटरस्‍टॉक

महिलाओं में ऑर्गेज्म पाने में ज्यादा समय क्योंस लगता है इसका कोई वैज्ञानिक कारण नहीं है। यह पूरी तरह से साइकोलॉजिकल है। अगर आप कंफर्टेबल नहीं है, खुश नहीं हैं या सेल्फ कॉन्शियस हैं तो आपको ऑर्गेज्म प्राप्त नहीं होगा।

8. फीमेल आफ्टरशॉक क्या होता है?

ऑर्गेज्म प्राप्त करने के बाद पेल्विक मसल्स लगभग एक मिनट तक कॉन्ट्रेक्ट करती हैं। इसी को फीमेल आफ्टरशॉक कहते हैं। आमतौर पर ये आनंददायक होते हैं पर कुछ महिलाओं को हल्का दर्द भी हो सकता है।

0 कमेंट्स

कृपया अपना कमेंट पोस्ट करें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।

संबंधि‍त सामग्री