तनाव को कंट्रोल करें, क्योंकि ये हो सकता है ‘सेक्सुअल बर्नआउट’ का कारण

Published on: 29 March 2022, 21:00 pm IST

यदि आप लिबिडो कमी (Low libido) या यौन गतिविधियों में अरुचि महसूस कर रहीं हैं, तो इसके लिए आपका तनाव भी जिम्मेदार हो सकता है।

Stress low libido ka kaaran hota hai
तनाव लो लिबीडो का कारण होता है। चित्र:शटरस्टॉक

हमने ‘सेक्सुअल बर्नआउट’ (sexual burnout) शब्द बार-बार सुना है, खासकर महामारी के दौरान। लंबे समय तक काम करने के साथ-साथ घरेलू जिम्मेदारियों ने हमारे मानसिक, शारीरिक और भावनात्मक बोझ के कारण आप हर समय थके रहे। लेकिन क्या आप जानती हैं कि ये मल्टीपल बोझ आपके सेक्सुअल बर्नआउट का भी कारण बन सकता है! हैरान न हो, क्योंकि ये बिल्कुल सच है। आपके आसपास फैला हुआ काम, पारीवारिक विवाद और बहसें भी आपकी लिबिडो को प्रभावित कर सकती हैं। जिसे विशेषज्ञ सेक्सुअल बर्नआउट का नाम देते हैं। आइए जानते हैं इस बारे में विस्तार से।

हां, यह मजाक नहीं है। यदि आप या आपका साथी कम लिबिडो या इरेक्टाइल डिस्फंक्शन, संभोग में कमी, या यौन गतिविधियों में सामान्य अरुचि का सामना कर रहे हैं, तो आपको संकेतों पर ध्यान देना चाहिए।

हाल ही में एक इंस्टाग्राम पोस्ट में, डॉ युवराज जडेजा ने चर्चा की है कि वास्तव में सेक्सुअल बर्नआउट (Sexual burnout) क्या है। हमारे जीवन में कई तरह के तनाव हो सकते हैं, लेकिन वे हमारे यौन जीवन पर भी गंभीर प्रभाव डाल सकते हैं। हमारा यौन सुख बहुत हद तक इस बात पर निर्भर करता है कि तनाव को कैसे संभाला जाता है और वह तनाव कहां से आ रहा है। चूंकि हमारे जननांग हमारे शरीर का सबसे ईमानदार हिस्सा हैं, इसलिए यदि आप तनाव में हैं तो वे लगभग हमेशा संवाद करते हैं।

क्या कहती है रिसर्च?

इंटरनेशनल जर्नल ऑफ इंपोटेंस रिसर्च में प्रकाशित निष्कर्ष, इस लिंक पर सबसे पहले हैं। हालांकि क्रोनिक एंग्जायटी और अवसाद के प्रभाव ज्यादा स्पष्ट रूप से नजर आए। महिलाओं के मामले में, उन्होंने योनि में सूखापन और कम ऑर्गेज़्म का अनुभव किया।

Sexual burnout se bache
सेक्सुअल बर्नआउट से बचें। चित्र:शटरस्टॉक

डॉ युवराज कहते हैं, “तनाव आपकी यौन उत्तेजना को महत्वपूर्ण रूप से प्रभावित कर सकता है। एक अध्ययन में, व्यक्तिगत बर्नआउट को खराब इरेक्शन के लिए एक स्वतंत्र जोखिम कारक के रूप में दर्ज किया गया था।”

लेकिन क्या सेक्सुअल बर्नआउट सच में होता है?

हां यह सच है। इंडियाना विश्वविद्यालय में किन्से संस्थान के शोध के अनुसार, लगभग आधे संवाददाताओं ने हस्तमैथुन (Masturbation) सहित पूरे महामारी के दौरान यौन व्यवहार की आवृत्ति में गिरावट की सूचना दी। हालांकि, 5 में से 1 व्यक्ति ने कहा कि उन्होंने इस दौरान कुछ नया करने की कोशिश की, जिसमें अलग-अलग पोजिशन, फोन सेक्स या यहां तक ​​कि सेक्सटिंग भी शामिल है।

अगर आपको लगता है कि सेक्सुअल बर्नआउट आपके पार्टनर के साथ आपके रिश्ते को प्रभावित करता है, तो यह जान लेना भी जरूरी है कि यह सोलो सेक्स को भी प्रभावित करता है। हालांकि, आत्म-सुख को तनाव को दूर करने का एक अच्छा तरीका कहा जाता है। जबकि कुछ के लिए, यह एक मज़ेदार गतिविधि के बजाय एक घर का काम बन गया।

आप सेक्सुअल बर्नआउट से कैसे बच सकते हैं?

यहां बताया गया है कि आप बर्नआउट के लक्षणों की पहचान कैसे कर सकते हैं:

  1. तनाव के लिए अपने शरीर के संकेतों को जानें। प्रत्येक शरीर अलग है।
  2. एक सेल्फ केयर योजना बनाएं। अपने शेड्यूल में मालिश या 10 मिनट का ब्रेक भी शेड्यूल करें।
  3. अपने पार्टनर के साथ बात करें और संवाद करें।
  4. यदि आपके लक्षण असहनीय हैं, तो किसी पेशेवर से बात करें।

यह भी पढ़ें: रिलैक्स लेडीज, वैज्ञानिक तैयार कर रहे हैं पुरुषों के लिए बर्थ कंट्रोल पिल्स, नहीं होगी प्रेगनेंसी की टेंशन

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स
पीरियड ट्रैकर के साथ।

ट्रैक करें