नॉर्मल नहीं है सेक्स के बाद ब्लीडिंग होना, यहां हैं इसके लिए जिम्मेदार 4 संभावित कारण

सेक्स आपकी लव लाइफ और आपसी बॉन्डिंग को मजबूत बनाता है। यह किसी भी तरह की परेशानी का कारण नहीं बनना चाहिए। अगर आपको सेक्स के दौरान या बाद ब्लीडिंग हुई है, तो इसे गंभीरता से लिया जाना चाहिए।
vagina ka blood ana
ब्लीडिंग योनि में सूखेपन के कारण हो सकती है। चित्र- अडोबी स्टॉक
संध्या सिंह Published: 20 Jul 2023, 09:00 pm IST
  • 145

सेक्स करने में सामान्य रूप से शारीरिक तरल पदार्थ का इस्तेमाल होता है, लेकिन रक्त वह तरल पदार्थ नहीं है जिसे आप अपनी बेड पर देखना चाहते हैं। सेक्स के बाद योनि से रक्तस्राव या स्पॉटिंग, जिसे चिकित्सकीय रूप से पोस्टकोटल ब्लीडिंग के रूप में जाना जाता है। लेकिन यह आमतौर पर कोई चिकित्सीय आपात स्थिति नहीं है। आपको कुछ कारण बताते है जिसकी वजह से आपको सेक्स के बाद योनि से खुन आ सकता है।

पोस्टकोटल ब्लीडिंग होने का क्या कारण है ये जानने के लिए हमने बात की डॉ. रितु सेठी (स्त्री रोग विशेषज्ञ एवं प्रसूति रोग विशेषज्ञ)- निदेशक, द ऑरा स्पेशलिटी क्लिनिक गुड़गांव एवं वरिष्ठ सलाहकार से, डॉ. रितु सेठी बताती है कि “यदि यह एक बार या किसी असमान्य समय पर होता है तो थोड़ी मात्रा में स्पॉटिंग सामान्य और ठीक है। लेकिन अगर सेक्स के बाद रक्तस्राव एक से अधिक बार होता है, तो यह आपके लिए जांच करवाने की घंटी है।”

Heavy-bleeding-anemia
सेक्सुअली ट्रांसमिटेड डिजीज (एसटीआई) सेक्स के बाद रक्तस्राव का कारण बन सकता है चित्र शटरस्टॉक।

यहां हैं पोस्टकोटल ब्लीडिंग के कुछ सामान्य कारण

1 वेजाइना ड्राई होने के कारण

डॉ. रितु सेठी बताती है कि कुछ मामलों में सेक्स के बाद ब्लीडिंग योनि में सूखेपन के कारण हो सकती है। योनि का सूखापन एक ऐसी स्थिति है जहां योनि में उचित लीयुब्रिकेंट की कमी होती है, जिससे सेक्स के दौरान घर्षण और संभावित जलन होती है। इसके कारण योनि में छील सकती है और चोट लग सकता है, जिसके परिणामस्वरूप सेक्स के बाद रक्तस्राव हो सकता है।

योनि का सूखापन अक्सर हार्मोनल परिवर्तनों के कारण होता है, खासकर मेनोपॉज के दौरान, जब एस्ट्रोजन का स्तर कम हो जाता है। हालाँकि, अन्य कारक भी योनि के सूखेपन में योगदान कर सकते हैं, जैसे स्तनपान, कुछ दवाएं, तनाव या कुछ मेडिकल कंडिशन।

2 सेक्सुअली ट्रांसमिटेड डिजीज (SIT)

सेक्सुअली ट्रांसमिटेड डिजीज (एसटीआई) सेक्स के बाद रक्तस्राव का कारण बन सकता है, खासकर जब अगर संक्रमण से गर्भाशय ग्रीवा में सूजन हो जाती है, जिसे सर्विसाइटिस कहा जाता है।

क्लैमाइडिया, गोनोरिया, ट्राइकोमोनिएसिस और हर्पीस जैसे एसटीआई सर्विसाइटिस का कारण बन सकते हैं। इसलिए यदि आपको इनमें से एक एसटीआई है, तो सेक्स आपके गर्भाशय ग्रीवा, आपकी योनि कैनास और गर्भाशय के बीच का क्षेत्र में जलन पैदा कर सकता है और रक्तस्राव का कारण बन सकता है।

3 बैक्टीरियल वेजिनोसिस या यीस्ट संक्रमण

किसी भी प्रकार का संक्रमण सूजन और जलन पैदा कर सकता है, जिसके परिणामस्वरूप रक्तस्राव हो सकता है। बैक्टीरियल वेजिनोसिस, जो बैक्टीरिया की अत्यधिक वृद्धि के कारण होता है। यह 15 से 44 वर्ष के लोगों में सबसे आम योनि संक्रमण है। अधिकांश लोग अपने जीवनकाल में कम से कम एक बार योनि में यीस्ट संक्रमण का अनुभव कर सकती है।

यह समस्या होने पर आपको योनि से सफेद या भूरे रंग का स्राव हो सकता है। इसके अलावा योनि में खुजली या जलन होना, योनि से मछली जैसी गंध आना और सूजन भी बैक्टीरियल वेजिनोसिस के लक्षण हैं।

सर्वाइकल कैंसर गर्भाशय ग्रीवा का कैंसर है। चित्र : शटरस्टॉक

4 सर्वाइकल कैंसर

सर्वाइकल कैंसर गर्भाशय ग्रीवा का कैंसर है। सेक्स के दौरान खून आना सर्वाइकल कैंसर का मुख्य लक्षण है। रक्तस्राव आम तौर पर हल्का और दर्द रहित होता है। सेक्स का घर्षण ऊतक को चोटिल कर सकता है और रक्तस्राव का कारण बन सकता है।

पैप स्मीयर जैसे स्क्रीनिंग परीक्षणों के माध्यम से अगर सर्वाइकल कैंसर का जल्दी पता चल जाए तो इसका इलाज संभव है। यदि आपकी उम्र 30 वर्ष या उससे अधिक है, तो आपको सर्वाइकल कैंसर होने का खतरा अधिक है।

जैसे-जैसे गर्भाशय ग्रीवा का कैंसर बढ़ता है, यह गर्भाशय ग्रीवा के ऊतकों में परिवर्तन का कारण बन सकता है, जिससे यह अधिक नाजुक हो जाता है और रक्तस्राव का खतरा होता है, खासकर सेक्स के दौरान या बाद में।

क्या करें

अगर सेक्स के बाद ब्लीडिंग होती है, तो सबसे पहले अपनी पीरियड डेट चेक करें। इसके लिए आप पीरियड ट्रैकर का इस्तेमाल कर सकती हैं। यहां आपकी माहवारी की तिथि और ओव्यूलेशन पीरियड कैलकुलेट हो सकता है। अगर यह माहवारी का वक्त नहीं है, तो जरूरी है कि अपनी स्त्री रोग विशेषज्ञ से बात कर, उनके बताए गए टेस्ट करवाएं।

  • 145
लेखक के बारे में

दिल्ली यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट संध्या सिंह महिलाओं की सेहत, फिटनेस, ब्यूटी और जीवनशैली मुद्दों की अध्येता हैं। विभिन्न विशेषज्ञों और शोध संस्थानों से संपर्क कर वे  शोधपूर्ण-तथ्यात्मक सामग्री पाठकों के लिए मुहैया करवा रहीं हैं। संध्या बॉडी पॉजिटिविटी और महिला अधिकारों की समर्थक हैं। ...और पढ़ें

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
अगला लेख