क्या पीरियड्स आपके पाचन तंत्र को भी नुकसान पहुंचाते हैं? विशेषज्ञ बता रहे हैं इस बारे में सब कुछ

Published on: 28 November 2021, 19:00 pm IST

पीरियड्स के साथ अक्सर ऐंठन, सिरदर्द और कभी-कभी पाचन संबंधी समस्याएं भी होती हैं! आइए एक विशेषज्ञ से जानते हैं इन सबका कारण।

Periods ke samay shave na kare
पिरियड्स के समय शेव न करें। चित्र:शटरस्टॉक

पीरियड्स के दौरान मल त्याग में वृद्धि और पेट में गैस बनना आम हो सकता है। इस दौरान आप ब्लॉटिंग का अनुभव भी कर सकती हैं। एक विशेषज्ञ का सुझाव है कि पीरियड्स और पाचन के बीच का संबंध वास्तविक है।

क्या आप जानते हैं कि पीरियड्स में पाचन संबंधी समस्याएं क्यों हो जाती हैं?

इसके लिए आप अपने हॉर्मोन को दोष दे सकते हैं! यह प्रोजेस्टेरोन के घटते स्तर और प्रोस्टाग्लैंडीन नामक हार्मोन में वृद्धि से संबंधित है, जो आपके पीरियड्स में रिलीज होते हैं। प्रोस्टाग्लैंडिंस संकुचन का कारण बनते हैं जो आपके गर्भाशय की परत को हटाने में मदद करते हैं। कभी-कभी, वे आपकी आंतों में संकुचन भी पैदा करते हैं, जिससे दस्त सहित कब्ज के कई लक्षण हो सकते हैं।

Periods ke samay indigestion
पिरियड्स के दौरान अपच की समस्या हो सकती है। चित्र: शटरस्‍टॉक

 इसकी वजह से:

  • आपके पीरियड्स के दौरान आपके शौच के पैटर्न में बदलाव हो सकता है। 
  • इससे आपको डायरिया हो सकता है।  
  • यहां तक ​​कि आपको गैस भी हो सकती है। 
  • आपके पीरियड्स के दौरान मल से बदबू आ सकती है। 
  • आपको कब्ज़ भी महसूस हो सकती है।

कुल मिलाकर, आपका गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल सिस्टम या आपका पेट और आंतें आपके मासिक धर्म चक्र से प्रभावित होती हैं।

मदरहुड हॉस्पिटल, खारघर की कंसल्टेंट ऑब्स्टेट्रिशियन एंड गायनेकोलॉजिस्ट, डॉ सुरभि सिद्धार्थ हेल्थशॉट्स को बताती हैं कि मासिक धर्म के दौरान किसी का पाचन तंत्र खराब हो जाता है। पीरियड्स आपके पाचन तंत्र पर कहर ढाते हैं।

जानिए कैसे पीरियड्स आपके पाचन तंत्र पर हमला करता है 

1. सूजन और कब्ज

यह आमतौर पर मासिक धर्म चक्र के दौरान देखा जाता है, क्योंकि प्रोजेस्टेरोन आंत्र के संकुचन को धीमा कर देता है। इससे भोजन और गैस की गति भी धीमी हो जाती है। उसके बाद, व्यक्ति बलोटींग और कब्ज़ महसूस कर सकता है।

2. मल त्याग में परिवर्तन

सुरभि सिद्धार्थ कहती हैं, ‘मासिक धर्म के दौरान शरीर कई तरह के हार्मोनल उतार-चढ़ाव से गुजरता है। ये बदलाव पूरे शरीर को प्रभावित करते हैं, जिससे प्रीमेंस्ट्रुअल सिंड्रोम (PMS) के लक्षण जैसे पाचन में बदलाव आते हैं। प्रोस्टाग्लैंडिंस आपकी अवधि के दौरान दस्त में योगदान कर सकते हैं।”

3. पीरियड क्रैम्पिंग

क्या आपको पता था? प्रोस्टाग्लैंडिंस, जो हार्मोन जैसे पदार्थ होते हैं, गर्भाशय द्वारा जारी किए जाते हैं और असुविधाजनक ऐंठन को ट्रिगर करते हैं। इतना ही नहीं, आपको यह जानकर भी हैरानी होगी कि इससे डायरिया भी हो सकता है।

Period cramps intolerable ho sakte hai
पीरियड क्रैम्प असहनीय हो सकते हैं। चित्र:शटरस्टॉक

4. इरिटेबल बोवल सिंड्रोम (IBS)

वे महिलाएं जो पहले से ही IBS से पीड़ित हैं, उन्हें मासिक धर्म के दौरान पाचन संबंधी गड़बड़ी का सामना करना पड़ेगा।

डॉ सिद्धार्थ से जानिए इनसे निपटने का तरीका 

1. उच्च फाइबर वाले खाद्य पदार्थ खाएं

आपके लिए फाइबर से भरपूर खाद्य पदार्थ जैसे बीन्स, ब्रोकली, एवोकाडो, पॉपकॉर्न, साबुत अनाज, सेब, जामुन और यहां तक ​​कि नट्स का सेवन करना अनिवार्य है। इन खाद्य पदार्थों को खाने से पाचन प्रक्रिया आसान हो सकती है। यह मल त्याग में भी मदद करता है। जंक, मसालेदार, तैलीय और डिब्बाबंद भोजन न करें, क्योंकि वे पाचन प्रक्रिया को बाधित कर सकते हैं।

2. धूम्रपान, शराब और कैफीन से बचें

शराब और कैफीन का अधिक सेवन आपके पाचन तंत्र पर भारी पड़ सकता है और डिहाइड्रेशन जैसी समस्याओं को जन्म दे सकता है। किसी भी कीमत पर इन चीजों से बचना आपके लिए जरूरी है।

High fibre diet
ये हाई फाइबर डाइट आपके पेट का ख्‍याल रखेगी। चित्र: शटरस्‍टॉक

3. रोजाना व्यायाम करें

यदि आपने व्यायाम करना शुरू नहीं किया है, तो इसे करने का यह सही समय है! शारीरिक रूप से फिट रहने से पीएमएस (PMS)से संबंधित सूजन और परेशानी को दूर करने और मल त्याग को नियंत्रित करने में मदद मिल सकती है।

तो लेडीज, पीरियड्स के दौरान होने वाली पाचन समस्या से निराश न हों। इसके बजाय आप इन टिप्स का पालन करें और परेशानी को दूर करने की कोशिश करें। 

यह भी पढ़ें: क्या मासिक धर्म स्वास्थ्य को सुधारने के उपाय है? जानिए विशषज्ञ क्या कहते हैं

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स
पीरियड ट्रैकर के साथ।

ट्रैक करें