और पढ़ने के लिए
ऐप डाउनलोड करें

प्रोस्टेट और ओवेरियन कैंसर का कारण बन सकता है गोद में लैपटॉप रखकर काम करना, जानिए सेहत पर इसके नुकसान

Published on:24 September 2021, 18:30pm IST
वर्क फ्रॉम होम के दौरान कभी सोफे पर बैठकर तो कभी आराम से बिस्तर पर ही आप लैपटॉप लिए बैठी हैं। पर क्या आप जानती हैं कि गोद में रखा हुआ लैपटॉप आपकी मां बनने की क्षमता भी खत्म कर सकता है।
ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ
  • 125 Likes
laptop ristemaal karne ke nuksaan
आपकी गोद में रखा हुआ लैपटॉप आपकी प्रजनन और यौन क्षमता को बर्बाद कर सकता है। चित्र ; शटरस्टॉक

आजकल जब सब कुछ डिजिटल हो गया है और वर्क फ्रॉम होम जोरों पर है, हम बहुत सारी बातों को नजरंदाज कर रहे हैं। आपने यह ज़रूर सुना होगा कि लंबे समय तक बैठकर काम करने से सेहत को नुकसान पहुंच सकता है। मगर क्या आप जानती हैं कि गोद में लैपटॉप रखकर काम करना भी आपकी सेहत के लिए हानिकारक है?

यकीनन आपने इस पर कभी ध्यान नहीं दिया होगा, लेकिन गोद में लैपटॉप लेकर काम करना भी आपकी सेहत पर भारी पड़ सकता है। चलिये पता करते हैं कैसे?

1. यह आपके प्रजनन अंगों को नुकसान पहुंचा सकता है

आपको लग सकता है कि लैपटॉप क्या ही नुकसान पहुंचाएगा, मगर आपका ऐसा सोचना बिल्कुल गलत है। यह वायरलेस इंटरनेट सिग्नल (microwaves) प्राप्त करता है और ईएमएफ (Electric and magnetic fields) को रेडिएट करता है।

इसलिए अगर गोद में रख कर लैपटॉप का इस्तेमाल कर रही हैं, तो आपके रिप्रोडक्टिव सिस्टम को नुकसान पहुंच सकता है और आपके एग्स भी डैमेज हो सकते हैं। दूसरी ओर यह पुरुषों में भी शुक्राणुओं की संख्या को प्रभावित कर सकता है।

यहां तक कि, अमेरिकन सोसाइटी फॉर रिप्रोडक्टिव मेडिसिन द्वारा किए गए एक अध्ययन में पाया गया कि अपनी गोद में लैपटॉप रखने से प्रजनन क्षमता प्रभावित हो सकती है।

laptop ke nuksaan
लैपटॉप को टेबल पर रखकर ही काम करें. चित्र : शटरस्टॉक

2. इससे पीठ और गर्दन में दर्द हो सकता है

हाल ही में हुए एक अध्ययन में पाया गया कि लैपटॉप को अपनी गोद में रखने से गर्दन और पीठ में दर्द हो सकता है। इसलिए लैपटॉप को एक टेबल पर रखें या आप चाहें तो, एक स्टैंडिंग डेस्क का उपयोग कर सकती हैं, जो आपके बॉडी पॉस्चर के लिए बेहतर है।

3. इससे अनिद्रा की समस्या हो सकती है

कई बार ऐसा भी हुआ होगा जब आपने आराम से और बिस्तर पर टाइप करते हुए अपने लैपटॉप को अपनी गोद में रखा होगा। स्क्रीन से निकलने वाली रेज़ आंखों को नुकसान पहुंचाती हैं और मेलाटोनिन रिलीज को दबा सकती हैं। जिससे आपको नींद में परेशानी महसूस होने लगती है।

यदि आप अनिद्रा से पीड़ित हैं, तो अपने लैपटॉप को अपनी गोद में लेकर काम करना बंद कर दें। साथ ही, सोते समय किताब पढ़ें।

4. इससे कुछ प्रकार के कैंसर हो सकते हैं

यूनिवर्सिटी हॉस्पिटल बेसल के शोध में सामने आया कि आपकी गोद में रखा हुआ हीटेड लैपटॉप, आपकी त्वचा को नुकसान पहुंचा सकता है। जिससे त्वचा का कैंसर भी विकसित हो सकता है। चूंकि लोग अपने प्रजनन अंगों के पास लैपटॉप रखते हैं, यह प्रोस्टेट और ओवेरियन कैंसर का कारण बन सकता है।

laptop ke nuksaan
गोद में रखकर लैपटॉप चलना आपकी सेहत के लिए हानिकारक हो सकता है. चित्र : शटरस्टॉक

5. यह आपकी त्वचा को जला सकता है

यदि आपको भी अपनी गोद में लैपटॉप रखकर काम करने की आदत है तो, संभल जाइए! नहीं तो आप आप “टोस्टेड स्किन सिंड्रोम” विकसित कर सकती हैं। एक मेडिकल रिपोर्ट में पाया गया है कि लंबे समय तक त्वचा के बगल में लैपटॉप जैसे उपकरणों को रखने से असामान्य दिखने वाली त्वचा की स्थिति या लंबे समय तक गर्मी के संपर्क में रहने के कारण दाने हो सकते हैं।

अंत में, जितना हो सके खुद को लैपटॉप से दूर रखें और काम करते समय इसे किसी टेबल पर रखकर काम करें।

यह भी पढ़ें : 40 किलो वज़न घटा कर लिज़ेल डिसूजा बन गई हैं वेट लॉस आइकॉन, यहां है उनकी पूरी वेट लॉस यात्रा

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।