इंटरकोर्स के बिना भी महसूस हो रहा है वेजाइना में दर्द, तो ये 5 कारण हो सकते हैं जिम्मेदार

क्या आपको भी वेजाइना में अनचाहे दर्द का अनुभव होता है, जो सामान्य रूप से अलग है, तो आपको फौरन इस पर ध्यान देना चाहिए ऐसा क्यों होता है।
jaane vagina me dard hone ke karan
जानें वेजाइना में दर्द होने के कारण। चित्र : एडॉबीस्टॉक
अंजलि कुमारी Published: 28 Jun 2023, 21:00 pm IST
  • 135

कई बार हमे सेक्स के दौरान या लंबे समय तक बैठने, खड़े रहने और अन्य शारीरिक गतिविधियों को करते वक्त वेजाइना में दर्द का अनुभव होता है। हम में से कई लोग इसका अनुभव करते हैं, पर ज्यादातर महिलाएं इन दर्द (Vaginal pain) को नजरअंदाज कर देती हैं, जिसकी वजह से आगे चलकर छोटी सी समस्या गंभीर परेशानी में बदल सकती है। वेजाइना में होने वाले दर्द के पीछे कई गंभीर समस्याएं हो सकती हैं जिनपर समय रहते ध्यान देना महत्वपूर्ण है।

हेल्थ शॉट्स ने इस विषय पर मोरिंगो एशिया हॉस्पिटल, फरीदाबाद की ऑब्सटेट्रिशियन और गाइनेकोलॉजिस्ट डॉक्टर गुंजन भोला से बातचीत की। उन्होंने वेजाइनल पेन से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण बातें बताई है तो चलिए जानते हैं इसके पीछे के कारण।

पहले समझें वेजाइनल और वल्वर पेन के बीच का फर्क

वेजाइनल और वल्वर पेन दोनों ही अलग-अलग स्थितियां हैं। वेजाइनल पेन अंदरूनी दर्द होता है जो आपके वेजाइना के अंदर होता है यानी कि वेजाइनल कैनाल के दर्द को कहते हैं। वहीं वेजाइना के बाहरी टिश्यू जैसे कि लबिया में महसूस होने वाले दर्द को वल्वर पेन कहते हैं।

vaginal care ke baare me jaanen
जानिए योनि की देखभाल का तरीका। चित्र : एडॉबीस्टॉक

यहां हैं वेजाइना में दर्द महसूस होने के कुछ मुख्य कारण

1. वेजाइनल ड्राइनेस

वेजाइनल ड्राइनेस वेजाइनल पेन का एक सबसे आम कारण है। इस स्थिति में बिना लुब्रिकेंट का इस्तेमाल किए पेनिट्रेटिव सेक्स करने से वेजाइना में अनचाहे दर्द का अनुभव हो सकता है। वेजाइनल ड्राइनेस की स्थिति में वेजाइनल ओपनिंग में चोट आ सकती है जिससे अनचाहे दर्द का अनुभव हो सकता है। वेजाइनल ड्राइनेस का एक सबसे बड़ा कारण है शरीर में एस्ट्रोजेन की गिरती मात्रा होती है। यह हार्मोनल बदलाव आपको परेशानी का शिकार बना सकता है।

यह भी पढ़ें : Vaginal Swelling : इन 6 कारणों से हो सकती है योनि में सूजन, लापरवाही करना पड़ सकता है भारी

2. पीरियड्स

आमतौर पर मेंस्ट्रूअल साइकिल के दौरान पेट दर्द का अनुभव होता है। वहीं ब्लोटिंग होना भी आम है, परंतु कई बार पीरियड के दौरान महिलाओं को वेजाइनल पेन का भी अनुभव होता है। वॉटर रिटेंशन पीरियड के पहले नजर आने वाला एक आम लक्षण है जिसकी वजह से वेजाइना में भारीपन और दर्द महसूस होता है। हालांकि, यह सभी में देखने को नहीं मिलता है परंतु यदि आपको पीरियड्स के दौरान वेजाइना में दर्द का अनुभव हो रहा है तो इसके पीछे यह कारण हो सकता है।

3. फाइब्रॉएड

फाइब्रॉएड यूटरस या गर्भ में गैर-कैंसरजन्य ट्यूमर है। 30 से 50 वर्ष की आयु की लगभग 1 से 3 महिलाएं फाइब्रॉएड से पीड़ित होती हैं। फाइब्रॉएड का दर्द ट्यूमर के साइज और प्लेसमेंट के साथ ही इसके ग्रोथ पर भी निर्भर करता है। इस स्थिति में पेल्विक में अनचाहे दर्द का अनुभव होता है, साथ ही वेजाइना में चुभन महसूस हो सकता है।

यदि फाइब्रॉएड सर्विक्स या वेजाइनल एंड में होता है तो इस स्थिति में पेनिट्रेटिव सेक्स के दौरान चुभन महसूस हो सकता है। वहीं यदि फाइब्रॉएड यूटेराइन लाइनिंग पर प्रेशर बना रहा है, तो इस स्थिति में पीरियड्स के दौरान भी वेजाइनल पेन का अनुभव होता है। असुविधाओं से बचने के लिए समय रहते इलाज शुरू करवाएं।

how to treat vaginal problems
जानें वेजाइना में दर्द होने के कारण। चित्र : एडॉबीस्टॉक

4. वल्वर सिस्ट

यदि आपके वल्वा पर पेनफुल बम्प्स नजर आ रहे हैं, तो यह वल्वर सिस्ट हो सकते हैं, जिसे बार्थोलिन सिस्ट भी कहा जाता है। यह तब होता है जब आपकी योनी के बार्थोलिन ग्लैंड फ्लूइड से ब्लॉक हो जाते हैं। यदि बार्थोलिन सिस्ट आकार में बड़ा है तो आपको डॉक्टर से मिलकर फ्लूइड को बाहर निकलवा लेना चाहिए। वल्वर सिस्ट वेजाइनल पेन का कारण होते हैं।

5. सेक्सुअली ट्रांसमिटेड इनफेक्शन

वेजाइनल पेन के मुख्य कारणों में से सेक्सुअली ट्रांसमिटेड इनफेक्शन सबसे आम कारण है। इसके अलावा कई अन्य प्रकार के इंफेक्शन भी हैं जैसे कि यूटीआई और यीस्ट इन्फेक्शन जो कि वेजाइना के दर्द और जलन का कारण बन सकते हैं। इसटीआई फैलाने वाले बैक्टीरिया पेल्विक और पेट के निचले हिस्से में असामान्य रूप से दर्द पैदा करते हैं। साथ ही साथ यूरिन पास करते वक्त वेजाइना में भी अनचाहे दर्द का अनुभव होता है।

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें

इतना ही नहीं कई बार नियमित गतिविधियों को करते वक्त भी आपको दर्द का एहसास हो सकता है और इस स्थिति में सेक्स करना केवल दर्द को ट्रिगर नहीं करता, बल्कि परेशानी को दोगुनी तेजी से बढ़ावा देता है।

यह भी पढ़ें पीरियड्स के दौरान ज्यादातर महिलाओं के बाल और स्किन हो जाते हैं ड्राई, एक्सपर्ट से जानिए इसका कारण

  • 135
लेखक के बारे में

इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट अंजलि फूड, ब्यूटी, हेल्थ और वेलनेस पर लगातार लिख रहीं हैं। ...और पढ़ें

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
अगला लेख