पार्टनर के पेनिस से बदबू आ रही है, तो जानिए क्या हो सकती है इसकी वजह 

क्या आपको लगता है कि आपके पार्टनर के पेनिस से आजकल बहुत बदबू आ रही है? तो यह स्मेगमा के कारण हो सकता है। जानिए क्या है यह समस्या। 

smell in penis hai smegma
पार्टनर के पेनिस से बदबू आ रही है, तो यह है उनकी हाइजीन का मामला। चित्र: शटरस्टॉक
टीम हेल्‍थ शॉट्स Published on: 15 September 2022, 23:00 pm IST
  • 125

इंटिमेट रिलेशनशिप के लिए साफ-सफाई पहली शर्त है। यदि पार्टनर के शरीर से पसीने की दुर्गंध आती है, तो सेक्सुअल डिजायर की बजाय उल्टी करने का मन करने लगता है। कुछ महिलाएं ऐसी भी होंगी, जिन्होंने पार्टनर के पेनिस से आ रही बदबू (Smell in penis) को नोटिस किया होगा। ऐसी स्थिति में उनका मन आशंकाओं से भरना लाजिमी है। इंटिमेट हेल्थ विशेषज्ञ बताते हैं कि इसके पीछे स्मेगमा (Smegma) वजह हो सकती है। स्मेग्मा क्या है और यह क्यूं होता है, इसके लिए हेल्थ शॉट्स ने बात की विशेषज्ञ डॉ. श्रुति कपूर से।

 प्राइवेट पार्ट में पनपने वाली गंदगी है स्मेग्मा 

डॉ. श्रुति कपूर बताती हैं, “स्मेग्मा की समस्या किसी को भी हो सकती है। यह आमतौर पर कोई स्वास्थ्य समस्या नहीं है। यह स्किन की गंदगी है। यह सफेद और गाढ़ा एलिमेंट होता है, जो पुरुष के लिंग की स्किन के नीचे इकट्ठा हो जाता है। यह उन पुरुषों में आम है, जो अपने प्राइवेट पार्ट एरिया की अच्छी तरह सफाई नहीं करते हैं। यह समस्या महिलाओं के योनि क्षेत्र में भी हो सकती है।’

इस गंदगी में बैक्टीरिया पनप सकते हैं और बदबू भी आ सकती है। इस पर ग्रो करने वाले बैक्टीरिया पेनिस हेड में सूजन ला सकते हैं। इससे घाव भी हो सकता है।

सीबेसियस ग्लैंड हैं स्मेग्मा के लिए जिम्मेदार

लिंग और योनि में भी छोटे-छोटे ग्लैंड्स होते हैं। ये सीबेसियस ग्लैंड कहलाते हैं। इन ग्लैंड से रिसने वाला ल्यूब्रीकेंट इस एरिया को मुलायम बनाये रखने में मदद करता है। इस ग्लैंड से निकला फैटी ऑयल पसीने के साथ मिलकर स्किन पर स्मेग्मा बना देता है।

पुरुषों में पेनिस के आसपास की स्किन और पेनिस हेड के बीच स्मेग्मा क्रिएट हो जाता है। स्मेग्मा के कारण बैक्टीरिया ग्रो कर सकता है। इससे लिंग में रेड रैशेज और सूजन हो सकती है। इससे कभी-कभी दुर्गंध भी आने लगती है। यदि आपके पार्टनर के पेनिस से दुर्गंध आती है, तो उन्हें तुरंत डॉक्टर से मिलने को कहें।

महिलाओं में भी हो सकती है यह समस्या 

यह समस्या सिर्फ पुरुषों में ही नहीं, बल्कि महिलाओं में भी हो सकती है। योनि की परतों के बीच और क्लिटोरिस के आसपास इसका निर्माण हो सकता है।

vaginal health
वेजाइनल इंफेक्शन से लेकर एसटीआई तक का महिलाओं को भी हो सकती है स्मेग्मा। चित्र: शटरस्टॉक

यदि आप सावधानी पूर्वक योनि की सफाई नहीं करती हैं, तो यह इसके अंदर भी बनना शुरू हो सकता है।

टीनएजर्स को भी यह समस्या कर सकती है परेशान

स्मेग्मा की परेशानी किशोरावस्था में भी हो सकती है। इसलिए पेरेंट्स बच्चों को लिंग या योनि की सफाई करने की सीख दें। अगर उन्हें स्मेग्मा होने की आशंका है, तो उस स्थान को गुनगुने पानी से धोने को कहें। 

teenager problem
टीन एज में भी साफ-सफाई का ख्याल नहीं रखने के कारण समस्या हो सकती है। चित्र: शटरस्टॉक

बच्चे लिंग या उसकी नीचे की स्किन की सफाई रगड़कर करने की कोशिश न करें। वास्तव में छोटी उम्र में पेनिस हेड एक झिल्ली से स्किन से जुड़ा होता है। रगड़ने या खींचने से वहां दर्द हो सकता है। इससे लिंग में चोट भी लग सकती है।

स्मेग्मा से बचने लिए प्राइवेट हाइजीन में अपनाएं ये टिप्स 

स्मेग्मा को खत्म करने का सबसे अच्छा तरीका है लिंग या योनि क्षेत्र की सफाई। 

लिंग या योनि क्षेत्र को दिन में एक बार गर्म पानी से धोएं। स्किन के नीचे हल्के हाथों से सफाई करें। सफाई के लिए साबुन का उपयोग नहीं करना चाहिए। 

यदि आपके पार्टनर साबुन से सफाई करना चाहते हैं, तो उन्हें माइल्ड साबुन के प्रयोग की सलाह दें। 

कभी-भी उस एरिया को स्क्रब न करें। 

हार्ड क्लींजर, सुगंधित क्लींजर या टैल्कम पाउडर के प्रयोग से बचना चाहिए। 

दिन में एक से अधिक बार साबुन न लगाएं। 

स्मेग्मा न हो, इसके लिए योनि और लिंग क्षेत्र की नियमित रूप से सफाई जरूरी है।

यह भी पढ़ें:-सेक्स प्लेज़र बढ़ाने के अलावा, यौन रोगों से भी बचाता है कम्युनिकेशन, यहां जानिए कैसे 

  • 125
लेखक के बारे में
टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
nextstory