आपने आखिरी बार अपना अंडरवियर कब बदला था? जानिए कितने समय पर अंडरवियर बदलना है हेल्दी

Published on: 26 December 2021, 21:30 pm IST

आलस्य हमारे आधुनिक जीवन पर राज करता है और अपने अंडरवियर को फिर से पहनना आम बात है। लेकिन इंटिमेट हेल्थ के लिए जानिए कि कितनी बार पैंटी बदलना जरूरी है।

in tips ke saath panty ko rakhen clean
इन स्टेप्स के साथ अपनी पैंटी को रखें बेदाग।चित्र:शटरस्टॉक

लंबे ऑफिस के घंटों, जिम या घर पर रहते समय भी आप बिना पैंटी के अधूरा महसूस करती हैं। लेकिन सर्दियों का आलस और न नहाने वाला रूटीन आपकी इंटिमेट हेल्थ को प्रभावित करता है। यदि विंटर में आप कुछ दिनों के अंतराल में नहाना पसंद करते हैं, तो आपके अंडरवियर का क्या? क्या नहीं नहाने के बावजूद आप इसे बदलती हैं? या आलस के कारण आप इसे ज्यादा से ज्यादा दिनों तक चलाने की कोशिश करते हैं? अगर आपके मन में यह सवाल है कि कितने समय या दिनों के अंदर अंडरवियर बदलना हेल्दी है, तो हम लाएं हैं उसका जवाब। 

विशेषज्ञ बता रहें हैं पैंटी बदलने का सही समय 

तराने नाज़ेम, एमडी, रिप्रोडक्टिव एंडोक्रिनोलॉजिस्ट और इन्फर्टिलिटी एक्सपर्ट बताती हैं कि यदि आप सक्रिय जीवन जीते हैं, तो प्रतिदिन दो बार अपने अंडरवियर को बदलना अच्छा विचार है। यह आपके इंटिमेट हेल्थ के लिए एक आदर्श विकल्प है। यह संक्रमण के जोखिम को कम करने के लिए एक आवश्यक कदम है। 

डॉक्टर नाज़ेम कहती हैं, “अंडरवियर न बदलने या लंबे समय तक पहने रहने से योनि के आसपास नमी का निर्माण हो सकता है। जो महिलाओं में यीस्ट इन्फेक्शन और त्वचा की जलन के विकास का कारण बनता है।” 

Synthetic underwear kam pehne
सिंथेटिक अंडरवियर कम पहने। चित्र: शटरस्‍टॉक

वह कहती हैं, “अंडरगारमेंट बदलना एक लाइनर या पैड पहनने से बेहतर होते हैं। क्योंकि इससे अतिरिक्त जलन और झनझनाहट हो सकती है। कम बार पैंटी बदलने से बैक्टीरिया का संचय और अप्रिय योनि दुष्प्रभाव, जैसे बैक्टीरियल वेजिनोसिस हो सकता है।”

डॉ नाज़ेम कहती हैं, “सोने से पहले या शॉवर के बाद अंडरवियर का एक नया सेट पहनना चाहिए। आप उसी जोड़ी को दोबारा रिपीट नहीं कर सकती। कसरत के लिए, आप ऐसे अंडरवियर पहनने पर विचार कर सकती हैं जो अच्छी तरह से फिट हों और नमी को सोंख लें। जैसे आप कसरत के बाद अपने पसीने वाले जिम के कपड़े बदलते हैं, वैसे ही आपके अंडरवियर को भी बदला जाना चाहिए।”

वह कहती हैं,”अंडरवियर को ठीक से धोने के बाद भी समय के साथ बैक्टीरिया जमा हो सकते हैं। इसलिए गंदगी की मात्रा के आधार पर अंडरवियर को पूरी तरह से नए सेट से बदलना सार्थक हो सकता है। सामान्य तौर पर, अपने कपड़ों की पर्याप्त और बार-बार धुलाई के बावजूद, आपको अत्यधिक बैक्टीरिया के निर्माण से बचने के लिए लगभग हर छह महीने में अपने वॉर्डरोब को ताज़ा करना चाहिए।” 

Intimate hygiene ke liye sex ke baad panty badle
इंटीमेट हाइजीन बनाए रखने के लिए सेक्स के बाद अंजरवेयर निकालें। चित्र : शटरस्‍टॉक

अंडरगारमेंट्स से संबंधित कुछ विशेष टिप्स 

  • अंडरगारमेंट्स के साथ सही फिट होना भी उतना ही जरूरी है जितना की उनके ऊपर पहनने वाले कपड़ों के साथ। 
  • अपने कपड़े के साथ पहनने वाले अंडरवियर का रंग उचित रूप से चुनें। 
  • बाजार में उपलब्ध डिजाइन और सिंथेटिक कपड़ों से बने अंडरवियर को कम से कम पहनें। यह जेनिटल एरिया को काला करने और दुर्गंध पैदा कर सकता है। 
  • अपने आउटफिट के हिसाब से अंडरवियर का चयन करें। लो वेस्ट जींस के साथ हाई वेस्ट पैंटी पहनना ठीक वैसा है जैसे ब्रा की पट्टियों का खुलासा करना।  
  • ज्यादा समय तक कॉटन पैंटी पहनने की ही कोशिश करें। यह वजाइनल एरिया में हवा आने देता है जिससे बैक्टीरिया के पनपने का जोखिम कम होता है। 

यह भी पढ़ें:पेन किलर नहीं, इस बार पीरियड्स में मास्टरबेशन ट्राई कीजिए, एक्सपर्ट बता रहे हैं क्यों

अदिति तिवारी अदिति तिवारी

फिटनेस, फूड्स, किताबें, घुमक्कड़ी, पॉज़िटिविटी...  और जीने को क्या चाहिए !

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स
पीरियड ट्रैकर के साथ।

ट्रैक करें