इंटरकोर्स के बाद योनि में खुजली के लिए जिम्मेदार हो सकते हैं ये 5 कारण, जानें इससे राहत का तरीका

आज हम जानेंगे आखिर वेजाइनल इचिंग क्यों होता है और इसके पीछे क्या कारण जिम्मेदार हैं। इसके कारण समझने के बाद आप उन्हे अवॉइड कर अपनी इस परेशानी को कंट्रोल कर सकती हैं।
jaane intercourse ke baad kyu hoti hai vaginal itching.
वेजाइनल हेल्थ मेन्टेन करना है जरुरी. चित्र : एडॉबीस्टॉक
अंजलि कुमारी Published: 19 Feb 2024, 09:00 pm IST
  • 124

बहुत सी महिलाओं को सेक्सुअल एक्टिविटी खासकर इंटरकोर्स के बाद इचिंग का अनुभव होता है। क्या आप भी इन्ही में से एक हैं? अगर आपके साथ अधिक फ्रिक्वेंटली ऐसा होता है, तो आपको इसपर ध्यान देने की आवश्यकता है। अन्यथा आपकी ये समस्या बाद में किसी गंभीर परेशानी का रूप ले सकती है। आज हम जानेंगे आखिर ऐसा क्यों होता है और इसके पीछे क्या कारण जिम्मेदार हैं। इसके कारण समझने के बाद आप उन्हे अवॉइड कर अपनी इस परेशानी को कंट्रोल कर सकती हैं।

हेल्थ शॉट्स ने इंटरकोर्स के बाद वेजाइनल इचिंग के कारण जानने के लिए सी के बिरला हॉस्पिटल, गुरुग्राम की ऑब्स्ट्रक्ट्रिक्स और गायनेकोलॉजी डिपार्टमेंट की लीड कंसलटेंट डॉक्टर आस्था दयाल से बात की। डॉक्टर ने इसके कुछ कॉमन कारणों पर बात की है (vaginal itching), तो चलिए जानते हैं इस बारे में अधिक विस्तार से।

जानें इंटरकोर्स के बाद क्यों होती है वेजाइनल इचिंग (vaginal itching)

1. लेटेक्स एलर्जी

लेटेक्स एलर्जी लेटेक्स में पाए जाने वाले प्रोटीन के प्रति एक प्रतिक्रिया है। यदि आपको लेटेक्स से एलर्जी है, तो कंडोम सहित लेटेक्स युक्त किसी भी उत्पाद के संपर्क में आने के बाद आपको इचिंग का अनुभव हो सकता है। यदि आपको लेटेक्स कंडोम से एलर्जी है, तो आपके इचिंग के लक्षण हल्के से लेकर गंभीर हो सकते हैं। यह इस बात पर निर्भर करता है कि आप कितने संवेदनशील हैं और लेटेक्स के साथ आपका कितना संपर्क है।

baad kyu hoti hai vaginal itching
उन्हे अवॉइड कर अपनी इस परेशानी को कंट्रोल कर सकती हैं। चित्र : एडॉबीस्टॉक

2. वेजाइनल ड्राइनेस

सेक्स के बाद खुजली का एक बेहद कॉमन कारण है ड्राइनेस। इससे वेजाइना की त्वचा पूरी तरह से ड्राई हो जाती है। ऐसा तब होता है जब वेजाइनल वॉल्स को चिकना करने के लिए पर्याप्त लुब्रिकेंट प्रोड्यूस नहीं होता है। कुछ लोगों की त्वचा स्वाभाविक रूप से ड्राई होती है, या उनमें एक्जिमा जैसी त्वचा संबंधी समस्या होती है। अधिक धोने या साबुन जैसे सेंटेस प्रोडक्ट्स का उपयोग करने से भी त्वचा ड्राई हो सकती है। ड्राई स्किन पर इचिंग हो सकता है। इससे सेक्स के दौरान जलन और झनझनाहट का खतरा भी बढ़ जाता है।

यह भी पढ़ें: सेल्फ लव या पार्टनर सेक्स, वाइब्रेटर के सुरक्षित इस्तेमाल के लिए इन 5 बातों का रखें खास ध्यान

3. फ्रिक्शन

एक्सपर्ट के अनुसार जब आप सेक्स करती हैं, तो यह घर्षण और जलन पैदा कर सकता है, जिससे वेजाइना में खुजली हो सकती है। ल्यूब्रिकेंट की कमी से इसका खतरा अधिक बढ़ जाता है। योनि अपनी नेचुरल ल्यूब्रिकेंट पैदा कर सकती है, लेकिन कुछ महिलाएं ऐसा करने में सक्षम नहीं होती, जैसे की मेनोपॉजल महिलाएं।

4. बैक्टीरियल वेजिनोसिस

योनि में हानिकारक बैक्टीरिया के ग्रोथ से बैक्टीरियल वेजिनोसिस हो सकता है, जिसके परिणामस्वरूप खुजली के साथ-साथ फिशी स्मेल और वेजाइनल डिस्चार्ज भी हो सकता है। अनप्रोटेक्ट सेक्स से इसका जोखिम और ज्यादा बढ़ जाता है। ऐसे में इंटरकोर्स के बाद वेजाइना में अधिक जलन और खुजली का एहसास हो सकता है।

baad kyu hoti hai vaginal itching
इसके कारण समझने के बाद आप उन्हे अवॉइड कर अपनी इस परेशानी को कंट्रोल कर सकती हैं। चित्र : एडॉबीस्टॉक

5. स्पर्म एलर्जी

स्पर्म एलर्जी ज्यादातर महिलाओं को प्रभावित करती है और इसे स्पर्म एलर्जी या सेमिनल प्लाज्मा सेसिटिविटी भी कहा जाता है। सीमेन में मौजूद प्रोटीन से शरीर के किसी भी हिस्से में एलर्जी की समस्या हो सकती है। स्पर्म के साथ संपर्क में आने वाले अंग जैसे की वेजाइना, त्वचा और मुंह शामिल हैं। इसके लक्षण शारीरिक संपर्क के 10 से 30 मिनट के अंदर नजर आना शुरू हो जाते हैं।

जानें इस स्थिति में क्या करना है:

इंटरकोर्स के बाद इचिंग को अवॉइड करने के लिए प्रॉपर हाइजीन मेंटेन करें। इसमें प्री और पोस्ट सेक्सुअल हाइजीन भी शामिल है, ताकि सभी प्रकार के संक्रमण का खतरा सीमित रहे। इसके अलावा यदि आपको इंटरकोर्स के बाद इचिंग महसूस हो रहा है, तो गुनगुने पानी से शॉवर लेने से आपको राहत मिल सकती है। साथ ही साथ सेक्स के बाद और पहले पर्याप्त मात्रा में पानी पिएं, जिससे की बॉडी में हाइड्रेशन मेंटेन रहे। वहीं सेक्स के बाद यूरिन पास करना भी बहुत जरूरी है, इससे संक्रमण का खतरा लगभग 50% तक कम हो जाता है।

यह भी पढ़ें: झगड़ा सुलझाने के लिए लेते हैं सेक्स का सहारा? तो जानिए आपके रिश्ते पर क्या होता है मेकअप सेक्स का असर

  • 124
लेखक के बारे में

इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट अंजलि फूड, ब्यूटी, हेल्थ और वेलनेस पर लगातार लिख रहीं हैं। ...और पढ़ें

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
अगला लेख