ये 4 कारण हो सकते हैं पेशाब करते समय जलन, खुजली या दर्द के लिए जिम्मेदार, एक्सपर्ट बता रहीं हैं सब कुछ

योनि सबसे संवेदनशील अंग है। यहां कोई छोटी सी समस्या भी आपके लिए असहज स्थिति का कारण बन सकती है।

itching
जानिए क्या है खुजली की वजह। चित्र: शटरस्टॉक
ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ Published on: 17 August 2022, 22:00 pm IST
  • 125

वेजाइना के साथ वेजाइनल हाइजीन से जुड़ी समस्याएं जीवन भर चलती रहती हैं। वेजाइनल एरिया में जलन, खुजली इरिटेशन यह सब ऐसी समस्याएं हैं, जो आपको बैठे – बिठाए भी हो सकती हैं। अकसर सामान्य समझकर इग्नोर की जाने वाली ये समस्याएं कभी-कभी गंभीर परेशानी का कारण भी बन सकती हैं। जैसे – पेशाब करते समय तेज़ जलन या खुजली होना। कभी-कभी यह डिसुरिया संक्रमण (Dysuria Infection) का भी संकेत हो सकता है। आइए जानें इस बारे में सब कुछ।

योनि आपके शरीर का सबसे संवेदनशील हिस्सा है। यहां हल्की परेशानी भी आपको असहज कर सकती है। इसलिए जरूरी है कि आप इसके कारणों पर ध्यान दें और समय रहते उपचार करें। आइए जानें क्या हों सकते हैं पेशाब में जलन और खुजली के कारण।

इस बारे में और जानने के लिए हमने मदरहुड हॉस्पिटल, पुणे की सलाहकार प्रसूति एवं स्त्री रोग विशेषज्ञ स्वाति गायकवाड़ से बात की। स्वाति कहती हैं, ”पेशाब करते समय दर्द होना एक गंभीर स्वास्थ्य स्थिति का संकेत हो सकता है।”

डॉ. गायकवाड़ के अनुसार, यह डिसुरिया संक्रमण (Dysuria Infection) का संकेत हो सकता है, जिसे ठीक करने के लिए सही उपचार की आवश्यकता होती है। बहुत सी महिलाएं जीवन में कम से कम एक बार इस असुविधा का अनुभव ज़रूर करती हैं।

जानिए क्या है डिसुरिया?

क्लीवलैंड क्लीनिक के अनुसार डिसुरिया संक्रमण (Dysuria Infection) का मतलब है कि जब आपको पेशाब करते समय दर्द या जलन महसूस हो। किसी भी उम्र के पुरुष और महिलाएं डिसुरिया का अनुभव कर सकते हैं, लेकिन यह महिलाओं में अधिक आम है। मूत्र पथ के संक्रमण आमतौर पर डिसुरिया से जुड़े होते हैं।

bar bar peshab aana bhi iska ek samanye lakshan ho sakta hai
बार-बार पेशाब आना भी इन्फेक्शन का एक सामान्य लक्षण हो सकता है। चित्र: शटरस्टॉक

पेशाब में जलन डिसुरिया का सबसे आम लक्षण है, लेकिन दर्द के लक्षण पुरुषों और महिलाओं में अलग-अलग हो सकते हैं। महिलाओं में इसके लक्षण इंटर्नल या एक्सटर्नल हो सकते हैं। आपके योनि क्षेत्र के बाहर दर्द इस संवेदनशील त्वचा की सूजन या जलन के कारण हो सकता है। ये सभी लक्षण मूत्र पथ संक्रमण की ओर इशारा करते हैं।

पेशाब में जलन और खुजली के लिए ये समस्याएं भी हो सकती हैं जिम्मेदार

1 यौन संचारित संक्रमण (STI)

दर्दनाक पेशाब और जननांग खुजली, क्लैमाइडिया या गोनोरिया जैसे यौन संचारित संक्रमण के लक्षण हो सकते हैं। क्लैमाइडिया और गोनोरिया दोनों आसानी से इलाज योग्य हैं। डॉ. गायकवाड़ के अनुसार योनि में खुजली और जलन भी वेजिनाइटिस का परिणाम हो सकता है। सामान्य जलन जो यीस्ट संक्रमण के कारण हो सकती है। इसलिए ऐसा कुछ भी होने पर अपनी जांच कारवाएं।

2 यूरिनरी ट्रेक्ट इन्फेक्शन (UTI)

डॉ. गायकवाड़ के अनुसार यूटीआई के कारण भी पेशाब करते समय जलन और खुजली हो सकती है। जब बैक्टीरिया मूत्रमार्ग के संपर्क में आता है और मूत्राशय में प्रवेश करता है, जिसकी वजह से यह संक्रमण का कारण बनता है। आपको जलन का अनुभव होता है, जब बैक्टीरिया की वृद्धि होती है जो मूत्र को एसिडिक बनाती है।

3 योनि में संक्रमण (Vaginal Infection)

चूंकि योनि का द्वार मूत्रमार्ग के करीब होता है, इसलिए योनि संक्रमण वाले रोगियों को पेशाब के साथ जलन का अनुभव हो सकता है। सामान्य योनि संक्रमण जो डिसुरिया का कारण बनते हैं उनमें यीस्ट संक्रमण, बैक्टीरियल वेजिनोसिस और ट्राइकोमोनास शामिल हैं।

यदि आप भी आजकल पेशाब के दौरान जलन और खुजली का अनुभव कर रही हैं तो तुरंत अपने डॉक्टर को दिखाएं।

dahi aapke probiotics ke liye achcha hai
दही आपके प्रोबायोटिक्स के लिए अच्छा है। चित्र: शटरस्टॉक

क्या करें जब ऐसा हो?

प्रोबायोटिक्स लें

डिसुरिया बैक्टीरिया और फंगल संक्रमण का परिणाम होता है। प्रोबायोटिक्स में स्वस्थ बैक्टीरिया होते हैं जो आपके शरीर को ऐसे संक्रमणों से लड़ने में मदद करते हैं। इसके अलावा, यह एंटीबायोटिक दवाओं जैसी दवाओं के दुष्प्रभावों से बचने में भी आपकी मदद कर सकते हैं। इसलिए आप दही का सेवन करें।

आहार में विटामिन C लें

यह आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देगा और आपके शरीर को सभी संक्रमणों से लड़ने में मदद करेगा। खट्टे फलों के अलावा, आप अपने आहार में अन्य विटामिन सी से भरपूर फल और सब्जियां भी शामिल कर सकते हैं। तो, स्ट्रॉबेरी, कीवी, पपीता, अमरूद, अनानास, आम और ब्रोकोली का सेवन करें। ये सभी खाद्य पदार्थ विटामिन C से भरपूर होते हैं।

यह भी पढ़ें : सेक्स प्लेज़र बढ़ाने के अलावा, यौन रोगों से भी बचाता है कम्युनिकेशन, यहां जानिए कैसे 

  • 125
लेखक के बारे में
ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
nextstory