वैलनेस
स्टोर

सर्दियों में इंटिमेट हाइजीन को नजरअंदाज करना हो सकता है जोखिम भरा, जानिए कैसे रखना है अपना ख्‍याल

Published on:24 January 2021, 14:30pm IST
अगर आप भी सर्दियों में अपनी इंटीमेट हाइजीन के प्रति लापरवाह हो रहीं हैं, तो आपको जानने चाहिए इसके दुष्‍प्रभाव।
ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ
  • 91 Likes
आलस छोड़ें और अपनी इंटीमेट हाइजीन का ख्‍याल रखें। चित्र: शटरस्‍टॉक

सर्दियां आते ही हम आलसी हो जाते हैं और ठण्ड के कारण नहाना छोड़ देते हैं। यहां तक कि कई दिनो तक एक ही कपड़े पहने रहते हैं। ऐसा करना स्वास्थय के लिए हानिकारक साबित हो सकता है। अगर आप भी सर्दियों में आलस के चलते अपने अंडर गारमेंट्स नहीं बदलती,  तो इसका आपकी इंटिमेट हेल्थ पर काफी बुरा प्रभाव पढ़ सकता है।

पर्सनल हाइजीन का एक अहम पहलू इंटिमेट हाइजीन भी है। इंटिमेट हाइजीन बनाए रखना महिलाओं के लिए बेहद जरूरी है, न केवल स्वच्छ और फ्रेश महसूस करने के लिए, बल्कि यूटीआई UTI (Urinary Tract Infection) जैसी गंभीर समस्याओं से बचने के लिए भी बेहद जरूरी है।

हमारे शरीर के प्राइवेट एरिया में मौजूद टिश्‍यु के कारण, हाइजीन की अनदेखी या जरूरत से ज्यादा साफ करना भी जलन और इंफेक्‍शन दे सकता हैं।

अगर आप भी इंटीमेट हाइजीन के प्रति लापरवाह हैं, तो आपको उठानी पड़ सकती हैं ये समस्‍याएं 

1 प्राइवेट एरिया में दुर्गंध की समस्या:

अगर आप रोज़ अपने अंडर गारमेंट्स नही चेंज करती हैं, तो आप अपनी इंटिमेट हेल्थ के साथ खिलवाड़ कर रही हैं। वाइट डिस्चार्ज के कारण अंडर वियर में नमी पैदा हो सकती है जिसकी वजह से वेजाइना में बैक्टीरियल या फंगल इन्‍फेक्‍शन होने के चांस बढ़ जाते हैं। इस वजह से इंटिमेट एरिया में दुर्गंध आने लगती है, जो आपके लिए काफी नुकसानदायक हो सकती है।

इससे आपके प्राइवेट एरिया में दुर्गंध आने लगती है। चित्र: शटरस्‍टॉक
इससे आपके प्राइवेट एरिया में दुर्गंध आने लगती है। चित्र: शटरस्‍टॉक

2 रैशेज की समस्या:

रोजाना अंडरवियर चेंज न करने से गंदगी, पसीने के कारण वेजाइना के आसपास लाल रंग के मुंहासे या रैशेज होने लगते हैं। यह शरीर के लिए काफी दर्दनाक हो सकता है। इसके लिए जरूरी है कि आप अपने इंटिमेट एरिया को हमेशा साफ रखें।

3 संक्रमण होने का खतरा:

सर्दियों के मौसम में ज़्यादातर महिलाओं में यीस्ट इन्फेक्शन होने का खतरा काफी बढ़ जाता है। इसके पीछे की एक वजह अंडर गारमेंट्स को चेंज न करना और इंटिमेट एरिया को साफ न रखना है। गंदे अंडर वियर पहनने से संक्रमण का खतरा काफी बढ़ जाता है। इससे इंटिमेट एरिया के आसपास जलन, और दर्द होने लगता है।

इन समस्‍याओं से बचने के लिए आप फॉलो कर सकती हैंं ये टिप्‍स

दिन में 2 बार इंटिमेट एरिया को हल्‍के गुनगुने पानी से साफ करें। वेजाइना खुद को नैचुरली साफ़ रखने में सक्षम है। इसीलिए ध्‍यान रखें कि दिन में 2 बार से ज्‍यादा करना जलन, खुजली और ड्राईनेस को बढ़ावा दे सकता है।

घर पर आरामदायक कपड़ों में काम करना आपकी इंटीमेट हेल्‍थ के लिए भी अच्‍छा है। चित्र: शटरस्‍टॉक

वहां की त्वचा पर हार्ड वॉटर, हार्श साबुन आदि का इस्तेमाल न करें। हमेशा माइल्‍ड प्रोडक्ट का इस्तेमाल करें।

हमेशा साफ अंडरवियर पहनें और रोज़ बदलें। इंटिमेट हाइजीन के लिए ये सबसे आसान काम है और इसके दूरगामी प्रभाव देखने को मिलते है।

पीरियड्स के दौरान, सैनिटरी पैड / टैम्पोन को हर 5 से 6 घंटे में बदलें।

ऐसे कपड़े न पहनें जो बहुत टाइट हों। इससे जलन होने लगती है और यह इस एरिया में ब्‍लड सर्कुलेशन को भी प्रभावित करता है। हमेशा कॉटन से बने अंडरवियर पहनें।

इंटिमेट हाईजीन शारीरिक स्‍वच्‍छता का एक एहम हिस्सा है इसलिए इसे बिलकुल भी नजरंदाज न करे..

यह भी पढ़ें – क्या आपकी योनि को भी एक्सफोलिएशन की जरूरत होती है? जानिए इस बारे में सब कुछ

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।