गाइनोकोलॉजिस्ट बता रहीं हैं वे 4 गंभीर स्थितियां जब नॉर्मल नहीं है पीरियड्स का दर्द

पीरियड्स का दर्द सामान्य है, लेकिन अगर यह आपकी दिनचर्या को प्रभावित कर रहा है तो यह चिंता की बात है। जानिए क्यों।
पीरियड्स में ज्‍यादा दर्द होना सामान्‍य नहीं है। चित्र: शटरस्‍टॉक
पीरियड्स में ज्‍यादा दर्द होना सामान्‍य नहीं है। चित्र: शटरस्‍टॉक
टीम हेल्‍थ शॉट्स Updated: 10 Dec 2020, 01:38 pm IST
  • 78

अधिकांश महिलाओं को पीरियड्स के दौरान बहुत दर्द होता है और उन्हें बहादुरी से इस दर्द को सहन करना पड़ता है। इस दर्द से राहत पाने के लिए हम गर्म पानी की बोतल से लेकर अदरक वाली चाय जैसे घरेलू नुस्खों का सहारा लेते हैं। लेकिन कई बार पीरियड्स के कारण होने वाला दर्द सामान्य नहीं होता।

इसमें कोई संदेह नहीं है कि पीरियड्स का दर्द हमारे जीवन का एक हिस्सा है और हमें इसके साथ ही जीना सीखना होता है। लेकिन अगर दर्द के कारण आपको बिस्तर से उठने में भी तकलीफ होने लगे तो यह सामान्य नहीं है। यह किसी छुपी हुई बीमारी का संकेत हो सकता है।

इसे समझने के लिए हमने बात की नई दिल्ली के फोर्टिस अस्पताल की सीनियर ऑब्स्टट्रिशन और गाइनोकोलॉजिस्ट डॉ उमा वैद्यनाथन से। वह बताती हैं कि अगर पीरियड्स के दर्द के यह चार प्रभाव हैं, तो आपको डॉक्टर को दिखाने की आवश्यकता है।

1. अगर यह आपके जीवन को बाधित कर रहा है

डॉ वैद्यनाथन कहती हैं,”क्या पीरियड्स के कारण आपको ऑफिस से छुट्टी लेनी पड़ती है या आपका रूटीन प्रभावित होता है? अगर हां तो यह गम्भीर है और आपको डॉक्टर से मिलना चाहिए।” अगर आपका दर्द आपके जीवन पर असर डाल रहा है तो आपको मदद की जरूरत है।

अगर दर्द आपके डेली रूटीन को बाधित कर रहा है तो डॉक्‍टर से सलाह लें। चित्र: शटरस्टॉक।
अगर दर्द आपके डेली रूटीन को बाधित कर रहा है तो डॉक्‍टर से सलाह लें। चित्र: शटरस्टॉक।

2. आपको दर्द की दवाओं से भी कोई फायदा नहीं मिलता

पीरियड क्रैम्प्स के लिए दवा लेना सामान्य सी बात है। इस तरह की दवा पूरे दिन के लिए आपको राहत दे सकती हैं। लेकिन अगर इन दवाओं का आपके दर्द पर कोई असर नहीं होता तो यह चिंता की बात है। यही नहीं, अगर आप बहुत भारी डोज की दवा लेती हैं क्योंकि नॉर्मल डोज असर नहीं करती तो यह भी चिंताजनक है।” अगर दवा आप पर असर न करे, तो तुरन्त डॉक्टर से मिलें”, कहती हैं डॉ वैद्यनाथन।

3. आपको पेल्विक हिस्से में असहज महसूस होता है

पीरियड्स का दर्द सिर्फ लोअर एब्डोमेन तक सीमित न रहकर पूरे कमर के हिस्से में होता है। यह सामान्य है। लेकिन अगर बिना पीरियड्स भी आपको कमर में दर्द है तो डॉक्टर को दिखाएं। डॉ वैद्यनाथन कहती हैं,”हर वक्त दर्द रहना या सेक्स के दौरान दर्द होना सामान्य नहीं है। इसलिए ऐसा होने पर मदद लें।”

पीरियड्स में पेट दर्द होने पर आप अदरक की चाय का उपयोग कर सकते है- शटरस्टॉक।
पीरियड्स में पेट दर्द होने पर आप अदरक की चाय का उपयोग कर सकते है- शटरस्टॉक।

4. आपके क्रैम्प्स सामान्य से अलग हो रहे हैं

अगर आपको इस बार दर्द हर बार से अलग हो रहा है तो यह भी चिंता की बात है। “तेज दर्द होने का मुख्य कारण एंडोमेट्रियोसिस ही है। एंडोमेट्रियोसिस में यूटेराइन लाइनिंग के सेल्स में समस्या आती है। इस स्थिति में जल्द से जल्द डॉक्टर से सलाह लें”, कहती हैं डॉ वैद्यनाथन।

इसमें कोई शक नहीं कि पीरियड्स दर्दनाक होते हैं और हम इन्हें बहुत नापसंद करते हैं। लेकिन अगर इसका असर जीवन पर पड़े तो तुरन्त गाइनोकोलॉजिस्ट की मदद लें।

यह भी पढ़ें – सेलिब्रेटिंग पीरियड्स : सच्‍ची सहेली ने किया नवरात्रि में एक अनोखा कन्‍या पूजन

  • 78
लेखक के बारे में

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं। ...और पढ़ें

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
अगला लेख