बेहद संवेदनशील होती है वेजाइना की त्वचा, वेजाइनल कट को अवॉयड करने में मदद करेंगे ये 5 टिप्स

इचिंग होने पर या सेक्सुअल एक्टिविटी के दौरान वेजाइनल कट लगने का खतरा अधिक होता है। बरती गई छोटी सी भी लापरवाही वेजाइनल कट का कारण बन सकती है, जो बेहद दर्दनाक होते हैं। साथ ही इनसे संक्रमण का खतरा भी बढ़ जाता है।
vaginal health
यहां जानिए वेजाइनल कट को कैसे अवॉयड करना है। चित्र : शटरस्टॉक
अंजलि कुमारी Published: 6 Aug 2023, 08:00 pm IST
  • 124

वेजाइना शरीर के संवेदनशील अंगों में से एक है अन्य अंगों की तुलना में इसे अधिक देखभाल की आवश्यकता होती है। आपकी छोटी सी भूल इसे गंभीर रूप से संक्रमित कर सकती है। वहीं वेजाइना की त्वचा बेहद मुलायम और पतली होती है, जिसकी वजह से इचिंग होने पर या सेक्सुअल एक्टिविटी के दौरान वेजाइनल कट लगने का खतरा अधिक होता है। बरती गई छोटी सी भी लापरवाही वेजाइनल कट का कारण बन सकती है, जो बेहद दर्दनाक होते हैं। साथ ही इनसे संक्रमण का खतरा भी बढ़ जाता है।

इन्हीं बातों को ध्यान में रखते हुए आज हेल्थ शॉट्स आपके लिए लेकर आया वेजाइनल कट को अवॉइड करने के कुछ जरूरी टिप्स। तो चलिए जानते हैं हाइजीन और सेक्सुअल एक्टिविटी के साथ ही इचिंग होने पर किन बातों को ध्यान में रखते हुए आप अपनी वेजाइना में कट लगने से बचा सकती हैं (how to avoid vaginal cut)।

जानें वेजाइनल कट को किस तरह अवॉयड करना है (how to avoid vaginal cut)

1. लुब्रिकेशन है जरूरी

पेनिट्रेटिव सेक्स के दौरान खासकर यदि आपकी वेजाइना पूरी तरह से लुब्रिकेटेड नहीं है, तो वेजाइना में कट आने की संभावना अधिक होती है। हमेशा पर्याप्त मात्रा में लुब्रिकेशन का इस्तेमाल करना चाहिए ताकि पेनिट्रेशन के दौरान वेजाइनल स्किन पर किसी प्रकार का खिंचाव महसूस न हो और इसमें कट न आए। ल्युब्रिकेशन के लिए आपको बाजार से केमिकल युक्त लुब्रिकेंट खरीदने की आवश्यकता नहीं है, नेचुरल ऑयल जैसे कि कोकोनट ऑयल का इस्तेमाल कर सकती हैं।

vaginal summer care
योनि स्वास्थ्य का ध्यान रखें। चित्र : एडॉबीस्टॉक

2. ट्रीमिंग और शेविंग की प्रक्रिया पर ध्यान दें

प्यूबिक हेयर को शेव और ट्रिम करते वक्त भी कट लगने की आशंका होती है। अमेरिकन एकेडमी ऑफ डर्मेटोलॉजी द्वारा वेजाइनल कट को अवॉइड करने के लिए कुछ प्रभावित टिप्स सुझाए गए हैं। इस स्थिति से बचने के लिए सबसे पहले शेविंग के दौरान अपने दिमाग को पूरी तरह से केंद्रित रखें। शेविंग के वजाय हमेशा प्यूबिक हेयर को ट्रिम करने की कोशिश करें।

यदि फिर भी शेविंग कर रही हैं तो पहले त्वचा को पूरी तरह से गिला कर लें इसके साथ ही शेविंग क्रीम याद जेल का इस्तेमाल करें। हेयर ग्रोथ के डायरेक्शन में रेजर को चलाएं। कट्स को अवॉइड करने के लिए खड़े होकर शेविंग करें बैठ कर या लेट कर नहीं।

3. वैक्सिंग के दौरान रहे अधिक सचेत

वैक्सिंग के दौरान वेजाइनल कट और टियर्स से बचने के लिए अपने इंटिमेट एरिया को पूरी तरह से साफ और ड्राई कर लें। अब वैक्स को हेयर ग्रोथ के डायरेक्शन में अप्लाई करें और फिर ग्रोथ के उल्टे डायरेक्शन में इसे निकालें। वहीं परेशानी से बचने के लिए वैक्स लगाते और इसे निकालते वक्त त्वचा को जितना हो सके उतना टाइट रखने की कोशिश करें।

यह भी पढ़ें : PMS : प्रीमेंस्ट्रुअल सिंड्रोम असहनीय हो रहा है, तो अपने आहार में रखें इन 7 चीजों का ध्यान

4. सेक्सुअल पोजिशन का भी रखें ध्यान

कई बार हम कुछ ऐसे सेक्सुअल पोजीशन में होते हैं जिसमें वजाइना की त्वचा पर अधिक खिंचाव पैदा होता है और इस वजह से वेजाइना में कट लग सकता है। इसके अलावा कई बार कुछ सेक्सुअल एंगल्स में त्वचा पर अधिक फ्रिक्शन होता है या अधिक जोर पड़ता है जिसकी वजह से भी त्वचा में कट लग सकता है।

ऐसे में सबसे महत्वपूर्ण है पर्याप्त मात्रा में ल्यूब का इस्तेमाल करना इसके अलावा यदि किसी सेक्सुअल पोजीशन में आपकी वेजाइना की त्वचा खींच रही है, तो फौरन रुक जाए और पोजीशन चेंज करें।

sex position
सेक्स पोजीशन पर भी ध्यान देना जरुरी है. चित्र : एडॉबीस्टॉक

5. वजाइनल एस्ट्रोजन

मेनोपॉज के बाद महिलाओं में एस्ट्रोजन का स्तर तेजी से गिरता है, जिसकी वजह से वेजाइनल ड्राइनेस की समस्या हो सकती है। इस स्थिति में सेक्सुअल एक्टिविटी या वेजाइनल टिशू के अधिक ड्राई होने के कारण थोड़ी सी भी इचिंग होने पर वेजाइनल कट आ सकता है। इसके लिए आपको डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए साथ ही रिकमेंडेड क्रीम, टेबलेट इत्यादि का नियमित इस्तेमाल करना चाहिए।

6. वेजाइना को क्लीन करते वक्त रहे सचेत

वेजाइना को क्लीन करते वक्त आपको अधिक सचेत रहने की आवश्यकता होती है। वेजाइना की त्वचा बेहद संवेदनशील होती हैं, ऐसे में इसे अधिक तेजी से रगड़ कर साफ़ करना या केमिकल युक्त हॉर्स साबुन और बॉडी वॉश आदि का इस्तेमाल करना वेजाइनल कट का कारण बन सकता है। वहीं वेजाइनल स्किन को नाखूनों से बचाएं क्योंकि नाखून वेजाइनल कट का कारण बनते हैं।

7. मास्टरबेशन के दौरान रखें विशेष ध्यान

मास्टरबेशन और फिंगरिंग करते हुए अक्सर महिलाएं वेजाइनल कट का सामना करती हैं। इसलिए नम्रता से धीमे-धीमे क्लिटोरी रब करना और फिंगरिंग जैसी गतिविधियां करें। साथ ही अपने नाखून को समय-समय पर काटती रहें और फिंगरिंग करने से पहले हाथ को अच्छी तरह वॉश करे। ऐसा न करने से संक्रमण के साथ-साथ वेजाइनल कट का खतरा भी बना रहता है।

यह भी पढ़ें : आपका तनाव आपकी वेजाइनल हेल्थ को भी कर सकता है खराब, जानिए क्या है मेंटल और सेक्सुअल हेल्थ का कनैक्शन

  • 124
लेखक के बारे में

इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट अंजलि फूड, ब्यूटी, हेल्थ और वेलनेस पर लगातार लिख रहीं हैं। ...और पढ़ें

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
अगला लेख