अगर आप भी हैं योनि की दुर्गंध से परेशान, तो बिना साइड इफेक्ट्स वाले इन तरीकों को ज़रूर  आज़माएं 

योनि में दुर्गन्ध होने से जलन और योनि में संक्रमण हो सकता है। ऐसी किसी भी समस्या से बचाव के लिए दादी मां के जादुई पिटारे से कुछ ऐसे समाधान यहां हैं जो ट्राइड और टेस्टेड हैं। 

vaginal care
पाएं वेजाइनल ओडर से छुटकारा, चित्र : शटरस्टॉक
शालिनी पाण्डेय Published on: 20 August 2022, 20:10 pm IST
  • 120

योनि से समय-समय पर असामान्य गंध आना सामान्य बात है, लेकिन अगर यह गंध लगातार बनी हुई है या गंध तेज़ है तो स्थिति चिंताजनक हो सकती है। योनि दुर्गन्ध के नियमित होने से जलन और योनि में संक्रमण हो सकता है। ऐसी किसी भी समस्या से बचाव के लिए हम लाए हैं दादी मां के जादुई पिटारे से कुछ ऐसे समाधान, जो ट्राइड और टेस्टेड हैं। योनि की दुर्गंध से बचने के लिए आप इन उपायों को आजमा सकती हैं (Tips to avoid vaginal odor)। 

यह समस्या सिर्फ आपको ही नहीं हर लड़की या महिला को हो सकती है। क्या आप जानती हैं इन समस्याओं का समाधान हमारी मां और नानी के पास पहले से मौजूद है। 

तो देर किस बात की चलिए जानें योनि की गंध (vaginal odor) से छुटकारा पाने में मदद कर सकने वाले इन नेचुरल तरीकों के बारे में जिसका कोई साइड इफेक्ट नहीं है और जो आम तौर पर कारगर ही साबित होते आए हैं पर अगर ये उपाय भी आपकी कोई मदद नहीं करते हैं तो ज़रूरी है कि आप तुरंत चिकित्सीय सलाह लें।

1 आंवला

आंवला, एक नेचुरल ब्लड प्यूरीफायर है और बैक्टीरियल क्लीनिंग करने की क्षमता भी रखता है जिसके कारण यह गंध पैदा होती है। यह किसी भी योनि संक्रमण से लड़ने में मदद कर सकता है। की रोकथाम में मदद करता है जिससे ऐसी गंध पैदा हो सकती है। अपने दैनिक आहार में आंवले को शामिल करें इसका सबसे आसान तरीक अपने दैनिक खाने में आंवला पाउडर मिलाना है।

2 टी ट्री ऑयल 

इसके एंटीफंगल और एंटीसेप्टिक गुण स्वाभाविक रूप से बुरी गंध पैदा करने वाले बैक्टीरिया से छुटकारा पाने में मदद करते हैं। एक कप गर्म पानी में टी ट्री एसेंशियल ऑयल की तीन-चार बूंदें मिलाएं और इससे अपनी योनि को धो लें। हफ्ते में कम से कम एक बार इसका इस्तेमाल ज़रूर करें। 

वेजाइनल दुर्गंध से पाएं छुटकारा इन प्राकृतिक उपायों से, चित्र: शटरस्टॉक

3 दही 

दही में मौजूद अच्छे बैक्टीरिया, कैंडिडा इंफेक्शन से लड़ने में मदद करते हैं, जो योनि की गंध के सबसे सामान्य कारणों में से एक है, जिससे योनि का पीएच स्तर सामान्य हो जाता है। रोजाना दो कप सादा दही खाना आपके लिए फायदेमंद रहेगा

4 एप्पल साइडर सिरका (एसीवी) 

एसीवी में मौजूद जीवाणुरोधी और एंटीसेप्टिक गुण योनि की गंध पैदा करने वाले विषाक्त पदार्थों और बैक्टीरिया से लड़ते हैं। इसके अलावा, यह वेजाइनल पीएच के संतुलन को बनाएरखने में मदद करता है। गर्म पानी से भरे बकेट में दो कप एसीवी डालें। इससे रोजाना अपनी योनि को धुलें।

5 नीम 

एक कप पानी में मुट्ठी भर नीम की पत्तियों को उबालने के बाद, छान कर ठंडा करें। इससे योनि क्षेत्र को रोजाना कम से कम एक हफ्ते तक धोएं। अपने एंटिफंगल, जीवाणुरोधी और एंटीवायरल गुणों के कारण,  नीम, योनि संक्रमण से आज़ादी दिलाने में कारगर है।

तो डियर लेडीज़ देर किस बात की पाइए छुटकारा इस दुर्गंध से और रहिए कॉन्फिडेंट और हेल्दी हमेशा।

यह भी पढ़ें: इतना भी मुश्किल नहीं सन टैन दूर करना, आपकी रसोई में रखी ये 5 सामग्री कर सकती हैं आपकी मदद

  • 120
लेखक के बारे में
शालिनी पाण्डेय शालिनी पाण्डेय

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
nextstory