क्रॉच स्वेटिंग : एक ऐसी समस्‍या जो आपको श‍र्मिंदा कर सकती है, यहां हैं इससे बचने के उपाय

Updated on: 25 April 2022, 17:15 pm IST

इंटीमेट एरिया में पसीना आना न केवल आपको असहज बना सकता है, बल्‍क‍ि यह कई तरह के गंभीर संक्रमणों का जोखिम भी बढ़ा सकता है।

Ab apko zyada sweat and dust ka samna karna pad sakta hai
इंटीमेट एरिया में पसीना आना आपको कई समस्याएं दे सकता है। चित्र : शटरस्टॉक

पसीना आपके शरीर को खुद को ठंडा करने का तरीका है। जब भी आपका शरीर गर्म होता है, तो पसीना आना सामान्य है। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप वर्कआउट कर रही हैं, या गर्म कार में बैठी हैं। गर्मियों और बरसात क मौसम में पसीना आना एक बेहद आम बात है। मगर यह लोगों को असहज महसूस करा सकता है। खासकर तब, जब यह आपकी वेजाइना या जांघों के आसपास हो। अगर आपको भी इन्ही क्षेत्रों में बहुत ज्यादा पसीना आता है तो यह क्रॉच स्वेटिंग हो सकती है।

क्रॉच स्वेटिंग के कारण

औसत व्यक्ति में लगभग 2 मिलियन पसीने की ग्रंथियां होती हैं। कुछ लोगों में 4 मिलियन पसीने की ग्रंथियां होती हैं। आपके शरीर के कुछ क्षेत्रों, जैसे कि आपकी अंडरआर्म्स, में दूसरों की तुलना में अधिक पसीना आने की संभावना होती है। यह एक ही स्थान पर पसीने की ग्रंथियों और बालों के रोम के कारण होता है। इसके कई अन्य कारण भी होते हैं जैसे –

ज्यादा गर्म तापमान
अधिक एक्सरसाइज करना
प्युबिक हेयर बढ़ना
पीरियड्स के दौरान
मोटापा
ख़राब अंडरवियर पहनना

सिंथेटिक अंडरवियर भी इसका कारण हो सकता है। चित्र: शटरस्‍टॉक
सिंथेटिक अंडरवियर भी इसका कारण हो सकता है। चित्र: शटरस्‍टॉक

क्रॉच स्वेटिंग से आपको हो सकती हैं ये समस्याएं

संक्रमण का खतरा :

इस मौसम में वेजाइना या जांघों के आसपास पसीना आने से बैक्टीरिया का जमाव हो सकता है और वेजाइना का ph संतुलन बिगड़ सकता है। ऐसे में संक्रमण होने का खतरा भी बढ़ सकता है।

स्किन रैशेस :

क्रॉच स्वेटिंग की वजह से आपकी योनि के आसपास खुजली और लालिमा जैसी समस्याएं उत्पन्न हो सकती हैं। जिससे आगे चलकर दाने या स्किन रैशेस की समस्या भी आ सकती है।

दुर्गंध और अन्य समस्याएं :

यदि आपको ज्यादा क्रॉच स्वेटिंग होती है, तो कई समस्याएं भी उत्पन्न हो सकती हैं। जैसे – योनि में से दुर्गध आना।

अपने योनि क्षेत्र को ठंडा और सूखा रखने के लिए यहां कुछ सुझाव दिए गए हैं 

इंटीमेट एरिया को साफ और सूखा रखना जरूरी है। चित्र: शटरस्टॉक
इंटीमेट एरिया को साफ और सूखा रखना जरूरी है। चित्र: शटरस्टॉक

बेहतर है कॉटन अंडरवियर पहनें : कॉटन से बने या फिर अन्य किसी हल्के कपड़े से बने अंडरवियर पहनें, जो ज्यादा टाइट न हों और जिनमें ज्यादा पसीना भी न आए। इसके साथ ही, अपने अंडरवियर को हर रोज़ बदलें।

प्यूब्स को बढ़ने न दें : अपने प्यूबिक हेयर को बढ़ने न दें, क्योंकि गर्मियों में ये पसीना और संक्रमण का कारण बन सकते हैं। इसलिए बेहतर यही है कि इन्हें नियमित रूप से ट्रिम किया जाए।

नियमित स्नान करें : नियमित स्नान करने से शरीर में पसीना कम बनता है और आप साफ और स्वच्छ रहते हैं।

यह भी पढ़ें – जानिए 4 कारण कि पुरुषों की तुलना में महिलाओं को ज्यादा क्यों होता है यूटीआई होने का खतरा

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स
पीरियड ट्रैकर के साथ।

ट्रैक करें