क्या इन दिनों आपकी सेक्स लाइफ बोर और उबाऊ हो गई है? इसकी वजह कहीं मोटापा तो नहीं !

मोटापा न सिर्फ आपकी सेक्स परफाॅर्मेंस को प्रभावित करता है, बल्कि यह लिबिडो (libido) को भी कम करता है।
मोटापा बना सकता है आपके सेक्स लीफ को सैड चित्र: शटरस्टॉक
शालिनी पाण्डेय Updated on: 9 May 2022, 11:11 am IST
ऐप खोलें

ओबेसिटी एक्शन कोएलिशन के चिकित्सा विशेषज्ञों के अनुसार, मोटापे का एक साइड इफेक्ट यौन रोग भी हो सकता है। चौंक गए न? हां, पर यह सच है। आपका वजन बढ़ने से आपके शरीर के साथ-साथ आपकी सेक्स लाइफ में भी बहुत सारे बदलाव आ सकते हैं। पुरुषों और महिलाओं के लिए ये बदलाव अलग-अलग हैं। मगर वास्तविकता यह है कि मोटापा दोनों के ही यौन जीवन को नुकसान (How obesity affects sex life) पहुंचाता है। जानना चाहती हैं कैसे? तो बस इसे अंत तक पढ़ती रहें।

आपके पार्टनर की परफॉर्मेंस को प्रभावित करता है मोटापा 

बहुत अधिक वजन उठाने पर पुरुष इरेक्टाइल डिसफंक्शन (Erectile Disfunction) से पीड़ित हो सकते हैं। परिणामस्वरूप ये पुरुष चिंता और खराब यौन प्रदर्शन से पीड़ित हो सकते हैं। मोटे पुरुष दबे हुए लिंग सिंड्रोम से पीड़ित हो सकते हैं, एक ऐसी स्थिति जहां लिंग त्वचा की परतों के नीचे दब जाता है।

मोटापे से जुड़े कई शोध और अध्ययनों से पता चला है कि अधिक बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) महिलाओं को होने वाली यौन समस्याओं से जुड़ा हो सकता है। सेक्स में आने वाली परेशानियां आपके उस खास स्सेपेशल मोमेंट को न सिर्फ बर्बाद कर सकता है बल्कि यौन संतुष्टि में कमी भी आ सकती है।

जानिए मोटापे और एसटीआई का कनैक्शन 

अध्ययनों से पता चला है कि यौन रोग और मोटापे के बीच गहरा संबंध है, पर इसका मतलब यह नहीं है कि आपका वजन, बेडरूम में आपकी परफॉर्मेंस को प्रभावित करेगा। आपका वजन अधिक है और आप यौन समस्याओं का सामना कर रहे हैं, तो अपने डॉक्टर से अपने वजन और सेक्स लाइफ में हो रही दिक्कतों पर चर्चा करें और जाने कि क्या वाकई दोनों का आपस में कोई संबंध है या नहीं।

मोटापा बन सकता है यौन रोगों की वजह  । चित्र : शटरस्टॉक

आपकी सेक्स लाइफ पर मोटापे (obesity) का क्या और कितना असर पड़ता है कि जब हमने हमने पड़ताल की तो क्या कुछ सामने आया चलिए देखते हैं:

मोटापा बन सकता है आपमें सेक्स डिजायर की कमी की वजह?

बढ़ा हुआ वजन आपमें सेक्स की इच्छा (sex desire or libido) को कम कर देता है। सेक्स करने में आपके शरीर की काफी कैलोरीज़ बर्न होती है। यह एक हार्डकोर फिजिकल एक्टिविटी है, बढ़ा हुआ वजन आपके अन्दर सेक्स की डिजायर को कम इसलिए भी करता है क्योंकि मोटापे के कारण आपमें किसी भी तरह की फिज़िकल एक्टिविटी करने में दिक्कत आएगी।

मोटापे पर चर्चा करते समय, अधिक वजन के कारण होने वाली बीमारियों में आमतौर पर हम मधुमेह, उच्च रक्तचाप / हृदय रोग, स्लीप एपनिया या उच्च कोलेस्ट्रॉल जैसी बीमारियों के बारे में बात करते हैं। मोटापे का एक और साइड इफेक्ट है जिस पर शायद ही कभी खुलकर चर्चा की जाती है, वह है पुरुषों और महिलाओं दोनों में यौन रोग या हॉर्मोनल गड़बड़ी होना। मोटापे से पीड़ित कई पुरुष इरेक्टाइल डिसफंक्शन (ईडी) से भी पीड़ित होते हैं।

40 की उम्र के करीब हैं तो सचेत हो जाएं 

अमेरिकन यूरोलॉजिकल एसोसिएशन की प्रवक्ता, एमडी, इरा शार्लिप के अनुसार, “40-70 वर्ष की आयु के बीच के 53 प्रतिशत पुरुषों में कुछ हद तक इरेक्शन से जुड़ी समस्याएं हैं।” इस समस्या के लिए कई कारण ज़िम्मेदार हैं जैसे बढ़ती उम्र, हृदय रोग, उच्च रक्त चाप, कम टेस्टोस्टेरोन, धूम्रपान और मधुमेह, खराब डाइट और बिगड़ी हुई जीवन शैली का होना।

क्या है इरेक्शन डिसऑर्डर?

आइए पहले देखें कि इरेक्टाइल डिसफंक्शन (erectile dysfunction) सामान्य रूप से कैसे काम करता है? इरेक्शन तब होता है जब लिंग की ओर जाने वाली रक्त वाहिकाएं (Blood veins) फैल जाती हैं, जिससे ये ब्लड से भर जाती है। यह प्रक्रिया रक्त वाहिकाओं (एंडोथेलियम) की परत पर निर्भर करती है जो नाइट्रिक ऑक्साइड छोड़ती है (ईडी दवाएं एंडोथेलियल कोशिकाओं में नाइट्रिक ऑक्साइड की मात्रा को बढ़ाती हैं)। नाइट्रिक ऑक्साइड मांसपेशियों को आराम देता है और इरेक्शन से जुड़ी समस्याओं का निदान करने में भी सहायता करता है।

कुछ भी जो रक्त वाहिकाओं को नुकसान पहुंचाता है, संभावित रूप से इस प्रक्रिया में हस्तक्षेप कर सकता है जिसके परिणामस्वरूप ईडी की समस्या जन्म लेती है तो वही चीजें जो हृदय रोग और स्ट्रोक का कारण बनती हैं, ईडी का कारण बन सकती हैं।

आपके पार्टनर के इरेक्टाइल डिसफंक्शन की वजह बन सकता है मोटापा। चित्र:शटरस्टॉक

जॉन हॉपकिंस ब्लूमबर्ग स्कूल ऑफ पब्लिक में सहायक प्रोफेसर और महामारी विज्ञानी एलिजाबेथ सेल्विन, पीएचडी, एम.पी.एच. एलिजाबेथ सेल्विन कहते हैं, “यदि आप मोटापे से प्रभावित हैं, तो आपको मधुमेह होने का जोखिम दो से तीन गुना अधिक है।” वह आगे कहती हैं,”मधुमेह से पीड़ित 50 प्रतिशत से अधिक पुरुष सेक्स से जुड़ी समस्याओं से पीड़ित हैं।”

अधिक मोटापा यानी अधिक सूजन 

अधिक वजन/मोटापा रक्त वाहिकाओं को नुकसान पहुंचाकर, टेस्टोस्टेरोन को कम कर और शरीर में सूजन की स्थिति पैदा कर ईडी का कारण बन सकता है। उच्च रक्तचाप (high blood pressure), मधुमेह(diabetes), हाइपरकोलेस्ट्रोलेमिया, हाइपरट्रिग्लिसराइडिमिया और सूजन के कारण मोटापा रक्त वाहिकाओं को नुकसान पहुंचा सकता है।

शरीर में होने वाली सूजन की बढ़ी हुई स्थिति शरीर में ऐसे कारण पैदा करता है जो ऊतकों को ऑक्सीडेटिव नुक्सान पहुंचाने का कारण बन सकता है। उच्च रक्तचाप, मधुमेह और हाइपरलिपिडिमिया के हानिकारक प्रभावों का अच्छी तरह से अध्ययन किया गया है। मोटापे से प्रभावित पुरुषों में उच्च कोलेस्ट्रॉल, उच्च रक्तचाप और उच्च रक्तचाप और मधुमेह हो सकता है, जो सेक्स से जुड़ी सभी दिक्कतों की वजह बन सकते हैं।

 बेहतर सेक्स के लिए वजन कम करना ज़रूरी क्यों?

वजन घटाने के कई फायदे हैं जिनमें बढ़ा हुआ एनर्जी लेवल, बेहतर गतिशीलता और बढ़िया सेक्स लाइफ शामिल हैं। इन बातों का आपके लव लाइफ पर पॉजिटिव असर पड़ता है। इसके अलावा, यदि आपका वजन डिप्रेशन की वजह बन रहा है, तो वजन कम करने से बढ़ा आत्मविश्वास इससे निपटने में आपकी मदद करेगा, इतना ही नहीं आत्मविश्वास आपकी सेक्स लाइफ को बेहतर बनाने में भी सहायक रहेगा।

अगर आप फिजिकली फिट हैं तो किसी भी फिजिकल एक्टिविटी की तरह सेक्स के दौरान भी आपकी परफौरमेंस अच्छी रहेगी क्योंकि ऐसे में न सिर्फ इजैकुलेशन में अधिक समय लगेगा बल्कि आपको थकान भी कम होगी। तो इंतज़ार किस बात का वजन कम करिए और पाइए एक बेहतर संतुष्ट जीवन।

यह भी पढ़ें – सावधान! आपके पार्टनर की आंखों को इन 3 तरह से नुकसान पहुंचा सकती है वियाग्रा

लेखक के बारे में
शालिनी पाण्डेय

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
Next Story