किसी भी ब्रांडेड लुब्रिकेंट से ज्यादा फायदेमंद है सेक्स के दौरान नारियल के तेल का इस्तेमाल, एक्सपर्ट बता रहीं हैं कैसे

सेक्स को स्मूद और आनंददायक बनाने के लिए ल्यूब्रिकेंट का इस्तेमाल किया जाता है। कई तरह के लुब्रिकेंट बाजार में मौजूद है, लेकिन क्या घर पर पड़े नारियल के तेल को भी लुब्रिकेंट की तरह इस्तेमाल किया जा सकता है।
lubricant ki tarah kare coconut oil ka istemal
कई बार प्लेजर को बढ़ाने के लिए लुब्रिकेंट का इस्तेमाल किया जाता है। चित्र- अडोबी स्टॉक
संध्या सिंह Published: 15 Jun 2023, 21:00 pm IST
  • 145

वैसे तो लुब्रिकेंट का उत्पादन सेक्स के दौरान खुद प्रकृतिक रूप से ही होता है, लेकिन कई बार अतिरिक्त लुब्रिकेंट की आवश्यकता होती है जिसके लिए लुब्रिकेंट उत्पादों की आवश्यकता पड़ सकती है। लुब्रिकेंट का इस्तेमाल सेक्स के दौरान होने वाले घर्षण को कम करने के लिए किया जाता है।

सेक्स के दौरान आराम को बढ़ाने के लिए भी ल्यूब्रिकेंट का इस्तेमाल किया जाता है। कई बार प्लेजर को बढ़ाने के लिए लुब्रिकेंट का इस्तेमाल किया जाता है। लेकिन कई लोग लुब्रिकेंट की जगह तेल, क्रिम का इस्तेमाल करते है। तो क्या लुब्रिकेंट की जगह नारियल के तेल (Coconut oil benefits for sex) का इस्तेमाल करना सुरक्षित है।

जानिए सेक्स के लिए किस तरह मददगार साबित हो सकते हैं लुब्रिकेंट

1 प्राकृतिक लुब्रिकेशन की कमी

कुछ व्यक्तियों को हार्मोनल परिवर्तन, दवाएं, तनाव, स्तनपान, मेनोपॉज, या कुछ स्वास्थ्य स्थितियों के कारण प्राकृतिक लुब्रिकेंट में कमी का अनुभव हो सकता है। ऐसे मामलों में, लुब्रिकेंट का उपयोग अपर्याप्त लुब्रिकेंट की भरपाई करने और यौन क्रिया के दौरान आराम बढ़ाने में मदद कर सकता है।

lubricant kayi tarah je hote hai
ल्यूब्रिकेंट विभिन्न प्रकारों में आते हैं, जैसे कि पानी-आधारित, सिलिकॉन-आधारित, या तेल-आधारित। चित्र- अडोबी सटॉक

2 आराम और प्लेजर को बढ़ाता है

लुब्रिकेंट दोनों पार्टनर के लिए सेक्सुअल प्लेजर और आराम बढ़ा सकते हैं। यह पैनिट्रेशन के दौरान घर्षण को कम कर सकते हैं, इंटरकोर्स या अन्य यौन गतिविधियों को सहज और अधिक सुखद बना सकते हैं। लुब्रिकेंट असुविधा या जलन को भी कम कर सकते हैं जो ड्रायनेस या अत्यधिक घर्षण से उत्पन्न हो सकती हैं।

3 कुछ नया ट्राई करने के लिए

कुछ कपल अलग तरह से ऑर्गेज्म पाने के लिए या अपने यौन अनुभवों में कुछ नयापन लाने के लिए ल्यूब्रिकेंट का उपयोग करते हैं। ल्यूब्रिकेंट विभिन्न प्रकारों में आते हैं, जैसे कि पानी-आधारित, सिलिकॉन-आधारित, या तेल-आधारित।

4 सेक्स टॉयज के साथ प्रयोग करने के लिए

सेक्स टॉयज के साथ लुब्रिकेंट के उपयोग की अक्सर सलाह दी जाती है, क्योंकि ये सेक्स टॉयज को अधिक आरामदायक और आनंददायक बना सकते हैं। कुछ प्रकार के स्नेहक विभिन्न प्रकार के सेक्स खिलौनों के साथ संगत होते हैं, इसलिए एक स्नेहक चुनना महत्वपूर्ण है जो खिलौने की विशिष्ट सामग्री के लिए उपयुक्त हो।

आमतौर पर 3 तरह के ल्यूब्रिकेंट होते हैं मददगार

पानी आधारित ल्यूब्रिकेंट– पानी आधारित ल्यूब्रिकेंट वर्सिटाइल हैं और लेटेक्स कंडोम और सेक्स टॉयज सहित विभिन्न सामग्रियों के लिए उपयोग किए जाते हैं। वे साफ करने में आसान हैं और आमतौर पर कोई दाग नही छोड़ते है। पानी-आधारित ल्यूब्रिकेंट अलग-अलग तरह के उपलब्ध हैं, पतले और हल्के से लेकर मोटे, जेल जैसे फॉर्मूलेशन।

सिलिकॉन-आधारित ल्यूब्रिकेंट– सिलिकॉन-आधारित ल्यूब्रिकेंट लंबे समय तक गीलापन बनाए रखते है और एक शाइनी और चिकना टैक्सचर रखते हैं। सेक्स के दौरान उनके सूखने की संभावना कम होती है।

हाइब्रिड ल्यूब्रिकेंट– हाइब्रिड ल्यूब्रिकेंट पानी आधारित और सिलिकॉन दोनों गुण वाले होते है। वे पानी आधारित ल्यूब्रिकेंट की तरह साफ करने में आसान होने के साथ-साथ सिलिकॉन-आधारित ल्यूब्रिकेंट की तरह लंबे समय तक चलने वाला ग्लाइड प्रदान करते हैं।

फ्लेवर्ड ल्यूब्रिकेंट- फ्लेवर्ड ल्यूब्रिकेंट को ओरल सेक्स के दौरान में एक अच्छा स्वाद और सुगंध जोड़ने के लिए बनाया गया है। वे अक्सर पानी आधारित होते हैं और फल, चॉकलेट या पुदीना जैसे कई प्रकार के फ्लेवर में आते हैं।

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
kaise karein nariyal ke tel ka istemal
नारियल का तेल लुब्रिकेंट से बेहतर हो सकता है। चित्र- अडोबी स्टॉक

क्या लुब्रिकेंट से ज्यादा अच्छा है केवल नारियल का तेल

नारियल का तेल लुब्रिकेंट से बेहतर है ये जानने के लिए हमने बात की आर्केडी वीमेन हेल्थ केयर एंड फर्टिलिटी की डायरेक्टर डॉ पूजा दिवान से। पूजा दिवान कहती है कि नारियल का तेल लुब्रिकेंट से बेहतर हो सकता है क्योंकि एक ल्यूब्रिकेंट का एक प्राकृतिक स्रोत है। इससे स्किन या वेजाइना में जलन या संक्रमण होने का खतरा कम हो जाता है।

कई लुब्रिकेंट गर्मी के मौसम में खराब हो सकते है लेकिन नारियल का तेल गर्मी के मौसम में बिल्कुल ठीक रहता है। नारियल का तेल ल्यूब्रिकेंट उत्पादों का तुलना में ज्यादा समय तक नमी और चिकनाई बनाए रखता है।

ध्यान रखें

नारियल के तेल का एक नुकसान बताते हुए पूजा दिवान कहती हैं कि नारियल के तेल का नेचर एल्कलाइन होता है और वेजाइना का नेचर एसिडिक होता है। इसलिए कई लोगों को ये संक्रमण भी पैदा कर सकता है, लेकिन ये बहुत ही कम केस में होता है।

ये भी पढ़े- उमस और गर्मी बना रही है आपके बालों को डल और फ्रिज़ी, तो यहां हैं आपके लिए कुछ हेयर केयर टिप्स

  • 145
लेखक के बारे में

दिल्ली यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट संध्या सिंह महिलाओं की सेहत, फिटनेस, ब्यूटी और जीवनशैली मुद्दों की अध्येता हैं। विभिन्न विशेषज्ञों और शोध संस्थानों से संपर्क कर वे  शोधपूर्ण-तथ्यात्मक सामग्री पाठकों के लिए मुहैया करवा रहीं हैं। संध्या बॉडी पॉजिटिविटी और महिला अधिकारों की समर्थक हैं। ...और पढ़ें

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
अगला लेख