सेक्स लाइफ को खराब कर सकता है ‘शराब का शौक’, एक्सपर्ट से जानें महिलाओं और पुरुषों पर इसके दुष्परिणाम

ऐसा हो सकता है कि कम मात्रा में शराब पीने से व्यक्ति को इस तरह के अनुभवों की प्राप्ति हो, लेकिन ज्यादा मात्रा में शराब पीने से आपके स्वास्थ्य के साथ-साथ 'सेक्सुअल प्लेज़र' पर भी प्रभाव पड़ता है।
सभी चित्र देखे what causes sexual dysfunction in women
अधिक शराब के सेवन से सेक्सुअल डिजायर कम होते है । चित्र : एडॉबीस्टॉक

शराब के शौकीनों के लिए शराब एक सेलिब्रेशन का जरिया, दुःख का साथी और एक्साइटमेंट बढ़ाने का एक तरीका होता है। शराब पीने वाले लोगों को इसका सेवन करने के लिए सिर्फ एक बहाने की जरूरत होती है। वहीं, कुछ लोग शराब को ‘एक्साइटमेंट बूस्टर’ की तरह भी लेते हैं और उन्हें लगता है कि शराब पीने के बाद सेक्स करने से उनको अधिक आनंद प्राप्त होगा, साथ ही उनकी परफॉर्मेंस भी सुधरेगी।

लेकिन, तमाम शोधों के अनुसार ऐसा नहीं है। ऐसा हो सकता है कि कम मात्रा में शराब पीने से व्यक्ति को इस तरह के अनुभवों की प्राप्ति हो, लेकिन ज्यादा मात्रा में शराब पीने से आपके स्वास्थ्य के साथ-साथ ‘सेक्सुअल प्लेज़र’ पर भी प्रभाव पड़ता है।

नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इन्फॉर्मेशन के अनुसार, ऐसा जरूरी नहीं हैं कि शराब पीने के बाद हर महिला को उत्तेजित और आनंदित महसूस हो। स्वाभाविक रूप से कुछ मामलों में यह बात गलत भी हो सकती है, लेकिन रिपोर्ट में यह बताया गया कि अधिकतर महिलाओं को ज़्यादा शराब पीने से ऑर्गेज्म तक पहुंचने में परेशानी हो सकती है । बहुत अधिक शराब का सेवन शारीरिक रूप से नकारात्मक प्रभाव डालता है और जेनिटल रिऐक्टिविटी को भी कम करता है।

वही, पुरुषों के मामले में अल्कोहल हेल्थ एंड रिसर्च वर्ल्ड जर्नल में प्रकाशित हुए शोध के अनुसार, अधिक शराब पीने से पुरुषों के सेक्सुअल डिजायर में भी काफी कमी देखी गई। साथ ही लंबे समय तक अत्यधिक शराब पीने से पुरुषों में ‘इरेक्टाइल डिसफंक्शन’ का यह एक प्रमुख कारण बन सकता है। शराब शरीर के नर्व फाइबर को प्रभावित करती है, जिसके कारण सेक्सुअल इंटरकोर्स की क्षमता कम होती है।

alcohol cause burning
शराब सेक्सुअल हेल्थ को प्रभावित करती है। चित्र : शटरस्टॉक

क्या कहते हैं एक्सपर्ट?

शराब के अत्यधिक सेवन से सेक्स लाइफ में होने वाले दुष्परिणामों को जानने के लिए हेल्थशॉट्स ने ग्रेटर नोएडा स्थित शारदा हॉस्पिटल के इंटरनल मेडिसिन असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ. श्रेय श्रीवास्तव से संपर्क किया।

डॉ. श्रीवास्तव ने बताया कि जिन लोगों को यह लगता है के शराब सेक्स ड्राइव को बढ़ाती है, यह पूरी तरह से एक मिथ है। वे बताते हैं कि अत्यधिक शराब के सेवन से अक्सर प्रदर्शन ख़राब होता है, कामेच्छा कम होती है, और साथ ही यौन संबंधी समस्या हो सकती है।

शराब से पुरुषों में पड़ने वाले प्रभाव

डॉ. श्रीवास्तव बताते है कि अत्यधिक शराब पुरुषों के यौन प्रदर्शन को प्रभावित करता है और सेक्स ड्राइव को भी प्रभावित करता है। इसके अत्यधिक सेवन से इरेक्टाइल डसफंक्शन, टेस्टोस्टेरोन का स्तर कम होना आदि समस्या होती है। साथ ही अत्यधिक शराब के सेवन से कई अन्य समस्याएं भी देखने को मिल सकती है।

1 इरेक्टाइल डिस्फंक्शन (ईडी):

अत्यधिक शराब के सेवन से स्तंभन दोष (Erectile Dysfunction) हो सकता है, जो सेक्स के लिए पर्याप्त इरेक्शन प्राप्त करने या बनाए रखने में एक असमर्थता होती है। अत्यधिक शराब पेनिस के ब्लड फ्लो में बाधा उत्पन्न करती है, जिससे इरेक्शन को बनाए रखने की क्षमता प्रभावित हो सकती है।

2 कामेच्छा में कमी :

शराब कुछ व्यक्तियों में सेक्सुअल डिजायर को कम करती है। हालांकि कुछ केसेज़ में देखा गया है कि यह शुरू में एक सेक्स बूस्टर की तरह काम कर सकता है, लेकिन लंबे समय तक और भारी शराब के सेवन से सेक्सुअल इंटरेस्ट को कम कर देता है।

3 हार्मोनल असंतुलन:

लगातार शराब के सेवन से हार्मोनल असंतुलन हो सकता है, जिसमें टेस्टोस्टेरोन का स्तर कम होना भी शामिल है। टेस्टोस्टेरोन मेल सेक्सुअल फंक्शन के लिए जिम्मेदार हॉर्मोन होता है ।

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें

4 शराब से हो सकती है अन्य समस्याएं:

सेक्सुअल लाइफ में आने वाली समस्याओं के अलावा अत्यधिक शराब के सेवन से , लिवर डैमेज, हृदय संबंधी समस्याओं और मानसिक स्वास्थ्य संबंधी चिंताओं में बढ़ोतरी हो सकती है।

alcohol lene se bhi badh saktaa hai khatra
अत्यधिक शराब का सेवन करने से महिलाओं और पुरुषों दोनों को समस्याए हो सकती है। चित्र:शटरस्टॉक

अत्यधिक शराब से महिलाओं में पड़ने वाले प्रभाव

अत्यधिक शराब के सेवन से महिलाओं की सेक्सुअल हेल्थ पर भी नकारात्मक प्रभाव पड़ता है।

1 कम हो जाती है सेक्सुअल डिजायर

पुरुषों की तरह ही महिलाओं में भी अत्यधिक शराब पीने से महिलाओं में यौन इच्छा या कामेच्छा की कमी आ जाती है । इसके कारण यौन रूप से उत्तेजित होने में और सेक्सुअल एक्टिविटीज़ में कमी होती है, जिससे सेक्सुअल लाइफ प्रभावित होती है।

2 ऑर्गेजम की स्थिति तक पहुंचने में कठिनाई होती है

अत्यधिक शराब का सेवन महिलाओं में यौन क्रिया को ख़राब कर सकता है, क्योंकि ऐसा करने से महिलाओं के शरीर में स्त्री हार्मोन्स पर असंतुलन हो सकता है, जिससे सेक्सुअल उत्साह और प्रदर्शन में कमी हो सकती है। साथ ही शराब का सेवन करने से संवेदनशीलता में कमी हो सकती है, जिससे महसूस करने में कठिनाई हो सकती है और ऑर्गैज्म तक पहुंचना मुश्किल हो सकता है।

3 वेजाइनल ड्राईनस:

अधिक मात्रा में शराब पीने से हार्मोनल परिवर्तन हो सकते हैं, जो वैजाइनल स्वास्थ्य को प्रभावित कर सकते हैं। इसमें एस्ट्रोजन की कमी शामिल हो सकती है, जिससे वैजाइनल ड्राईनस हो सकती है। साथ ही शराब न्यूरोलॉजिकल प्रभाव भी छोड़ती है, जिससे वैजाइनल एरिया की
सेंसेटिविटी कम हो सकती है और ड्राईनेस हो सकती है।

4 हॉर्मोनल इम्बैलेंस भी एक कारण है:

लंबे समय तक शराब का सेवन महिलाओं में हार्मोनल संतुलन को बाधित करता है, जिससे रिप्रोडक्टिव होर्मोनेस प्रभावित होते हैं। इससे अनियमित मेंस्ट्यूरल साइकिल और अन्य रिप्रोडक्टिव हेल्थ समस्याएं हो सकती हैं।

यह भी पढ़ें: एक डेडली कॉम्बिनेशन है शराब और सिगरेट, जानिए क्या होता है आपकी सेहत पर इसका प्रभाव

  • 143
लेखक के बारे में

पिछले कई वर्षों से मीडिया में सक्रिय कार्तिकेय हेल्थ और वेलनेस पर गहन रिसर्च के साथ स्पेशल स्टोरीज करना पसंद करते हैं। इसके अलावा उन्हें घूमना, पढ़ना-लिखना और कुकिंग में नए एक्सपेरिमेंट करना पसंद है। जिंदगी में ये तीनों चीजें हैं, तो फिजिकल और मेंटल हेल्थ हमेशा बूस्ट रहती है, ऐसा उनका मानना है। ...और पढ़ें

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
अगला लेख