IVF And Nutrition : पहली बार में ही आईवीएफ को सफल बनाना है तो आहार का भी रखना होगा ध्यान

सही और संतुलित आहार न केवल आपको एनर्जी और ताकत देता है, बल्कि यह आपकी प्रजनन क्षमता में भी महत्वपूर्ण भूमिका अदा करता है। इसलिए डॉक्टर आईवीएफ के दौरान आपको पोषण पर सही ध्यान देने की सलाह देते हैं।
सभी चित्र देखे IVF ke dauran apko apni diet ka bhi bahut khyal rakhna hai
आईवीएफ के दौरान आपको अपनी डाइट का भी बहुत ख्याल रखना है।चित्र : अडोबी स्टॉक
Dr. Lavi Sindhu Published: 11 Sep 2023, 22:00 pm IST
  • 132

इन विट्रो फर्टिलाइजेशन (IVF) का सफ़र शारीरिक और भावनात्मक रूप से चुनौतीपूर्ण हो सकता है। आईवीएफ उनके लिए चिकित्सकीय सहायता से गर्भधारण की एक प्रक्रिया है, जो जोड़े प्राकृतिक तरीकों से गर्भधारण करने में सक्षम नहीं हैं। इसके लिए हार्मोनल दवाओं की आवश्यकता होती है जो पूरी प्रक्रिया में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं। हालांकि, इसकी सफलता के लिए महिला का स्वास्थ्य और जीवनशैली भी उतनी ही महत्वपूर्ण है। एक स्वस्थ जीवन शैली और स्वस्थ खान-पान की आदतें बच्चे के विकास के लिए एक स्वस्थ वातावरण बनाकर आईवीएफ प्रेरित गर्भावस्था की संभावनाओं को बढ़ाती हैं। स्वस्थ आहार समग्र प्रजनन स्वास्थ्य (Reproductive health) में भी सुधार करता है। इनके संयोजन से स्वस्थ गर्भावस्था और पोषित बच्चे का जन्म हो सकता है।

आईवीएफ के दौरान क्याें जरूरी है पोषण पर ध्यान देना (How food affect  IVF procedure)

हार्मोन संतुलन, हेल्दी कॉम्बिनेशन और स्वस्थ शरीर को बनाए रखने के लिए इष्टतम सूक्ष्म पोषक तत्व और पोषण आहार बहुत महत्वपूर्ण है। कई महिलाएं अपने आहार के बारे में व्यापक शोध करती हैं, लेकिन उन्हें पोषण के बारे में बहुत कम जानकारी होती है। एक स्वस्थ शरीर ही स्वस्थ बच्चे को जन्म दे सकता है।

हर किसी की पोषण संबंधी ज़रूरतें अलग-अलग होती हैं और अक्सर ये आहार शरीर की आवश्यकता को पूरा नहीं करते हैं। सही खाना खाने से महिलाओं में हार्मोनल संतुलन और अंडों की गुणवत्ता बनाए रखने में मदद मिलती है।

Sahi diet apki reproductive health ke liye zaruri hai
आपकी रिप्रोडक्टिव हेल्थ के लिए सही डाइट बहुत जरूरी है। चित्र : अडोबी स्टॉक

साबुत अनाज और कम ग्लाइसेमिक एसिड वाला भोजन स्थिर हार्मोन उत्पादन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। यहां तक कि पुरुषों में भी, स्वस्थ आहार शुक्राणु की गुणवत्ता में सुधार करने में मदद करता है जिसके परिणामस्वरूप गर्भधारण की संभावना बढ़ जाती है। पालक, जामुन, ब्रोकोली जैसे एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर खाद्य पदार्थ शुक्राणु की व्यवहार्यता को बढ़ाने में मदद करते हैं। इसलिए, स्वस्थ आहार स्वस्थ गर्भावस्था की नींव बनाता है।

सफल उपचार और स्वस्थ गर्भावस्था के लिए वजन पर नियंत्रण रखना अत्यंत महत्वपूर्ण है। मोटापा और यहां तक कि कम वजन की स्थितियां प्रजनन स्वास्थ्य और गर्भधारण करने की क्षमता पर नकारात्मक प्रभाव डाल सकती हैं।

आईवीएफ उपचार के दौरान आपको अपने आहार में शामिल करने चाहिए ये फूड्स 

अच्छे स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए आईवीएफ उपचार के दौरान खाने योग्य भोजन की सूची यहां दी गई है:

• हरी पत्तेदार सब्जियाँ : विटामिन बी से भरपूर पालक और केल जैसी सब्जियाँ एक स्वस्थ भ्रूण का निर्माण करती हैं।
• साबुत अनाज: साबुत अनाज जैसे जई, ब्राउन राइस, क्विनोआ में मौजूद जटिल कार्बोहाइड्रेट हार्मोनल संतुलन को बढ़ावा देते हैं।
• फलियां: आयरन और फोलिक एसिड से भरपूर भोजन जैसे पौधों पर आधारित प्रोटीन जैसे दाल और फलियां, प्रजनन स्वास्थ्य के लिए बेहद महत्वपूर्ण हैं।
• मेवे और बीज: बादाम और अखरोट जैसे मेवे और अलसी और चिया बीज जैसे बीज स्वस्थ वसा और फाइबर का स्रोत होते हैं, जो प्रजनन क्षमता में लाभ प्रदान करते हैं। अलसी के बीज में मौजूद ओमेगा-3 फैटी एसिड हार्मोन को विनियमित करने और शुक्राणु की गुणवत्ता में सुधार करने में भी मदद कर सकता है।
• खट्टे फल: विटामिन सी से भरपूर फल, जैसे संतरा, नींबू, अंगूर, रंगीन शिमला मिर्च भी शुक्राणु की गुणवत्ता और गतिशीलता को बढ़ाने में मदद कर सकते हैं।
• अंडे: अंडे प्रोटीन का एक समृद्ध स्रोत हैं जो ताकत और इष्टतम वजन प्रदान करने में मदद करते हैं।
• बेरीज : ब्लूबेरी, स्ट्रॉबेरी, रास्पबेरी जैसी बेरी एंटीऑक्सिडेंट का एक बड़ा स्रोत हैं जो अंडे और शुक्राणु को ऑक्सीडेटिव तनाव से बचाने में मदद करते हैं।
• पानी: आईवीएफ के उपचार के दौरान एक व्यक्ति को अच्छी तरह से हाइड्रेटेड रहना चाहिए। इससे अंगों में रक्त का संचार बेहतर होता है।

iss samay apko zyada chai aur coffee se bhi nachna chahoiye
प्रेगनेंसी में आपको ज्यादा चाय या काॅफी पीने से भी बचना चाहिए। चित्र शटरस्टॉक।

उपचार के दौरान आपको इन चीजों से रखना चाहिए परहेज 

• तले हुए खाद्य पदार्थ और ट्रांस फैट – जैसे चिप्स, बिस्कुट, नमकीन, पकोड़ा, बर्गर आदि
• उच्च परिष्कृत चीनी वाले खाद्य पदार्थ जैसे डिब्बाबंद जूस, कैंडीज, मिठाइयाँ, शीतल पेय
• घी, मक्खन जैसी संतृप्त वसा की अधिकता
अत्यधिक कॉफी और चाय
• धूम्रपान और शराब

सफल परिणामों के लिए आईवीएफ उपचार के दौरान एक जोड़े के लिए संतुलित आहार और स्वस्थ जीवनशैली बनाए रखना बेहद महत्वपूर्ण है। आईवीएफ के सफ़र को आसान बनाने के लिए ऐसे खाद्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए जो प्रजनन क्षमता, प्रजनन स्वास्थ्य को बढ़ाते हैं और अंडे और शुक्राणु की गुणवत्ता में सुधार करते हैं।

यह भी पढ़ें – Pregnancy Nutrition : स्वस्थ गर्भावस्था और भ्रूण के विकास के लिए जानिए सबसे जरूरी पोषक तत्वों के बारे में

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें

  • 132
लेखक के बारे में

Dr. Lavi Sindhu is a Consultant, at Birla Fertility & IVF, Lajpat Nagar. She has 12+ years of clinical experience and expertise in reproductive medicine. She has been working as a fertility specialist and performed more than 2500 IVF cycles independently over the years with excellent outcomes. In addition, she is a member of various societies in India, such as the Indian Fertility Society (IFS), the Indian Association of Gyne Endoscopy (IAGE), the Federation of Gynaecological Society of India, and the National Association of Reproductive Child Health of India (NARCHI). ...और पढ़ें

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
अगला लेख