स्तनों में होने वाले इन 3 तरह के बदलावों पर नजर रखना है जरूरी

Published on: 25 April 2022, 21:00 pm IST

क्या आपने हाल ही में अपने स्तनों में कुछ अलग देखा है? एक एक्सपर्ट का कहना है कि इन ब्रेस्ट डिसऑर्डर पर नजर रखना जरूरी है।

Breast mein ho sakta hai pain
स्तन में हो सकता है दर्द। चित्र:शटरस्टॉक

दर्द हो, गांठ हो या डिस्चार्ज – महिलाओं को स्तनों से जुड़ी कई समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। मगर ब्रेस्ट में पाई जाने वाली हर गांठ प्रकृति में कैंसर नहीं होती है। महत्वपूर्ण बात यह है कि हम इन स्तन विकारों के बारे में जानते हैं या नहीं।

ब्रेस्ट डीजीज कई तरह की होती हैं, जिसमें से कुछ घातक होती हैं और कुछ नहीं होती। स्तन विकार जो भी हो, मूल्यांकन और जांच का मुख्य लक्ष्य मुख्य रूप से कैंसर की संभावना को खत्म करना और लक्षणों को दूर करना है।

मूल्यांकन की आवश्यकता रोगी की उम्र, नैदानिक ​​समस्या के प्रकार और जोखिम कारकों पर निर्भर करती है।

स्तन विकार के कुछ प्रकार यहां दिए गए हैं

1. स्तन में दर्द

स्तन दर्द सबसे आम स्तन विकारों में से एक है जिसके लिए महिलाएं डॉक्टर से सलाह लेती हैं। स्तन कैंसर के बारे में जागरूकता और मास्टलगिया (mastalgia) के बारे में चिंता नें लोगों स्तन विकारों के प्रति जागरूक किया है।

रजोनिवृत्ति से पहले और बाद की महिलाओं में स्तन दर्द आम है। यह स्तन कैंसर का एक दुर्लभ लक्षण है। एक फिजिकल टेस्ट के माध्यम से हमें स्तन दर्द का मूल्यांकन करने की आवश्यकता है। अधिकांश स्तन दर्द मासिक धर्म चक्र से जुड़े होते हैं और मासिक धर्म से ठीक पहले गंभीर होते हैं। ब्रेस्ट पेन का इलाज किया जाना चाहिए और बहुत गंभीरता से ध्यान रखा जाना चाहिए।

2. ब्रेस्ट मासेस

महिलाओं में यह निर्धारित करना मुश्किल होता है कि एक प्रमुख मास किस्में है, खासकर रजोनिवृत्ति से ठीक पहले। पीरियड के दौरान यह मास लगातार रहता है। एक प्रमुख मास कई प्रकार हो सकता है – फिर चाहे वो कैंसर हो या सिस्ट। ब्रेस्ट मास दो प्रकार के हो सकते हैं, सिस्टिक ब्रेस्ट मास और सॉलिड ब्रेस्ट मास। अगर किसी को स्तन में और उसके आसपास किसी भी तरह की गांठ दिखे तो डॉक्टर से सलाह लेना बहुत जरूरी हो जाता है।

Nipple pain de sakta hai pareshani
निप्पल पेन दे सकता हैं परेशानी।चित्र: शटरस्‍टॉक

3. निपल डिस्चार्ज

यह अक्सर एक माइल्ड प्रक्रिया के कारण होता है। यह एक आम स्तन समस्या है जो लगभग 15 प्रतिशत महिलाओं में माइल्ड स्तन रोग और 4 प्रतिशत महिलाओं में स्तन कैंसर का कारण बनती है। निप्पल डिस्चार्ज का मूल्यांकन यह निर्धारित करने के लिए किया जाता है कि डिस्चार्ज फिजियोलॉजिकल है या पैथोलॉजिकल। किसी भी तरह से, डिस्चार्ज स्पष्ट, सफेद, पीला या गहरा हरा रंग का हो सकता है।

स्तन विकारों का मूल्यांकन:

डॉक्टर उन लक्षणों के बारे में पूछते हैं जो कोई महिला महसूस कर रही है। या किसी भी प्रकार के स्तन विकारों के कारण हैं। यदि स्तन में कोई गांठ है, तो क्या मोटाई है, आकार में परिवर्तन, या लाली जैसे कुछ लक्षण हो सकते हैं। बस आपको इन लक्षणों को पहचानने की ज़रूरत है।

ब्रेस्ट एक्जामिनेशन

यह स्वयं या डॉक्टर की मदद से किया जा सकता है। आप सेल्फ-टेस्ट भी कर सकटी हैं। नहाते समय या कपड़े पहने हुए, स्तनों को देखें, और जांचें कि क्या आकार में कोई परिवर्तन हुआ है। या हाथों को सिर के पिछले हिस्से में कस कर पकड़ लें। यह कैंसर से संबंधित किसी भी बदलाव को नोटिस करने में मदद करता है। या हाथों को कूल्हों पर मजबूती से रखें, और कंधों और कोहनियों को आगे की ओर धकेलें।

cancer ka lskhan ho sakta hai breast pain
कैंसर का लक्षण हो सकता है ब्रेस्ट पेन। चित्र: शटरस्‍टॉक

यदि डॉक्टर को कोई परिवर्तन मिलता है, तो व्यक्ति को मैमोग्राफी, अल्ट्रा-सोनोग्राफी, या इमेजिंग (एमआरआई) द्वारा टेस्ट करने के लिए कहा जा सकता है। जो स्तनों में वृद्धि या आकार में परिवर्तन का स्पष्ट विचार प्राप्त करने में मदद करेगा। यह टेस्ट स्तन की असामान्यताओं की जांच करता है और उन असामान्यताओं का मूल्यांकन करता है जिनकी पहचान की गई थी, जैसे कि गांठ।

यहां जानिए स्तन विकारों को रोकने का तरीका

स्तन विकारों को मुख्य रूप से व्यायाम करने, स्वस्थ जीवन शैली रखने, नियमित रूप से स्तनों की स्व-परीक्षा करने और नियमित रूप से मैमोग्राम जांच करवाने से रोका जा सकता है। यदि व्यक्ति को स्तनों में गांठ या आकार में परिवर्तन दिखाई देता है, तो तुरंत डॉक्टर से परामर्श करने और जांच करवाने की सलाह दी जाती है। व्यक्ति को डॉक्टर को सभी लक्षणों और दर्द के बारे में विस्तार से बताने की जरूरत है ताकि डॉक्टर को इस बात का स्पष्ट अंदाजा हो जाए कि व्यक्ति किसी समस्या से गुजर रहा है।

यह भी पढ़ें : ”अपने काम से काम रखें” बॉडी पॉज़िटिविटी पर निम्रत कौर ने सुनाई ट्रोलर्स को खरी-खरी

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स
पीरियड ट्रैकर के साथ।

ट्रैक करें