क्या रेगुलर सेक्स करने से वज़न बढ़ जाता है? जानिए क्यों शादी के बाद मोटी हो जाती हैं लड़कियां

अकसर शादी के बाद लड़कियों और लड़कों का भी वजन अचानक बढ़ने लगता है! पर क्या इसकी वजह सेक्स है? जानते हैं शादी के बाद वजन बढ़ने का कारण।
क्या रोजाना सेक्स करने से महिलाओं का वजन बढ़ जाता है? चित्र शटरस्टॉक।
अंजलि कुमारी Published on: 6 December 2022, 21:00 pm IST
ऐप खोलें

रेगुलर सेक्स करना आपका वजन बढ़ा सकता है। अकसर लोग ऐसा कहते हुए मिल जाते हैं। वे इसके लिए शादी के बाद बढ़े हुए वजन को तर्क की तरह प्रस्तुत करते हैं। यह अवधारणा सालों से लोगों के मन में बनी हुई है। ज्यादातर लोग इसे सच मानते हैं। पर क्या वाकई ऐसा है? अगर यह सच है, तो फिर सेक्स छोड़ देने पर वजन कम भी हो जाना चाहिए। पर ऐसा होता नहीं है। यानी मामला बड़ा कन्फ्यूजिंग है। इसलिए मिथ्स पर भरोसा करने से बेहतर है कि इस बारे में किसी एक्सपर्ट से बात की जाए। फिटनेस पर क्या होता है सेक्स का प्रभाव, आइए जानते हैं।

आमतौर पर महिलाएं शादी के बाद नियमित रूप से शारीरिक संबंध बनाना शुरू करती हैं और इस दौरान बढ़ते वजन को लेकर सेक्स को दोषी ठहराती हैं। तो हमने इस मिथ की सच्चाई का पता लगाने के लिए एक्सपर्ट से बात की।

जानिए इस पर क्या कहती हैं एक्सपर्ट

हेल्थ शॉट्स ने ऑरा क्लिनिक, सेक्टर 31 गुड़गांव की डायरेक्टर एवं क्लाउड नाइन हॉस्पिटल, गुड़गांव सेक्टर 14 की सीनियर कंसलटेंट डॉ ऋतु सेठी से इस विषय पर बातचीत की।

उन्होंने अधिक सेक्स करने से वजन बढ़ने की बात को एक मिथ घोषित करते हुए इससे जुड़े फैक्ट पर बात की है। उन्होंने कहा कि “यदि आप अपने रिश्ते में पूरी तरह सेटिस्फाइड हैं और बहुत ज्यादा खुश हैं तो शरीर प्रोलेक्टिन नामक हार्मोन रिलीज करता है। जिसे हम कंफर्ट हार्मोन भी कहते हैं। यदि यह हॉर्मोन्स अधिक मात्रा में रिलीज होने लगे तो वेट गेन की संभावना बनी रहती है।”

प्रोलेक्टिन नामक हार्मोन होता है वजन बढ़ने का कारण। चित्र शटरस्टॉक।

आगे एक्सपर्ट ने बताया कि “रेगुलर सेक्स कहीं से भी मोटापे का कारण नहीं होता। आपकी लाइफ़स्टाइल, खानपान की आदत, जरूरत से ज्यादा आराम करना, शारीरिक रूप से स्थाई रहना, इत्यादि वजन बढ़ने का कारण होते हैं। किसी प्रकार की सेक्सुअल एक्टिविटी आपके वजन को प्रभावित नहीं कर सकती।”

हैप्पी मैरिड लाइफ हो सकती है मोटापे का कारण

आमतौर पर लोग शादी के बाद रेगुलर सेक्स करना शुरू करते हैं। महिलाओं में वेट गेन भी शादी के बाद ही देखने को मिलता है। कुछ लोग इसे रेगुलर सेक्स का साइड इफ़ेक्ट मानते हैं। परंतु रिसर्च के अनुसार एक सिंगल व्यक्ति को मैरिड कपल और सेटिस्फाइड कपल की तुलना में अधिक मात्रा में भूख लगती है। जिस वजह से उनका कैलोरी इंटेक ज्यादा होता है और वह संभावित रूप से वेट गेन कर सकते हैं। इसके साथ ही उन्हें जल्दी-जल्दी और अधिक भूख लगती है।

हॉर्मोन्स में होने वाले बदलाव हो सकते हैं वेट गेन का कारण

आमतौर पर लोगो का मानना है कि नियमित सेक्स के कारण कुछ महिलाओं के शरीर में मोटे मिड्रिफ, जांघ और नितंबों के बढ़ने जैसे लक्षण देखने को मिलते हैं। हालांकि, यह सच है, परंतु इसका कारण सेक्स नहीं सेक्सुअल रिलेशनशिप में आने से होने वाले हॉर्मोनल बदलाव भी हो सकते हैं। इनमे से सबसे आम कारण पीसीओएस की स्थिति होती है। इसके साथ ही सेक्स के बाद रिलीज होने वाले हैप्पी हॉर्मोन्स भी वेट गेन का कारण बनते हैं।

सेक्स कर सकता है वजन कम करने में आपकी मदद. चित्र : शटरस्टॉक

सेक्स और वेट लॉस

रेगुलर सेक्स कैलोरी बर्न करने में मदद करता है। रिसर्च के अनुसार यदि आप बेड पर एक्टिव रहती हैं, तो यह वेट लॉस में आपकी मदद करता है। सेक्स हार्ट हेल्थ के लिए भी फायदेमंद है और यह हार्ट रेट को भी संतुलित रखता है।

बांगोर यूनिवर्सिटी यूके द्वारा की गई एक स्टडी के अनुसार सेक्स के दौरान भूख को नियंत्रित रखने वाले हॉर्मोन्स का प्रोडक्शन बढ़ जाता है। जैसे कि “ऑक्सिटॉसिन” जिसे लव हॉर्मोन्स कहते हैं। सेक्स के दौरान ऑक्सीटॉसिन बढ़ता है और यह कैलरी कंजक्शन को कम करने में मदद करता है। वहीं नियमित रूप से सेक्स करने से बार-बार भूख लगने की समस्या नहीं होती और यह वेट गेन की जगह वेट लॉस में आपकी मदद करता है।

यह भी पढ़े : बेटी की मां हैं, तो जानिए इन दिनों क्यों जल्दी आ रहे हैं लड़कियों को पीरियड्स

लेखक के बारे में
अंजलि कुमारी

इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट अंजलि फूड, ब्यूटी, हेल्थ और वेलनेस पर लगातार लिख रहीं हैं।

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
Next Story