हर बार आपकी बॉन्डिंग को और मजबूत बनाता है ऑर्गेज़्म? जानिए क्या है एक्सपर्ट की राय

Updated on: 31 July 2022, 23:36 pm IST

monkeypox virus
सेक्स में ऑरगेज़्म की क्या है भूमिका। चित्र : शटरस्टॉक

सेक्स में ऑरगेज़्म तक पहुंचना आपके पार्टनर के साथ आपकी झिझक और संकोच को तो कम करता ही है साथ ही इससे आपके रिश्ते को बेहतर और मजबूत होने में मदद मिलती है। यह शारीरिक अंतरंगता आपको संतुष्ट और खुश महसूस कराती है।

एक रिलेशनशिप में सेक्स में ऑरगेज़्म तक पहुंचने कई फायदे हैं। यौन गतिविधि की उच्च दर सकारात्मक परिवर्तनों से जुड़ी होती है, जैसे निम्न रक्तचाप (low BP), कम तनाव, अधिक अंतरंगता और यहां तक ​​कि कम तलाक की दर। जब कितनी बार सेक्स हो की बात आती है तो इसके कोई तय नियम नहीं हैं। चलिए जानें कि किसी रिश्ते में सेक्स कितना महत्वपूर्ण है, सेक्स करना क्यों महत्वपूर्ण हो सकता है, इसके क्या लाभ हो सकते हैं?

रिश्ते में सेक्स क्यों जरूरी है

क्या लव रिलेशनशिप बिना सेक्स के टिक सकता है? जी बिलकुल,  सेक्स हमेशा जरूरी नहीं होता है। लेकिन यह एक हेल्दी और बेहतर रिश्ते का एक महत्वपूर्ण हिस्सा हो सकता है।

सेक्स कितना महत्वपूर्ण है यह सबके लिए भिन्न हो सकता है। कुछ लोगों को लग सकता है कि एक सेक्स पार्टनर होना बहुत ज़रूरी है। दूसरों को लग सकता है कि अन्य प्रकार की अंतरंगता और संबंध अधिक महत्वपूर्ण हैं।

सेक्स में ऑर्गेज़्म की भूमिका 

‘कम्युनिकेशन मोनोग्राफ्स’ में प्रकाशित हालिया शोध के अनुसार, जब आप चरमोत्कर्ष पा लेती हैं  तो सेक्स के बाद अपने पार्टनर से कहीं ज़्यादा खुलकर और अंतरंग बात हो पाती है। इसका कारण है कि सम्भोग के बाद आपके शरीर में ऑक्सीटोसिन हॉर्मोन रिलीज़ होता है। यह प्रो-सोशल हार्मोन, आपको रिलैक्स करने के साथ ही आपको एक तरह की सुरक्षा की भावना भी देता है जिसके कारण आप पार्टनर से खुल कर बात कर पाती हैं।

sexual desire

सम्भोग में चरमोत्कर्ष पर पहुंचना दिलाता है पूर्णता का एह्सास। चित्र:शटरस्टॉक


सेक्स में ऑर्गेज़्म लिए महत्वपूर्ण कारण

अपने साथी के करीब महसूस करना
अपने साथी के प्रति स्नेह का बढना 
सेक्स का मज़ेदार और आनंददायक होना
बच्चे पैदा करने की इच्छा होना 
तनाव से राहत मिलना 

शोध बताते हैं कि बार-बार सेक्स करना आपकी वेल बींग में ज़रूरी भूमिका निभा सकता है। अक्सर सेक्स करने को बेहतर कनेक्शन से जोड़ा जाता है। जब जोड़े एक दूसरे के लिए ज़्यादा जुड़ाव अनुभव करते हैं, तो उनके बार-बार यौन संबंध बनाने की संभावना भी अधिक होती है। सेक्स रिश्ते का एक महत्वपूर्ण हिस्सा हो सकता है लेकिन कम बार सेक्स में ऑर्गेज़्म तक पहुंचने का मतलब यह नहीं है कि आपका रिश्ता कम संतोषजनक है।

जानें क्या हैं इसके फायदे

सेक्स चैट में सहजता बढ़ाता है ऑरगेज़्म, चित्र: शटरस्टॉक


आपके और आपके साथी के लिए व्यक्तिगत लाभों से परे, सेक्स में नियमित ऑर्गेज़्म कई तरह से एक स्वस्थ रिश्ते का बढ़ावा देता है। उदाहरण के लिए, सेक्स के दौरान रिलीज़ होने वाला ऑक्सीटोसिन हार्मोन आप दोनों के बीच के रिश्ते को प्रगाढ़ बनाएगा और भावनात्मक अंतरंगता में सुधार करेगा। एक संबंध में सेक्स दूसरे व्यक्ति के साथ आपकी प्रतिबद्धता और भावनात्मक संबंध के स्तर को बढ़ाता है। सेक्स के जरिए प्यार का इजहार करने से कपल्स के साथ रहने की संभावना बढ़ जाती है तो ऑर्गेज़्म उन्हें पूरा होने की फील देता है। नतीजतन, सेक्स सकारात्मक रूप से कम तलाक की दर से जुड़ा हुआ है।

क्या कहते हैं एक्सपर्ट

सेक्स रिसर्चर अविका देसाई इस बारे में बात करते हुए कहती हैं कि अंतरंग होने के कई भावनात्मक और मनोवैज्ञानिक लाभ हैं (सेक्स,जीवन की बेहतर गुणवत्ता से जुड़ा हुआ है)।
यह समझना काफी सहज है कि कैसे सेक्स भावनात्मक स्वास्थ्य को बेहतर बनाता है, इसके साथ ही सेक्स से कई शारीरिक लाभ भी हैं।

सेक्स व्यायाम का एक रूप है। अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन के अनुसार, यौन गतिविधि, शारीरिक गतिविधियों (physical activity) के बराबर है, जैसे तेज़ चलना या सीढ़ियां चढ़ना। सेक्स की गति पेट और श्रोणि की मांसपेशियों को कस और टोन कर सकती है। महिलाओं के लिए, बेहतर मांसपेशी टोन मूत्राशय में भी सुधार करता है।

यह भी पढ़ें: सावन के व्रत के दौरान शाम की चाय के साथ खाएं टेस्टी और हेल्दी कुट्टू के पकौड़े

शालिनी पाण्डेय शालिनी पाण्डेय

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स
पीरियड ट्रैकर के साथ।

ट्रैक करें