वेजाइनल लुब्रिकेशन के लिए बेहद महत्वपूर्ण हैं ये 5 विटामिंस, ठंड में नहीं होगी वेजाइनल ड्राइनेस की समस्या

वेजाइना की सेहत का ध्यान रखना बेहद महत्वपूर्ण हो जाता है। हालांकि, इसके लिए अधिक चिंतित होने की आवश्यकता नहीं है, प्रॉपर लुब्रिकेशन मेंटेन करने में कुछ महत्वपूर्ण विटामिन और मिनरल्स आपकी मदद कर सकते हैं।
supplements ke baare me kuch facts
जानिए आपकी सपलीमेंट हैं जरूरी। चित्र: शटरस्टॉक
अंजलि कुमारी Published: 24 Dec 2023, 09:00 pm IST
  • 123

वेजाइना एक बेहद संवेदनशील अंग है। सर्दियों में वेजाइना ड्राई और इर्रिटेड हो सकती है, जिसकी वजह से महिलाओं को अनकंफरटेबल महसूस होता रहता है। इसके साथ ही सेक्स के दौरान अधिक दर्द, बर्निंग सेंसेशन और खुजली का अनुभव होता है। वहीं कई महिलाओं में वेजाइनल ड्राइनेस की वजह से पोस्ट सेक्स ब्लीडिंग भी देखने को मिलती है, जो एक बेहद पेनफुल कंडीशन है। ऐसे में वेजाइना की सेहत का ध्यान रखना बेहद महत्वपूर्ण हो जाता है। हालांकि, इसके लिए अधिक चिंतित होने की आवश्यकता नहीं है, प्रॉपर लुब्रिकेशन मेंटेन करने में कुछ महत्वपूर्ण विटामिन और मिनरल्स आपकी मदद कर सकते हैं (Vitamins for vagina)।

हेल्थ शॉट्स ने इस विषय पर मदरहुड हॉस्पिटल इंदिरा नगर बेंगलुरु की ऑब्सटेट्रिक्स और गायनेकोलॉजी डिपार्टमेंट की कंसल्टेंट डॉक्टर सुहासिनी इनामदार से बात की। डॉक्टर वेजाइनल लुब्रिकेशन और और स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए कुछ महत्वपूर्ण विटामिन के नाम सुझाए हैं (Vitamins for vagina)। तो चलिए जानते हैं, इस बारे में अधिक विस्तार से।

यहां हैं वेजाइनल ड्राइनेस से निपटने के लिए कुछ खास विटामिंस (Vitamins for vagina)

1. विटामिन ई (Vitamin E)

विटामिन ए फैट सॉल्युबल विटामिन है, जो डिजीज फाइटिंग एंटीऑक्सीडेंट के प्रभाव को दोगुना कर देता है। शरीर में विटामिन ई की पर्याप्त मात्रा होने से वेजाइनल लुब्रिकेशन बढ़ जाता है और ड्राइनेस की समस्या नहीं होती। वहीं यह मेनोपॉजल महिलाओं के लिए बेहद महत्वपूर्ण हो जाता है, क्योंकि उस दौरान ड्राइनेस की संभावना सबसे अधिक होती है।

vitamin e ke fayde
विटामिन ई मुख्य रूप से अपने एंटीऑक्सीडेंट गुणों के लिए जाना जाता है। चित्र- अडोबी स्टॉक

2. विटामिन डी (Vitamin D)

विटामिन डी केवल हड्डियों की सेहत के लिए ही नहीं बल्कि आपकी वेजाइनल हेल्थ के लिए भी बेहद महत्वपूर्ण है। मेनोपॉज के दौरान वेजाइनल ड्राइनेस को बीट करने के लिए एक्सपर्ट बॉडी में विटामिन डी की उचित मात्रा को बनाए रखने की सलाह देते हैं। इसके अलावा यह आमतौर पर भी वेजाइना को पूर्ण रूप से लुब्रिकेटेड रहने में मदद करता है, साथ ही साथ इन्हे स्वस्थ रखता है।

यह भी पढ़ें : सर्दी का मौसम बढ़ा देता है इंटीमेट हाइजीन के लिए जोखिम, जानिए कैसे करना है यूटीआई से बचाव

3. ओमेगा 3 फैटी एसिड (Omega 3 fatty acid)

ओमेगा 3 फैटी एसिड एक आवश्यक पोषक तत्व है, जो शरीर के तमाम फंक्शंस जैसे कि हार्ट, लंग्स, इम्यून सिस्टम और एंडोक्राइन सिस्टम को रेगुलेट करती हैं। इसके साथ ही यह मेनोपॉज में एस्ट्रोजन के स्तर में आने वाले गिरावट के कारण वेजाइनल ड्राइनेस को बीट करने में भी बेहद प्रभावी रूप से कार्य करते हैं। यदि ठंड के मौसम में आपको वेजाइनल ड्राइनेस, इचिंग या फिर जलन की समस्या होती है, तो आपको अपनी डाइट में ओमेगा 3 फैटी एसिड युक्त खाद्य पदार्थों को शामिल करना चाहिए। इससे आपको बेहतर महसूस होगा।

4. विटामिन बी कंपलेक्स

विटामिन बी कांप्लेक्स एक ऐसा सप्लीमेंट है, जिसमें आठ प्रकार के विटामिन बी पाए जाते हैं। यह इम्यून फंक्शन को बढ़ावा देता है और समग्र सेहत को बनाए रखने में मदद करता है। इससे वेजाइना की मांसपेशियां फ्लैक्सिबल और मजबूत रहती हैं और लुब्रिकेशन भी बरकरार रहता है। साथ ही साथ यह वेजाइना को संक्रमण से सुरक्षा प्रदान करता है। सप्लीमेंट्स के अलावा विटामिन बी को डाइट में शामिल करने के लिए आप मछली, आलू, केला आदि खा सकती हैं।

Jaanein kaise blood pressure ko control karte hain probiotics
जानते हैं कि किन प्रोबायोटिक्स को आहार में शामिल करें। चित्र : शटरस्टॉक

5. प्रोबायोटिक्स

प्रोबायोटिक पाचन क्रिया के लिए बेहद महत्वपूर्ण है। यह आंतों में हेल्दी बैक्टीरियल ग्रोथ को बढ़ावा देता है, जिससे कि पाचन संबंधी समस्या आपको परेशान नहीं करती हैं। प्रोबायोटिक वेजाइना के लिए भी बेहद महत्वपूर्ण है। यह संक्रमण के खतरे को कम कर देता है और ड्राइनेस से भी बचाव में मदद करता है। प्रोबायोटिक का नियमित सेवन ब्लैडर स्वास्थ्य को बनाए रखता है।

नोट: वेजाइनल स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए जरूरी नहीं है कि आप इन विटामिन को सप्लीमेंट्स के तौर पर ही लें। आप इन्हें अपने खाद्य स्रोत के माध्यम से भी प्राप्त कर सकती हैं। विटामिन सप्लीमेंट्स लेने से कुछ लोगों के संक्रमित होने का खतरा बढ़ जाता है, इसलिए यदि विटामिन सप्लीमेंट्स लेना चाहती हैं तो पहले अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

यह भी पढ़ें : अगर आप भी पीरियड्स में बाहर जा रहीं है तो इन चीजों को अपने साथ रखना न भूलें

  • 123
लेखक के बारे में

इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट अंजलि फूड, ब्यूटी, हेल्थ और वेलनेस पर लगातार लिख रहीं हैं। ...और पढ़ें

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
अगला लेख