क्या आपके पार्टनर को इरेक्टाइल डिसफंक्शन है? तो जानिए कि आपको क्‍या करना चाहिए

क्‍या आपके पार्टनर की इरेक्‍टाइल डिस्‍फंक्‍शन की समस्‍या आपके रिश्‍ते को प्रभावित कर रहीं है? तो यहां एक मनोवैज्ञानिक बता रहीं हैं कि आप इस समस्‍या से कैसे निपट सकती हैं!
इरेक्टाइल डिस्फंक्शन या सेक्सुअल अराउसल डिसॉर्डर है तो आपके लिए सही डॉक्टर सेक्सोलॉजिस्ट है। चित्र: शटरस्‍टॉक
टीम हेल्‍थ शॉट्स Updated: 23 Nov 2023, 15:34 pm IST
  • 92

आपने इसे शुभ मंगल सावधान में देखा है और शायद फिल्म में आयुष्मान खुराना की असहाय हालत पर हँसे भी होंगे और बाद में इसके बारे में जोक्‍स भी शेयर किए होंगे। लेकिन अगर यही स्थिति आपके पार्टनर के साथ है, तो हम समझ सकते हैं कि यह किस तरह आपके रिश्‍ते को प्रभावित कर रहा होगा। आप इसकी गंभीरता से भली-भांति परिचित होंगी और जानती होंगी कि यह स्थिति हंसने वाली तो कतई नहीं है।

हम पुरुषों में होने वाले इरेक्टाइल डिसफंक्शन की बात कर रहे हैं। जर्नल ऑफ क्लिनिकल एंडोक्राइनोलॉजी एंड मेटाबॉलिज्‍म में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार संतोषजनक यौन गतिविधि के लिए लिंग का पर्याप्‍त उत्‍तेजित न हो पाना प्रीमेच्‍योर इजेकुलेशन के बाद पुरुषों में होने वाली सबसे बड़ी यौन समस्‍या है।

इसलिए, यदि आपका साथी इससे पीड़ित है, तो आपको यह जानना होगा कि आप इस स्थिति में अकेली नहीं हैं।

यह आपके रिश्ते को कैसे प्रभावित कर सकता है?

“स्तंभन दोष ( Erectile dysfunction) के कारण संबंधों में काफी तनाव उत्‍पन्‍न हो सकता है, जिससे जोड़ों के बीच अकसर झगड़े होते हैं। यदि इनमें परिवार भी शामिल हो जाए तो स्थिति और भी अपमानजनक और नुकसानदायक हो जाती है। पारस अस्पताल, गुरुग्राम में सीनियर कंसल्‍टेंट, क्लिनिकल साइकोलॉजी एंड साइकोथेरेपी डॉ. प्रीति सिंह कहती हैं, “इस समस्‍या के कारण कितने ही जोड़ों की शादी भी टूट जाती है।”

erectile dysfunction
इरेक्टाइल डिसफंक्शन के कारण सेक्स की कमी आपके और आपके साथी के बीच दरार पैदा कर सकती है। चित्र: सौजन्य

वे कहती हैं, इरेक्‍टाइल डिस्‍फंक्‍शन यौन गतिविधि के दौरान या उससे पहले एंग्‍जायटी पैदा कर सकता है। जिससे पुरुष सेक्स से बचने लगते हैं। दूसरी ओर, महिलाओं में यह सेल्‍फ डाउट के कारण क्रोध, अवसाद और गिरते आत्मसम्मान का कारण बन सकता है। जिसके पीछे यह धारणा काम करती हैं कि वे अपने पार्टनर को उतना आकर्षित नहीं कर पा रहीं, जिससे वह उत्‍तेजना महसूस कर सके। कभी-कभी, यह पार्टनर की ईमानदारी और विश्वास पर भी संदेह पैदा करने का कारण बन जाता है।

यह भी पढ़ें: ये 5 योगासन लिबिडो बढ़ाकर बेहतर बनाते हैं आपकी सेक्‍स लाइफ

तो, आप इससे कैसे निपट सकती हैं?

किसी के साथ प्यार में होने के बावजूद जब आपकी उससे यौन अपेक्षाएं पूरी नहीं हो पाती तो निश्चित ही इससे संबंधों में दूरी आती है और आप भावनात्‍मक रूप से भी आहत होते हैं। यानी आप भावनात्‍मक रूप से उससे दूर होते चले जाते हैं। पर अगर आप इस स्थिति का सामना समझदारी से करती हैं, तो आप इरेक्‍टाइल डिस्‍फंक्‍शन के बावजूद अपने रिश्‍ते को संभाले रखने में कामयाब हो सकती हैं। यहां बताया डॉ सिंह आपको बता रहीं हैं कि ऐसी सिचुएशन को आप कैसे संभाल सकती हैं :

1 सबसे पहले यह समझें कि समस्या की वजह आप नहीं हैं

यदि आपको ऐसा लगता है कि आप कम आकर्षक या कम सुंदर होना आपके पार्टनर में इरेक्‍टाइल डिस्‍फंक्‍शन का कारण है तो आपको यह अच्‍छी तरह समझ लेना चाहिए कि यह एक तरह का यौन विकार है। जो कुछ शारीरिक या मानसिक स्थितियों के कारण होता है।

“यह हृदय की समस्याओं, मधुमेह, अत्यधिक शराब पीने, और धूम्रपान के कारण हो सकता है। मनोवैज्ञानिक मुद्दों जैसे कि परफॉर्मेंस को लेकर चिंता, अवसाद, कामेच्छा की कमी, सेक्स में रुचि न होना, वैवाहिक विवाद, और यौन शिक्षा की कमी के कारण भी हो सकता है।” डॉ सिंह आपको यह सुझाव देती हैं कि इसके लिए आप खुद को दोष देना बंद करें।

2 आपको जानना चाहिए कि यह ठीक हो सकता है

“परेशान न हों। यह एक आम समस्या है और यह इसे आसानी से ठीक किया जा सकता है। अगर एंग्‍जायटी को‍ नियंत्रित किया जाए तो उससे संबंधित अन्‍य कारणों से भी निपटा जा सकता है। डॉ. सिंह कहते हैं कि इन सबको एक साथ संभालने की जरूरत है।

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें

“ज्यादातर स्थितियों में इलाज कारगर होता है। जब तक कि कोई सीरियस मेडिकल कंडीशन इसकी वजह न हो। यह सही दवाओं और सेक्स थेरेपी के संयोजन से मैनेज की जा सकती है।”

pull-out method
चिंता न करें, आपके पार्टनर की यह समस्‍या ठीक हो सकती है। Gif : GIPHY

3 संवेदनशील रहें

डॉ. सिंह चेतावनी देती हैं, “यह बहुत महत्वपूर्ण है कि महिला इस मुद्दे को बहुत संवेदनशील तरीके से मैनेज करने में सक्षम हो।” हो सकता है कि जैसे आपके पार्टनर की इस समस्‍या ने आपके आत्‍मविश्‍वास को शिथिल किया है, हो सकता है कि यह उनमें भी कमी का अहसास भर रही हो। तो, धैर्य रखें और अपने दृष्टिकोण में संवेदनशीलता लाएं। इस मुद्दे पर चर्चा करते समय स्थिति का मज़ाक उड़ाने या उस पर सहानुभूति दिखाने से बचें।

4 उन्‍हें उपचार के लिए प्रोत्साहित करें

समस्या को हल करने के लिए, इसका इलाज किया जाना चाहिए। “एक जोड़े के रूप में आपको किसी यूरोलॉजिस्ट से बात करने की योजना बनानी चाहिए। ताकि सभी तरह के टेस्‍ट और एग्‍जामिनेशन किए जा सकें। एक बार अंतर्निहित कारण की पहचान हो जाने के बाद, एक प्रशिक्षित नैदानिक मनोवैज्ञानिक या सेक्स चिकित्सक के साथ परामर्श करके भी आप इस मसले को सुलझाने की पहल कर सकते हैं।”

आप अन्य उपचार विकल्पों का भी पता लगा सकते हैं – जैसे वियाग्रा, वैक्यूम पंप निर्माण और टेस्टोस्टेरोन थेरेपी आदि।

5 अपनी सीमा निर्धारित करें और उसका सम्‍मान करें

यह जरूरी है और आपको भी इसके बारे में पता होना चाहिए। यदि आपके सर्वोत्तम प्रयासों के बावजूद, वह सहयोग करने को तैयार न हों। अभी भी बहुत ज्‍यादा अहंकार/जिद्दी है और आपको नीचा दिखाने की कोशिश कर रहे हैं। तो निश्चित ही इससे संबंधों में खटास आएगी और आपके रिश्‍ते में जहर घुलना शुरू हो चुका है। तो ऐसे में आपके लिए जरूरी है कि आप उन्‍हें सही रास्‍ता दिखाएं, क्‍योंकि खुश रहना आपका अधिकार है। और इसे आपसे कोई नहीं छीन सकता।

  • 92
लेखक के बारे में

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं। ...और पढ़ें

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
अगला लेख