क्या पीरियड्स के दौरान आपके बट में दर्द होता है? जानिए कारण और उपचार भी

क्या आपने कभी अपने पीरियड्स के दौरान अपने बट में तेज़ दर्द महसूस किया है? यदि हां, तो इस परेशानी का सामना करने वाली आप अकेली नहीं हैं! चलिए इसके कारणों के बारे में जानते हैं।
कूल्हे का दर्द बहुत परेशान करने वाला हो सकता है।चित्र : शटरस्टॉक
टीम हेल्‍थ शॉट्स Published on: 12 August 2021, 19:00 pm IST
ऐप खोलें

क्या आपने खुद को यह सोचते हुए पाया है कि हर बार आपके पीरियड्स आने पर आपके बट में दर्द क्यों होता है? हम में से ज्यादातर लोग इसे एक संयोग मानते हैं, लेकिन असल में इसकी वजह क्या है? ऐसा इसलिए है क्योंकि यह ऐंठन, दर्द और बेचैनी से जुड़ा है, जो कि पीरियड्स से जुड़ा है। यह तब होता है जब आप अपने मासिक धर्म के दौरान रक्तस्राव कर रही होती हैं।

लेकिन इससे पहले कि हम अन्य विवरणों पर उतरें, आपके लिए यह समझना आवश्यक है कि आपका बट किससे बना है।

आपके कूल्हे किससे बने होते हैं?

आप में से अधिकांश लोग शायद न जानते हों कि आपका बट बड़ी मांसपेशियों से बना होता है। जो कूल्हों के नीचे और जांघों के ऊपर स्थित होती हैं। बट की तीन मांसपेशियां होती हैं: ग्लूटस मैक्सिमस, ग्लूटस मेडियस और ग्लूटस मिनिमस। इन मसल्स की मदद से आप एक्सरसाइज, सीढ़ियां चढ़ने और चलने या दौड़ने तक सब कुछ कर सकते हैं।

लेकिन कभी-कभी, दर्द आपके बट के दूसरे हिस्से, यानी गुदा और मलाशय में होता है।

पीरियड बट दर्द के कारण क्या हैं?

1. मांसपेशियों में तनाव

हम ऐंठन, सूजन और इसी तरह के लक्षणों से परिचित हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं कि ये आपकी ग्लूटियल मांसपेशियों पर भी दबाव डाल सकते हैं? जब उस क्षेत्र में अधिक तनाव होता है, तो आपको पीठ के निचले हिस्से, श्रोणि और बट में दर्द का अनुभव होने की सबसे अधिक संभावना होती है।

आपको ऐसा भी लग सकता है कि आपको पेशाब करने की ज़रूरत है! इसके अलावा, यह भी माना जाता है कि पीरियड्स के दौरान बट दर्द अधिक आम है।

पीरियड्स के दौरान बट में दर्द. चित्र : शटरस्टॉक

2. एंडोमेट्रियोसिस

अगर आपके बट में तेज दर्द हो रहा है, तो यह एंडोमेट्रियोसिस का भी संकेत हो सकता है। यह स्थिति तब होती है जब गर्भाशय के बाहर अन्य अंगों पर एंडोमेट्रियल अस्तर बढ़ने लगता है।

3. फाइब्रॉएड

आपके मासिक धर्म के दौरान आपके बट की मांसपेशियों में दर्द होने का एक और कारण हो सकता है। यह फाइब्रॉएड के कारण बढ़े हुए गर्भाशय की ओर इशारा कर सकता है। ये गर्भाशय में गैर-कैंसरयुक्त वृद्धि है, जो किसी व्यक्ति के प्रसव के वर्षों के दौरान विकसित हो सकती हैं।

4. गुदा की समस्या

बट दर्द गुदा समस्याओं के कारण भी हो सकता है, जो आपके पीरियड्स के दौरान तेज हो सकता है। एंडोमेट्रियोसिस भी आंतों में दर्द पैदा कर सकता है और दर्दनाक मल, कब्ज, दस्त और यहां तक ​​कि सूजन जैसे अन्य लक्षणों को भी ट्रिगर कर सकता है।

आपके कूल्हों में दर्द हो सकता है ।चित्र -शटरस्टॉक

क्या इसका पीरियड बट दर्द का इलाज संभव है?

यदि दर्द मांसपेशियों में तनाव के कारण है, तो स्नान करें, अपने शरीर की मालिश करें और आराम करें। आप पेनकिलर भी ले सकती हैं। यदि आप एंडोमेट्रियोसिस से पीड़ित हैं, तो आपको हार्मोनल उपचार से गुजरना पड़ सकता है।

यदि यह फाइब्रॉएड है, तो आप दर्द और अन्य लक्षणों को कम करने के लिए कुछ दवाओं का उपयोग कर सकती हैं। कुछ मामलों में, मायोमेक्टॉमी और हिस्टेरेक्टॉमी जैसे सर्जिकल विकल्प आवश्यक हैं।

यह भी पढ़ें : ये 6 मसाले आपकी सेक्स लाइफ में डाल सकते हैं जान, जानिए इनके फायदे

लेखक के बारे में
टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
Next Story