क्या लिक्विड इंटेक बढ़ाने से यीस्ट इन्फेक्शन दूर हो सकता है? विशेषज्ञ से जानिए इसके बारे में सबकुछ

Published on: 27 January 2022, 20:30 pm IST

महिलाएं यीस्ट इन्फेक्शन की चपेट में जल्दी आती हैं। मगर क्या ज़्यादा पानी पीना शरीर में से जीवाणुओं को बाहर निकालने में मदद करता है? चलिये पता करते हैं।

yeast infection ko door karne ke tips
इन्फेक्शन भी हो सकता है निप्ला. चित्र : शटरस्टॉक

हमारी योनि सबसे अकल्पनीय काम कर सकती है। लेकिन यह यीस्ट संक्रामण के प्रति अतिसंवेदनशील है। यह फंगल संक्रमण योनि और कभी-कभी मूत्र प्रणाली में भी जलन, डिस्चार्ज और खुजली का कारण बनता है। इसे वेजाइनल कैंडिडिआसिस के रूप में भी जाना जाता है, और शोध के अनुसार, यह 4 में से 3 महिलाओं को उनके जीवन में कभी न कभी प्रभावित करता है।

चिंता न करें क्योंकि यह यौन संचारित संक्रमण नहीं है। हालांकि, जब आप यौन रूप से सक्रिय होती हैं तो आपको संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है। जबकि दवाएं इस स्थिति का इलाज करने में मदद कर सकती हैं, लेकिन क्या तरल पदार्थ के सेवन में वृद्धि वास्तव में बैक्टीरिया को खत्म कर सकती है? खैर, हमेशा की तरह, इस प्रश्न का उत्तर देने के लिए हमारे पास एक विशेषज्ञ है।

हमने मैक्स सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल, गुरुग्राम की एसोसिएट डायरेक्टर – ऑब्सटेट्रिक्स एंड गायनेकोलॉजी, डॉ सुमन लाल, से संपर्क किया। उन्होंने हेल्थशॉट्स के साथ साझा किया, “यदि मूत्र प्रणाली में यीस्ट संक्रमण होता है, तो पीने का पानी उन्हें बाहर निकाल देगा। ऐसा इसलिए क्‍योंकि गुनगुना पानी मेटाबॉलिक एक्टिविटी को बढ़ाता है और वजन कम करने में मदद करता है; इसलिए, स्थानीय संक्रमण कम हो जाएगा। पानी पीने से इम्युनिटी बढ़ाने में मदद मिलती है और शरीर से विषैले रेडिकल्स बाहर निकल जाते हैं।

vaginal health ka khyaal rakhein
वेजाइनल हेल्थ का रखें ख्याल। चित्र: शटरस्‍टॉक

क्या हैं यीस्ट संक्रमण के कारण?

अधिकांश योनि खमीर संक्रमणों के जिम्मेदार कवक कैंडिडा अल्बिकन्स है। कुछ बैक्टीरिया ऐसे होते हैं जो यीस्ट के संक्रमण को रोकने में भी मदद करते हैं और जब योनि में संतुलन बिगड़ जाता है, तो यह ऐसे संक्रमणों के लिए प्रजनन स्थल बन जाता है।

कुछ प्रमुख कारणों में शामिल हैं:

एंटीबायोटिक दवाओं का लंबे समय तक उपयोग
गर्भावस्था
अनियंत्रित मधुमेह
लो इम्युनिटी
योनि में नमी
सार्वजनिक शौचालय का उपयोग
ऐसे साथी के साथ यौन संपर्क जिसे यीस्ट इन्फेक्शन हो

इसके कई जोखिम कारक हो सकते हैं। जो महिलाएं व्यापक स्पेक्ट्रम एंटीबायोटिक दवाओं का सेवन करती हैं, वे इस स्थिति से सबसे अधिक पीड़ित होती हैं, क्योंकि दवा योनि में स्वस्थ बैक्टीरिया को मार देती है। कभी-कभी, एस्ट्रोजन के स्तर में वृद्धि से योनि में संक्रमण भी हो सकता है।

apni vaginal health ka khyal rakhein
अपनी योनि की अच्छी तरह देखभाल करें। चित्र-शटरस्टॉक

आप इस स्थिति का इलाज कैसे कर सकती हैं?

डॉ लाल का मानना ​​है कि ढेर सारा पानी पीने से ज्यादा फायदेमंद कुछ नहीं है। हम पहले से ही जानते हैं कि पानी वास्तव में सभी प्रकार के स्वास्थ्य समस्याओं को कैसे हल कर सकता है, और यह मामला अलग नहीं है। ज़्यादा पानी पीने से पेशाब ज़्यादा होती है जो बैक्टीरिया को बाहर निकालने में मदद करती है।

वह आगे कहती हैं – ”आपको सूती कपड़े भी पहनने चाहिए, और टाइट कपड़ों से बचना चाहिए। व्यक्तिगत स्वच्छता बनाए रखें, क्योंकि यह अत्यंत महत्वपूर्ण है। संक्रमण से बचने के लिए शौचालय ट्रेनिंग जरूरी है। इसके अलावा, अपने साथी के साथ यौन क्रिया में शामिल होने पर, कंडोम का भी उपयोग किया जाना चाहिए, खासकर यदि आपको यीस्ट इन्फेक्शन हो।”

कुल मिलाकर, यदि आपको यीस्ट संक्रमण है, तो इन सुझावों का पालन करें, लेकिन पूरी तरह से इलाज के लिए डॉक्टर के पास जाने में देरी न करें।

यह भी पढ़ें : डियर लेडीज कम पानी पीना, आपकी सेक्स लाइफ को भी कर सकता है बर्बाद, हम बताते हैं कैसे

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स
पीरियड ट्रैकर के साथ।

ट्रैक करें