ऐप में पढ़ें

क्या पीरियड फ्लो में कमी का मतलब है कम फर्टिलिटी? एक्सपर्ट से जानिए इसके बारे में सब कुछ

Published on:15 October 2021, 20:00pm IST
हमारा मासिक धर्म चक्र हमारे प्रजनन स्वास्थ्य को दर्शाता है। तो, क्या पीरियड्स के दौरान कम फ्लो बच्चे के होने की संभावना कम होने का संकेत दे सकता है? जानिए स्त्री रोग विशेषज्ञ का इस बारे में क्या कहना है।
क्या पीरियड फ्लो में कमी का मतलब है कम फर्टिलिटी? चित्र : शटरस्टॉक

पीरियड्स में किसी को भी ऐंठन और मूड स्विंग पसंद नहीं हैं, लेकिन हम अपने पीरियड्स पर विशेष ध्यान देते हैं। क्योंकि वे हमारे समग्र स्वास्थ्य की स्थिति का भी संकेत देते हैं। विशेष रूप से, हमारे पीरियड्स हमें हमारे प्रजनन स्वास्थ्य के बारे में जानकारी प्रदान कर सकते हैं। जो महिलाएं अपना परिवार शुरू करना चाहती हैं, उनके लिए थोड़ा सा भी बदलाव चिंता का कारण हो सकता है।

एक पीरियड के दौरान औसतन एक महिला 80 मिली से भी कम रक्त खो देती है। इसके अलावा, 3 से 7 दिनों तक पीरियड्स चलना सामान्य माना जाता है। साथ ही फ्लो पर नजर रखना बेहद जरूरी है। भारी और हल्का फ्लो दोनों पीरियड्स हार्मोनल समस्याओं के कारण हो सकता है।

यदि आपका पीरियड फ्लो कम है तो, आपको यह सब देखने को मिल सकता है

कम दिनों के लिए ब्लीडिंग
कम पैड या टैम्पोन का उपयोग करने की आवश्यकता
पहले कुछ दिनों में भारी रक्तस्राव का अनुभव नहीं हो रहा है, लेकिन हल्का खून आ रहा है
ब्लीडिंग स्पॉटिंग जैसा लगता है

पीरियड्स का हल्का फ्लो चिंता का कारण बन सकता है। चित्र: शटरस्टॉक

इसी तरह, कई महिलाओं को आश्चर्य होता है कि क्या हल्का फ्लो इस तथ्य की ओर इशारा करता है कि उनकी प्रजनन क्षमता कम हो रही है। इसे समझने के लिए हेल्थशॉट्स ने फोर्टिस एस्कॉर्ट्स अस्पताल, जयपुर के निदेशक – प्रसूति, स्त्री रोग, और आईवीएफ विशेषज्ञ डॉ. सी.पी. दधीच से बात की।

क्यों हल्का हो जाता है पीरियड फ्लो?

विशेषज्ञ के अनुसार, “स्वास्थ्य के लिहाज से हल्का पीरियड किसी भी कारण से हो सकता है। यदि यह एक बदलाव है, जिसे आपने हाल ही में देखा है, तो आपको इसे अपने डॉक्टर को बताना चाहिए।”

इस बारे में बात करते हुए कि हल्का पीरियड फर्टिलिटी के मुद्दों से कैसे जुड़ा हो सकता है, दधीच ने कहा, “एक हल्का पीरियड हार्मोनल समस्याओं जैसे पॉलीसिस्टिक ओवेरियन डिसऑर्डर (पीसीओडी) या थायरॉयड मुद्दों की ओर इशारा कर सकता है। शरीर के हार्मोनल संतुलन में इस तरह की गड़बड़ी का असर मासिक धर्म के प्रवाह के साथ-साथ प्रजनन क्षमता पर भी पड़ सकता है। इसके अलावा, एक महिला की प्रजनन क्षमता और मासिक धर्म की नियमितता भी उम्र के साथ प्रभावित होती है।

हल्के पीरियड होने पर अपने चिकित्सक से संपर्क करें। चित्र : शटरस्टॉक

35 वर्ष से अधिक उम्र की महिला की प्रजनन क्षमता कम हो जाएगी और साथ ही, उनके पीरियड्स में हल्का फ्लो भी दिखाई दे सकता है। हालांकि, यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि प्रत्येक मामला चिकित्सकीय रूप से अलग होता है।”

यदि आपको हल्के पीरियड फ्लो तो आप प्रजनन संबंधी समस्याओं का सामना कर रही हैं। इसलिए आपको एक डॉक्टर से बात करनी चाहिए कि आपके मामले में विशेष समस्या क्या है। अचानक आपका मासिक धर्म हल्का होना आपकी प्रजनन क्षमता से संबंधित हो सकता है और नहीं भी।

तो, लेडीज, पीरियड फ्लो आपके स्वास्थ्य के बारे में बहुत कुछ बता सकता है। यह आपके प्रजनन स्तर का संकेत भी हो सकता है और नहीं भी। यह सब समझने के लिए डॉक्टर से बात करना सबसे अच्छा है।

यह भी पढ़ें : क्या यूटीआई के इलाज में फायदेमंद है क्रैनबेरी जूस? चलिये पता करते हैं

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।