वैलनेस
स्टोर

क्या आप अब भी प्यूबिक हेयर से जुड़े इन मिथ पर विश्वास करती हैं? जानिए क्या है सच्चाई

Published on:25 August 2021, 20:30pm IST
क्या आपको लगता है कि आप अपनी प्यूबर्टी को अच्छी तरह जानती हैं? अगर ऐसा है तो आप यकीनन प्यूबिक हेयर से जुड़े इन मिथ्स पर भरोसा नहीं करती होंगी।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 113 Likes
pubic hair myth
प्यूबिक हेयर से जुड़े इन मिथ्स पर भरोसा न करें. चित्र : शटरस्टॉक

प्यूब्स अपने आप में एक विवाद का विषय हैं। आप इसे पसंद करें या न करें, ये आपकी योनि की स्वच्छता और अच्छे स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद करते हैं। हर किसी के प्यूबिक हेयर होते हैं, लेकिन हम इसके साथ क्या करते हैं, ये हमारा निर्णय है। यह इस पर भी निर्भर करता है कि आप अपनी प्यूबर्टी को कितनी सहजता से स्वीकार करती हैं। आइए जानते हैं, कुछ ऐसे मिथ्स के बारे में जिन पर ज्यादातर महिलाएं आंख मूंदकर भरोसा कर लेती हैं।

यहां सबसे अधिक विश्वास किए जाने वाले प्यूबिक हेयर मिथ की एक सूची है, जिन पर आपको तुरंत विश्वास करना क्यों बंद कर देना चाहिए।

मिथ 1: प्यूब्स सेक्स को कम सुखद बनाते हैं

यह हर महिला में अलग-अलग होता है। आपके जननांग क्षेत्र की त्वचा नाजुक होती है और यह प्यूबिक हेयर से सुरक्षित रहती है। कई महिलाएं सोचती हैं कि जघन बाल एक सुरक्षात्मक परत के रूप में कार्य करते हैं, जिससे सेक्स के दौरान घर्षण कम होता है।

इसके अलावा, यह सेक्स को अधिक सहज बनाता है, लेकिन कुछ महिलाएं अधिक तीव्र अनुभव पसंद करती हैं, जो तब होता है जब वे इनसे मुक्त होती हैं। यह आपके ऊपर है कि आपको क्या पसंद है। आप सेक्स का आनंद ले सकती हैं, भले ही बाल हों।

मिथ 2: प्यूबिक हेयर का रंग स्कैल्प के बालों के समान होता है

प्यूबिक हेयर कलर आपके सिर के बालों के रंग पर निर्भर नहीं करता है। आपके बालों का रंग प्रत्येक बाल में मेलेनिन की मात्रा से निर्धारित होता है, जो भिन्न हो सकता है। जघन क्षेत्र में मेलेनिन का उत्पादन थोड़ा अधिक होता है, इसलिए वहां बाल ज्यादा काले होते हैं। तो, प्यूबिक हेयर कलर आपके सिर के बालों से मेल नहीं खाता।

pubic hair myth
प्यूबिक हेयर को हटाना है या नहीं आपकी मर्ज़ी है! चित्र : शटरस्टॉक

मिथ 3: प्यूबिक हेयर एक टर्न-ऑफ है

यह फिर से एक मिथ है, जिस पर लोग आसानी से विश्वास करते हैं। वास्तव में, प्यूबिक हेयर एक टर्न ऑन हो सकता है, क्योंकि यह फेरोमोन से भरा होता है और जो लोग गंध के प्रति संवेदनशील होते हैं, वे इसके प्रति अधिक आकर्षित हो सकते हैं।

मिथ 4: प्यूबिक हेयर कभी भी बढ़ना बंद नहीं करते

आपके प्यूबिक बाल हमेशा नहीं बढ़ते रहेंगे। यह एक निश्चित बिंदु तक पहुंचने पर बढ़ना बंद हो जाते हैं। इसकी लंबाई हर व्यक्ति में भिन्न होती है, लेकिन यह 0.5 से दो इंच के बीच रुक जाता है। तो चिंता न करें लेडीज, प्यूबिक हेयर हमेशा के लिए नहीं बढ़ने वाले हैं!

मिथ 5: अगर आपकी त्वचा संवेदनशील है, तो आपको वहां शेव नहीं करनी चाहिए

चूंकि प्यूबिक हेयर शरीर के सबसे मोटे बाल होते हैं और इसके आसपास की त्वचा संवेदनशील होती है, इसलिए बालों को वैसे ही छोड़ देना सबसे अच्छा है। ऐसा इसलिए है क्योंकि ये वहां सुरक्षा प्रदान करते हैं। हालांकि, त्वचा के करीब ज्यादा शेविंग करने से खुजली और जलन हो सकती है।

खासकर अगर आपकी त्वचा संवेदनशील है। वैक्सिंग या लेजर हेयर रिमूवल जैसे बालों को हटाने के तरीकों पर विचार करें।

pubic hair myth
अपने प्‍यूबिक हेयर शेव करने हैं या नहीं, ये पूरी तरह आपका फैसला होना चाहिए। चित्र: शटरस्‍टॉक

मिथ 6: प्यूबिक हेयर एसटीडी से बचाते हैं

अध्ययन में यौन संचारित रोगों (एसटीडी) और प्यूबिक हेयर के बीच कोई संबंध नहीं पाया गया है। पीएलओएस वन नामक पत्रिका में प्रकाशित शोध से पता चलता है कि जो महिलाएं अपने प्यूबिक हेयर को वैक्स या शेव करती हैं, उनमें एसटीडी होने का खतरा अधिक नहीं होता है।

मिथ तब पैदा होते हैं जब जागरूकता की कमी होती है। तो, जागरूक रहें और अपने शरीर का प्रत्येक हिस्से का आनंद लें।

यह भी पढ़ें : लगातार बदलता है आपके स्तनों का आकार, एक्सपर्ट बता रहे हैं सही ब्रा चुनने के लिए 3 टिप्स

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।