क्या वाकई वेजाइनल हेल्थ में सुधार कर सकते हैं प्रोबायोटिक्स? आइए पता करते हैं

Published on: 11 July 2022, 21:00 pm IST

कई विशेषज्ञ योनि स्वास्थ्य के लिए प्रोबायोटिक्स लेने की सलाह देते हैं। लेकिन यह स्टडी कहती है कि प्रोबायोटिक्स आपके योनि स्वास्थ्य के लिए बहुत ज्यादा फायदेमंद नहीं हैं।

Dahi
दही को नमक के साथ नहीं, बल्कि गुड़ के साथ खाना चाहिए। चित्र:शटरस्टॉक

आपकी योनि में लैक्टोबैसिली जैसे अच्छे और खराब बैक्टीरिया दोनों रहते हैं। ये दोनों बैक्टीरिया पीएच बैलेंस को बनाए रखने में मदद करते हैं और गुड बैक्टीरिया के विकास में बढ़ावा देते हैं। हालांकि, इस संतुलन को अनसेफ सेक्स, डूशिंग, सुगंधित उत्पाद आदि खराब कर सकते हैं। ऐसी स्थिति में आमतौर पर विशिष्ट खाद्य पदार्थ खाने की सलाह दी जाती है, जो अच्छे योनि स्वास्थ्य को बढ़ावा देते हैं। इसके लिए प्रोबायोटिक्स खाने पर सबसे अधिक जोर दिया जाता है। पर क्या प्रोबायोटिक्स वाकई वेजाइनल हेल्थ (Probiotics for vaginal health) के लिए काम करते हैं? एक ताज़ा स्टडी कहती है बहुत ज्यादा नहीं। आइए जानते हैं इसका कारण।

प्रोबायोटिक्स (Probiotics) अच्छे बैक्टीरिया होते हैं, जो नेचुरल एंटीबायोटिक्स का प्रोडक्शन करके टॉक्सिंस को खत्म करने और हानिकारक बैक्टीरिया को मारने में शरीर की सहायता कर सकते हैं। ये अच्छे बैक्टीरिया के संतुलन को भी बहाल कर सकते हैं। परिणामस्वरूप कई मेडिकल प्रोफेशनल इस बात से सहमत हैं कि प्रोबायोटिक्स योनि और पाचन तंत्र दोनों के लिए फायदेमंद हैं।

हालांकि लेटेस्ट स्टडी कुछ और ही कहती है। इसके अनुसार, प्रोबायोटिक्स योनि स्वास्थ्य को बनाए रखने में अक्षम होते हैं।

योनि स्वास्थ्य और प्रोबायोटिक्स के बारे में क्या कहता है अध्ययन

प्रोबायोटिक्स जिसमें अच्छे बैक्टीरिया शामिल हैं, वेजाइनल माइक्रोबायोटा असंतुलन वाली महिलाओं के इलाज के साधन के रूप में लोकप्रिय हो रहे हैं। जीलैंड यूनिवर्सिटी हॉस्पिटल के रेप्रोहेल्थ रिसर्च कंसोर्टियम के एक हालिया अध्ययन से यह संकेत मिलता है कि जब महिलाओं को फर्टिलिटी ट्रीटमेंट से पहले 10 दिनों तक प्रोबायोटिक्स रोजाना दिया जाता है, तो यह हानिकारक वैजाइनल फ्लोरा में सुधार नहीं करता है। ये महिलाएं प्लेसिबो लेने वालों से ज्यादा अलग नहीं थीं।

पर बंद न करें प्रोबायोटिक्स का सेवन

हम ऐसा इसलिए कह रहे हैं, क्योंकि चाहे वे (इस अध्ययन में शामिल महिलाएं) प्रोबायोटिक्स लेना जारी रखें या नहीं, एक से तीन महीने के बाद सभी परीक्षण प्रतिभागियों के एक तिहाई (34 प्रतिशत) से अधिक लक्षणों में सुधार हुआ। इसलिए, प्रतिकूल योनि माइक्रोबायोम वाले रोगियों के लिए यह अनुमान लगाया जाता है कि सामान्य संतुलन तक पहुंचने तक प्रजनन उपचार में देरी उपयोगी हो सकती है।

vaginal care ke liye probiotics
आप अपनी वेजाइनल केयर में श्मइल कर सकती हैं प्रोबायोटिक्स. चित्र : शटरस्टॉक

प्रिंसिपल इन्वेस्टिगेटर इडा एंगबर्ग जेपसेन ने कहा, “रोगियों में देखी गई सहज सुधार दर आईवीएफ समय के प्रति दृष्टिकोण में बदलाव के लिए आधार प्रदान कर सकती है।”

उन्होंने आगे कहा, “इस अध्ययन में परीक्षण किए गए विशिष्ट योनि प्रोबायोटिक का आईवीएफ से पहले योनि माइक्रोबायोम की अनुकूलता पर कोई प्रभाव नहीं पड़ा। इसलिए आगे और अधिक शोध की जरूरत है। लेकिन सामान्य तौर पर, प्रोबायोटिक्स को अभी छूट नहीं देनी चाहिए।”

योनि स्वास्थ्य के लिए प्रोफेशनल मदद लेना है ज्यादा जरूरी

एमएससी फूड साइंस एंड न्यूट्रिशन की सीनियर कंसल्टेंट दीप्ति लोकेशप्पा कहती हैं, “हालांकि यह एक सर्वविदित तथ्य है कि प्रोबायोटिक्स अच्छे बैक्टीरिया के विकास में सहायता करते हैं। वे आंत के स्वास्थ्य और पाचन संबंधी समस्याओं के लिए फायदेमंद हो सकते हैं, वहीं योनि के लिए यह कितना फायदेमंद है, यह नहीं कहा जा सकता है।”

तो क्या है निष्कर्ष

असल में अभी तक कोई निर्णायक सबूत यह नहीं बताता कि प्रोबायोटिक्स योनि स्वास्थ्य में सुधार करते हैं। हालांकि, बाजार में कई प्रोबायोटिक प्रोडक्ट हैं, जो योनि में स्वस्थ बैक्टीरिया को बेहतर बनाने का दावा करते हैं, लेकिन उन पर पूरी तरह भरोसा नहीं करना चाहिए। यदि आप किसी योनि संबंधी समस्या से पीड़ित हैं, तो प्रोबायोटिक्स लेने की बजाय मेडिकल प्रोफेशनल की मदद लें।

लोकेशप्पा सुझाव देती हैं कि योनि स्वास्थ्य से संबंधित मुद्दों का इलाज करने के लिए महिलाओं को अपने डॉक्टर से इलाज लेना चाहिए, जो उचित एंटीबायोटिक्स या एंटीफंगल उपचार की सिफारिश कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें : आपकी वेजाइना को भी है मॉइस्चराइज़ करने की जरूरत, हम बता रहे हैं क्यों

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स
पीरियड ट्रैकर के साथ।

ट्रैक करें