Vaginal Hygiene tips: आपके लेडी पार्ट को चाहिए एक्स्ट्रा केयर, जानिए इसके प्राकृतिक तारीके

महिलाओं का इंटीमेट एरिया बहुत नाजुक होता हैं। इसे शरीर के अन्य अंगों की तुलना में ज्यादा केयर की जरूरत होती हैं। इसलिए हम बता रहें कुछ वजाइनल केयर टिप्स!
वजाइनल हेल्थ के लिए जरुरी है प्यूबिक हेयर। चित्र: शटरस्टॉक
अदिति तिवारी Published on: 7 October 2021, 20:30 pm IST
ऐप खोलें

क्या आपको वजाइनल एरिया में खुजली, जलन, सफेद पानी या गीलापन महसूस होता हैं? अगर ऐसा हैं तो यह इंफेक्शन के लक्षण हो सकते हैं। ऐसी परेशानियों से बचने के लिए जरूरी है कि आप अपने लेडी पार्ट का खास ख्याल रखें। अक्सर ज्यादा केमिकल युक्त चीजों का इस्तेमाल करने से भी प्राइवेट पार्ट में इचिंग हो सकती हैं। विज्ञापनों में दिखाए जानें वाले प्रोडक्टस आपके वेजाइन के लिए हमेशा सुरक्षित विकल्प नहीं हो सकते हैं। इसलिए कुछ दैनिक बदलाव और प्राकृतिक उपचार की मदद से आप अपनी लेडी पार्ट को स्वस्थ रख सकती हैं। 

इंटीमेट हाइजीन के लिए करें ये दैनिक बदलाव 

1. कॉटन पैंटीज पहनें 

बाजार में भले कई प्रकार की लेस या डिजाइनर पैन्टीज आ गई हों, लेकिन कॉटन पैंटी आपके वेजाइना के लिए बेस्ट विकल्प है। कॉटन पैंटी जैसा कम्फर्ट आपको कोई मैटिरियल नहीं दे सकता। कॉटन पैन्टीज फ्रेश एयर को पास होने देता हैं, जिसकी वजह से बदबू या गीलापन नहीं होता हैं। यह बैक्टीरिया को भी नहीं पनपने देते। 

कॉटन पेन्टीज हैं आपके वेजाइन की बेस्ट फ्रेंड। चित्र : शटरस्टॉक

2. सेक्स के बाद करें सफाई 

अक्सर सेक्स के बाद आप अपने इंटीमेट हाइजीन को नजरंदाज कर देते हैं। ऐसा करना आपके वेजाइन के लिए सुरक्षित नहीं हैं। सेक्स के बाद यूरीनेट करें ताकि बैक्टीरिया आपके सिस्टम से निकल जाएं। साथ ही अपने लेडी पार्ट को गुनगुने पानी और माइल्ड सोप से धोएं। यह न सोचें कि आपके पार्टनर को कैसा लगेगा, क्योंकि आपके वेजाइना की हेल्थ आपकी हेल्थ से जुड़ी हैं। 

3. पीरियड्स में रखें खास ख्याल 

हर महीने होने वाले पीरियड्स के समय अपने वेजाइना का खास ख्याल रखें। इस समय इन्फेक्शन होने का खतरा ज्यादा होता है। आपके बॉडी से ब्लड डिस्चार्ज होता है जो पैड या टैम्पान की वजह से इंटीमेट एरिया में लग सकता हैं। इसलिए दिन में कम से कम तीन बार पैड जरूर बदलें। इसके साथ ही अपने गुप्तांग को गुनगुने पानी से धोएं। 

वेजाइनल केयर के लिए घरेलू उपाय 

1. शहद और दही का उपयोग 

दही में मौजूद प्रोबायोटिक आपको वेजाइनल  इन्फेक्शन से बचाते हैं। दही के साथ शहद मिलाने से दोगुने लाभ प्राप्त हो सकते हैं। शहद में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो वेजाइना की सूजन या दर्द को कम करते हैं। आप इस मिश्रण को खा सकती हैं या जल्दी परिणाम पाने के लिए अपने वेजाइना के ऊपरी हिस्से में लगा सकती हैं। इससे इन्फेक्शन का खतरा कम हो जाता हैं। 

2. टी ट्री ऑयल को लगाएं 

टी ट्री ऑयल में एंटी फंगल, एंटी बैक्टीरियल और एंटी वायरल गुण होते हैं जो इचिंग और जलन को कम करने में मदद करता है। इसके लिए आपको टी ट्री ऑयल की 4 से 6 बूंदे लेकर प्राइवेट पार्ट के ऊपरी हिस्से में लगाना है और कुछ देर बाद धो लें। 

टी ट्री ऑयल वेजाइनल इचिंग से भी छुटकारा दिला सकता है। चित्र: शटरस्‍टॉक

3. एप्पल साइडर विनेगर 

यह आपके इंटीमेट एरिया के लिए एक औषधि के रूप में काम कर सकता हैं। इसके एंटी-फंगल गुण के कारण यह इचिंग और जलन से राहत देता है। इसके अलावा एसीवी (ACV) आपके वजाइना के पीएच (pH) को मेंटेन रखता है। 

आप एक गिलास पानी में एक चम्मच एप्पल साइर विनेगर मिलाकर पी सकती हैं। या आप चाहे तो नहाने के पानी में भी आधा कप मिला सकती हैं। लेकिन इसका सीधा इस्तेमाल न करें, क्योंकि यह एसिडिक नेचर का होता है जिसकी वजह से इंटीमेट एरिया में गंभीर जलन हो सकती हैं। 

तो लेडीज, अपने प्राइवेट पार्ट का खास ख्याल रखें और फ्रेश फील करें!

यह भी पढ़ें: इतना भी बुरा नहीं है मास्टरबेट करना, मास्टरबेशन से जुड़े इन 5 मिथ्स पर कतई न करें भरोसा

लेखक के बारे में
अदिति तिवारी

फिटनेस, फूड्स, किताबें, घुमक्कड़ी, पॉज़िटिविटी...  और जीने को क्या चाहिए !

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
Next Story