क्या पैंटी लाइनर हर रोज यूज किया जा सकता है? या इसके कुछ साइड इफैक्ट्स भी हैं?

Published on: 7 March 2022, 22:00 pm IST

आपने सैनिटरी पैड और टैम्पोन का तो कई बार इस्तेमाल किया होगा। मगर क्या आपने कभी पैंटी लाइनर का इस्तेमाल किया है? यदि हां... तो क्या इन्हें रोज़ इस्तेमाल करना चाहिए? चलिये पता करते हैं।

panty liner ka istemaal har roz bhi kiya jaa sakta hai
जानिए क्या है पैंटी लाइनर और इन्हें इस्तेमाल करने का तरीका. चित्र : शटरस्टॉक

अपने पीरियड्स के दिनों में सैनिटरी पैड और टैम्पोन का इस्तेमाल हम सभी करते आ रहे हैं। मगर आप वेजाइनल डिस्चार्ज को मैनेज करने के लिए क्या करती हैं? हालांकि, यह कोई समस्या नहीं है। मगर फिर भी डिस्चार्ज से आपको कभी – कभी असजह महसूस हो सकता है। इससे न केवल आपको अजीब महसूस हो सकता है, बल्कि यह आपकी पैंटी को भी गंदा कर सकता है। इसके लिए कुछ महिलाएं पैंटी लाइनर का इस्तेमाल करती हैं। पर क्या इन्हें रेगुलर यूज किया जा सकता है? या इनके भी कुछ साइड इफैक्ट्स हैं? आइए जानते हैं इनके बारे में विस्तार से।

जानिए क्या हैं पैंटी लाइनर?

पैंटी लाइनर आपके सैनिटरी पैड की तरह ही होते हैं। ये पतले और छोटे होते हैं और कम सोखते हैं। हालांकि, मासिक धर्म के दिनों में उपयोग किए जाने वाले सैनिटरी पैड के विपरीत, पैंटी लाइनर का उपयोग बिना पीरियड्स के भी किया जा सकता है, जब आपको योनि स्राव या स्पॉटिंग का अनुभव कर रहीं हों।

भले ही योनि स्राव पूरी तरह से नैचुरल है और आपकी योनि के लिए महत्वपूर्ण है (यह आपकी योनि की स्वयं-सफाई तकनीक का एक हिस्सा है), ज़्यादा डिस्चार्ज आपकी पैंटी को गंदा कर सकता है और आपको गीला और अनकम्फर्टेबल महसूस करा सकता है।

ऐसे दिनों में सैनिटरी नैपकिन का इस्तेमाल करना सबसे अच्छा उपाय नहीं है और तभी पैंटी-लाइनर काम आता है। यह किसी भी प्रकार के धब्बे को रोक सकता है और आपको फ्रेश महसूस करने में मदद करता है।

सैनिटरी पैड से कैसे अलग है पैंटी लाइनर?

भले ही पैंटी लाइनर का इस्तेमाल सैनिटरी नैपकिन की तरह ही किया जाता है, लेकिन वे सैनिटरी पैड से अलग होते हैं। पैंटी लाइनर पतले और बहुत कम सोखते हैं। पैंटी लाइनर हल्के योनि स्राव और लाइट फ्लो को अवशोषित करने के लिए डिज़ाइन किए गए हैं।

sanitary pad kii tarah hi hota hai panty liner
सैनिट्री पैड की तरह ही होते हैं पैंटी लाइनर। चित्र : शटरस्टॉक

कैसे करें पैंटी लाइनर का इस्तेमाल?

पैंटी लाइनर्स का इस्तेमाल करना सैनिटरी नैपकिन के इस्तेमाल जितना ही आसान है। बस सुरक्षात्मक पट्टी को हटा दें ताकि नीचे से चिपकने वाला हिस्सा बाहर निकल जाए और पैंटी लाइनर को मजबूती से चिपका दें।

अपने पैंटी लाइनर को बदलना याद रखें। यदि वह गीला महसूस करना शुरू कर देता है और सामान्य तौर पर हर 3-5 घंटे में बदलें। सुनिश्चित करें कि आप इस्तेमाल किए गए पैंटी लाइनर को कूड़ेदान में फेंक दें और उन्हें फ्लश करने से बचें क्योंकि वे शौचालय को ब्लॉक कर सकते हैं।

पैंटी लाइनर्स के क्या फायदे हैं?

जिस तरह सैनिटरी नैपकिन और अन्य पीरियड उत्पाद दुनिया भर में मासिक धर्म वाली महिलाओं के लिए वरदान साबित हुए हैं, उसी तरह पैंटी लाइनर्स कई लाभ प्रदान करते हैं:

यह योनि स्राव को अवशोषित करते हैं और आपको पूरे दिन फ्रेश, ड्राइ और आरामदायक महसूस करने में मदद करते हैं।

ये आपको लंबे समय तक नमी बनाए रखने के कारण होने वाले संक्रमण से बचाते हैं।
पैंटी लाइनर्स आपके पीरियड के अंतिम दिनों के दौरान हल्के फ्लो के खिलाफ सुरक्षा प्रदान कर सकते हैं।

यह रोजमर्रा की स्वच्छता बनाए रखने में मदद करते हैं।

vaginal discharge mein khoon aane ke karan
अपने वेजाइनल डिस्चार्ज पर ध्यान दें। चित्र : शटरस्टॉक

पैंटी लाइनर का प्रयोग करते समय किन बातों का ध्यान रखना चाहिए?

पैंटी लाइनर बहुत सुविधाजनक होते हैं और कई तरह से आपकी मदद कर सकते हैं, हालांकि, कुछ चीजें हैं जिन्हें आपको पैंटी लाइनर का उपयोग करते समय ध्यान में रखना चाहिए:

1. आपके सैनिटरी नैपकिन और टैम्पोन की तरह, हर कुछ घंटों में अपने पैंटी लाइनर को बदलने की सलाह दी जाती है हर 3-5 घंटे में। यह संक्रमण के जोखिम को कम करता है।

2. पैंटी लाइनर लगाकर सोने की सलाह नहीं दी जाती है, क्योंकि यह आपकी त्वचा को ठीक से सांस लेने से रोक सकता है।

यह भी पढ़ें ; क्या पीरियड्स में पीना चाहिए एलोवेरा जूस? एक्सपर्ट दे रहे हैं इसका सही जवाब

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स
पीरियड ट्रैकर के साथ।

ट्रैक करें