और पढ़ने के लिए
ऐप डाउनलोड करें

क्या यूटीआई कर सकता है आपके पीरियड्स को प्रभावित, आइए पता करते हैं

Published on:14 March 2021, 18:00pm IST
यदि आप उन महिलाओं में से हैं, जो यूटीआई से जूझ रही हैं, खासकर अपने पीरियड्स के आसपास, तो हम आपको बता दें कि इसका एक बहुत बड़ा कारण है। इसके बारे में और ज्‍यादा जानने के लिए आगे पढ़ती रहिए।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 84 Likes
इस तनाव का असर आपके पीरियड्स पर पड़ सकता है । चित्र: शटरस्‍टॉक
इस तनाव का असर आपके पीरियड्स पर पड़ सकता है । चित्र: शटरस्‍टॉक

अधिकांश महिलाओं को अपने जीवनकाल में कभी न कभी मूत्र पथ का संक्रमण (urinary tract infection) या यूटीआई (UTI) होता है। आंकड़े इस बात का प्रमाण हैं, कि हर दो में से एक महिला को यूटीआई था। आप अच्छी तरह जानती हैं कि यह कितना दर्दनाक हो सकता है, है ना? 

जानकारी के लिए आपको बता दें, कि यूटीआई तब होता है जब बैक्टीरिया मूत्र पथ में प्रवेश करते हैं। ज्यादातर मामलों में, यह एस्चेरिचिया कोलाई (E.coli) है जो गुदा मार्ग और योनि क्षेत्र से मूत्र पथ में जाता है। सेक्स भी इसका एक कारण है।

लेकिन क्या आप जानती हैं कि यूटीआई आपके पीरियड्स के दौरान सबसे अधिक होता है। नहीं हम मजाक नहीं कर रहे हैं! एक ही समय में यूटीआई और पीरियड्स के साथ निपटना हमारे धीरज की परीक्षा है। लेकिन इसके बारे में आपके लिए जानना जरूरी है कि आपको इसका सामना क्यों करना पड़ता है।

आइए आपको बताते हैं कि आपके पीरियड्स के दौरान यूटीआई क्यों आम है

यूटीआई और पीरियड्स का क्‍या संबंध है 

हमने पहले ही यह स्थापित कर दिया है कि यूटीआई आमतौर पर यौन गतिविधि से जुड़े होते हैं। आपके पीरियड्स के आसपास ऐसा होने का कारण यह है कि एस्ट्रोजन एंटी-इंफ्लेमेटरी है, और जब यह ब्लीडिंग होती है। तो यह हार्मोन अपने निम्नतम स्तर पर होता है। इसलिए आपको इस बिंदु पर संक्रमण होने की अधिक आशंका होती है।

यह भी पढें: आपके मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य के लिए खतरनाक हो सकती है सेक्सटिंग, मनोचिकित्‍सक बता रहे हैं कैसे

हालांकि, जो लोग यूटीआई के प्रति प्रोन (prone) हैं, सेक्स के बाद पेशाब करने से लेकर आगे-पीछे पोंछने तक सब कुछ करते हैं, लेकिन आपको पीरियड्स के दौरान भी ऐसा करना चाहिए। हम समझते हैं कि एक ही समय में दोनों करना कठिन हो सकता है। लेकिन लेडीज, क्या आप अपने पीरियड्स के दौरान यूटीआई-मुक्त नहीं होना चाहती? तो जानिए इसके बारे में सब कुछ।  

यूटीआई के कुछ सामान्य लक्षण क्या हैं?

  • पेशाब करते समय जलन होना
  • लगातार पेशाब आना
  • पेट के निचले हिस्से में दर्द
  • झागदार पेशाब
  • अचानक पेशाब महसूस होना 
  • मूत्राशय पर नियंत्रण न होना
  • पेशाब में गंध
  • योनि में जलन
अपनी योनि को हमेशा साफ रखें। चित्र-शटरस्टॉक।

क्या यूटीआई आपके पीरियड्स को प्रभावित कर सकता है?

तो इसका जवाब है, नहीं। यूटीआई किसी भी तरह से आपके पीरियड्स को प्रभावित नहीं करता है, या लोकप्रिय धारणा के विपरीत, यह आपकी पीरियड्स में देरी का कारण नहीं बनता है। बेशक, तनाव आपके मासिक धर्म चक्र पर प्रभाव डाल सकता है। इसलिए, यदि आप यूटीआई प्राप्त करने को लेकर तनाव महसूस करती हैं, तो आपके पीरियड्स मिस हो सकते हैं या उनमें देरी हो सकती है।

यदि यूटीआई आपके पीरियड्स के दौरान होता है, तो अपनी व्यक्तिगत स्वच्छता का अधिक ध्यान रखें। सैनिटरी नैपकिन को अक्सर बदलें और योनि को साफ रखें। अच्छी गुणवत्ता वाले सैनिटरी नैपकिन का उपयोग करें और टैम्पोन से बचने का यथासंभव प्रयास करें।

इसके अलावा, कुछ महिलाएं अपने पीरियड्स के दौरान यौन संबंध बनाना पसंद करती हैं। पर हम स्पष्ट रूप से यह सुझाव देते हैं, कि सफाई का खास ध्यान रखें, खासकर यदि आपको यूटीआई का खतरा है।

यूटीआई से बचने के कुछ उपाय

इसके लिए आपको कुछ बातों का ध्यान रखना है:

  • पेशाब और मल त्याग के बाद हमेशा आगे से पीछे की ओर पोंछें
  • संभोग के बाद पेशाब करें
  • बैक्टीरिया को साफ करने के लिए सेक्स के बाद जननांगों को धोएं
  • लंबे समय तक पेशाब को रोकने से बचें
  • बहुत सारा पानी पिएं
  • गुप्तांगों को साफ और सूखा रखें
  • समय-समय पर अपने सैनिटरी नैपकिन या टैम्पोन को बार-बार बदलें
  • बिना शुगर के क्रैनबेरी जूस पीने से भी यूटीआई से बचाव होता है।

यह भी पढें: ‘सिंगल मदर’ होने का मतलब ‘अवेलेबल’ होना नहीं है, ये है इंटीमेसी कोच पल्‍लवी बरनवाल की कहानी

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।