वैलनेस
स्टोर

जी हां, ऑर्गेज्‍म आपको पीरियड क्रैम्‍प्‍स से भी राहत दिला सकता है, यहां जानिए कैसे

Published on:6 February 2021, 14:00pm IST
सेक्‍स में ऑर्गेज्‍म आपको आनंद के चरम सुख पर ले जाता है। पर क्या आप जानती हैं कि यह आपको पीरियड क्रैम्‍प्‍स से भी राहत दिला सकता है!
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 81 Likes
ये पेट में कब्ज पैदा कर सकते हैं। चित्र: शटरस्‍टॉक

पीरियड्स के दौरान सेक्‍स और उस पर भी ऑर्गेज्‍म का आनंद सुनने और करने में थोडा पेचीदा लग सकता है, लेकिन इसके शानदार फायदों के बारे में सुनकर आपका दिमाग बदल जाएगा। सिर्फ सेक्स ही नहीं, बल्कि पीरियड्स के दौरान हस्तमैथुन करने का भी अपना अलग ही मजा होता है। सरल शब्दों में, यह ऑर्गेज्म के बारे में है, जो बदले में, क्रैम्‍प्‍स को कम करने में आपकी मदद कर सकता है।

पीरियड्स के दौरान कामोन्माद आपको तनाव, सिरदर्द, पीठ दर्द और लगातार मूड स्विंग जैसी अन्य पीएमएस समस्याओं से कुछ राहत दिला सकता है। लेकिन क्या आप जानती हैं कि ऐसा क्यों होता है? इसका श्रेय आपके शरीर द्वारा स्रावित तीन हार्मोन्स को जाता है – सेरोटोनिन (Seratonin), ऑक्सीटोसिन (Oxytosin) और डोपामाइन (Dopamine)।

गाइनीकोलोजिस्ट डॉ. अरुणा कालरा बताती हैं कि पीरियड क्रैम्प्स पर ऑर्गेज्म कैसे काम करता है। 

संभोग करते समय, हमारा शरीर ऑक्सीटोसिन (Oxitosin) और डोपामाइन (Dopamine) जैसे रसायनों को छोड़ता है, जो दर्द निवारक भी होते हैं और मासिक धर्म के ऐंठन से निपटने में हमारी मदद करते हैं। जब आप संभोग करती हैं, तो रक्त गर्भाशय में जाता है और ऐंठन से राहत देता है। यह हमें तनाव से छुटकारा पाने में भी मदद करता है और शरीर में एंडोर्फिन भी छोड़ता है। जिससे आराम मिलता है और आपको बेहतर नींद में मदद मिलती है।

हर स्‍त्री को इनके बारे में पता होना चाहिए। चित्र: शटरस्‍टॉक
हर स्‍त्री को इनके बारे में पता होना चाहिए। चित्र: शटरस्‍टॉक

एंडोर्फिन (Endorphin) पिट्यूटरी ग्रंथि और तंत्रिका तंत्र द्वारा निर्मित होते हैं और ये पीरियड्स क्रेम्प्स से राहत देने में मदद करते हैं। वे हमारे मस्तिष्क में मौजूद रिसेप्टर्स के साथ इंटरैक्ट करते हैं साथ ही दर्द से राहत दिलाते है। एंडोर्फिन हमारे शरीर के लिए एक प्राकृतिक दर्द निवारक हैं।

सीके बिड़ला अस्पताल के डॉ. कालरा कहती हैं “सेरोटोनिन और डोपामाइन मूड को बढ़ाने वाले हार्मोन हैं, जो संभोग करते समय रिलीज़ होते हैं। मासिक धर्म की ऐंठन को ठीक करने में कारगर हैं। संभोग करते समय, रक्त प्रवाह बढ़ जाता है जिससे दर्द सहने की क्षमता बढ़ जाती है और आखिरकार “हमें खुशी, आराम, गर्मी और नींद का आभास होता है।”

यहां कुछ और चीजें हैं जो आपके पीरियड्स के दौरान आपकी मदद कर सकती हैं

कई महिलाएं अपने मासिक धर्म चक्र के दौरान अपने नींद के पैटर्न में गड़बड़ी होने की शिकायत करती हैं, लेकिन पीरियड्स के दौरान सेक्स या हस्तमैथुन करने से भी आप बेहतर नींद ले सकती हैं। शरीर में रिलीज़ हुए हैप्पी हार्मोन आपके मूड को अच्छा करने में मदद करते हैं।

ऑर्गेज्‍म हर एक के लिए आनंददायी होता है। चित्र: शटरस्‍टॉक

यहां एक और टिप है जो वास्तव में काम कर सकती है। अगर आपने पीरियड्स के दौरान सेक्स करने का मन बना लिया है, तो आप एक मेनस्ट्रुअल डिस्क का उपयोग कर सकती हैं। इस तरह से सेक्स थोड़ा कम गन्दा और ज्यादा मज़ेदार होगा।

पीरियड सेक्स एक लंबे समय से चला आ रहा टैबू है, लेकिन अगर ये इतना फायदेमंद है तो क्यों नहीं? तो, लेडीज संकोच मत करिए और इसे एक बार ज़रूर ट्राई करिए।

यह भी पढ़ें – क्या एनल सेक्स से बढ़ जाता है कोलन कैंसर का खतरा? जानिए क्‍या है सच्‍चाई

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।