वैलनेस
स्टोर

जी हां, आपके खानपान का भी होता है आपके योनि स्वास्थ्य पर असर, यहां हैं 7 वेजाइना फ्रेंडली फूड

Published on:21 August 2021, 18:00pm IST
अगर आपको भी अक्सर वेजाइना से संबंधित समस्याओं का सामना करना पड़ता है, तो आपको एक बार अपनी डाइट की ओर ध्यान देना चाहिए।
मोनिका अग्रवाल
  • 94 Likes
vaginal health ke liye ako apni diet par bhi dhyan dena chahiye
वेजाइनल हेल्थ के लिए आपको अपनी डाइट पर भी ध्यान देना चाहिए। चित्र: शटरस्टॉक

बहुत सी महिलाओं को पूरा हाइजीन मेंटेन रखने के बाद भी यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन हो ही जाता है। अगर आप भी उन्हीं में से एक हैं, तो हो सकता है कि इसकी वजह आपका गलत खानपान हो!हैरान हो गईं न ? जी हां, ये सच है कि आपके आहार का भी आपकी वेजाइनल हेल्थ पर असर पड़ता है। जानना चाहती हैं कैसें, तो इसे पढ़ती रहिए। 

मैक्स सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल में सीनियर कंसल्टेंट ऑब्स्टेट्रिक्स एवं गायनेकोलॉजिस्ट, डॉक्टर रेखा गुप्ता के अनुसार अगर आपको वहां से गंदी बदबू आने की समस्या है, तो सबसे पहले आपको अपनी डाइट में बदलाव करना चाहिए।

योनि स्वास्थ्य किसी भी महिला के समग्र स्वास्थ्य का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। योनि की समस्याएं आपकी प्रजनन क्षमता, सेक्स की इच्छा और कामोन्माद तक पहुंचने की क्षमता को प्रभावित कर सकती हैं। योनि स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं भी तनाव या रिश्ते की समस्या पैदा कर सकती हैं और आपके आत्मविश्वास को प्रभावित कर सकती हैं। इसके लिए इसका हेल्दी होना जरूरी है।

आपके खानपान का भी होता है आपकी वेजाइनल हेल्थ पर असर होता है। तो आइए जानते हैं उन फूड्स के बारे में जो आपकी वेजाइना (Vagina) को भी पसंद हैं- 

1 सेब

जो महिलाएं रोजाना सेब खाती हैं, उनकी सेक्सुअल सेहत और संतुष्टि अधिक रहती है। सेब खाने से महिलाओं की लिबिडो बढ़ जाती है और ऑर्गेज्म तक पहुंचने की संभावना भी बढ़ जाती है। इसलिए आपको हफ्ते में कुछ दिन तो सेब को अपनी डाइट का हिस्सा जरूर बनाना चाहिए।

apni yoni ka dhyan rakhen
अपनी योनि का ध्यान रखना आपकी जिम्मेदारी है। चित्र: शटरस्टॉक

2 ग्रीन टी

ग्रीन टी न केवल आपके वजन और स्किन के लिए लाभदायक होती है, बल्कि इसमें पाए जाने वाले कुछ तत्त्व आपकी वेजाइना की सेहत के लिए भी फायदेमंद होते है। इसमें मौजूद पोली फेनोल कैटेचिन्स ई कोली बैक्टीरिया को मारने में लाभदायक होते हैं। 

जिससे आप यूटीआई से बची रहती हैं। अगर आपके पीएमएस के लक्षण ज्यादा तीव्र हैं तो ग्रीन टी में मौजूद कैफ़ीन भी आपकी सहायता कर सकता है।

3 सब्जियां और होल ग्रेन :

अगर आप सब्जियों और होल ग्रेन का सेवन करती हैं, तो इनमें पाए जाने वाले फाइबर और प्रीबायोटिक आपकी वेजाइनल हेल्थ को दुरुस्त रखते हैं। फाइबर से आपके शरीर में अच्छे बैक्टीरिया भी उत्पन्न होते हैं, जो प्राइवेट एरिया की सेहत को स्वस्थ रखने में लाभदायी होते हैं। इसलिए अपने योनि स्वास्थ्य के लिए रोजाना 25 ग्राम फाइबर का सेवन जरूर करें।

यह भी पढ़ें- जी हां, एक्सरसाइज दे सकती है आपको पीरियड क्रैम्प्स में राहत, हम बता रहे हैं 6 प्रभावशाली व्यायाम

4 पानी : 

वेजाइना या अपनी पूरी सेहत को टॉक्सिंस से मुक्त रखने के लिए आपका हाइड्रेटेड रहना बहुत जरूरी है। इसलिए आपको अधिक से अधिक पानी पीने की कोशिश करनी चाहिए। हाइड्रेशन से आपकी वेजाइना लुब्रिकेटेड रहती है, जिससे आपके लिए सेक्स जीवन का आनंद लेना और भी सुविधाजनक हो जाता है। 

5 ऑयली फिश : 

अगर आप साल्मन जैसी मछली का सेवन करती हैं, तो इससे आपको विटामिन डी (Vitamin D) और ओमेगा 3 फैटी एसिड (Omega 3 fatty acid) होते हैं। यह दोनों ही पौष्टिक तत्त्व आपकी वेजाइनल हेल्थ के लिए लाभदायक होते हैं। साल्मन से आपकी ओवर ऑल ब्लड सर्कुलेशन भी बढ़ती है। इससे आपकी वेजाइना का ब्लड फ्लो भी अच्छा रहता है।

6 दही : 

दही में प्रो बायोटिक्स होते हैं जो आपको यूटीआई जैसे इंफेक्शन से बचाते हैं। यीस्ट और बैक्टीरिया इंफेक्शन से बचने के लिए भी आपको दही का सेवन करना चाहिए। इससे आपके पीएमएस के लक्षणों में भी राहत मिलती है। लेकिन दही का सेवन करते समय इसमें नमक न मिलाएं।

dahi apki vagina ko bhi pasand hai
दही आपकी वेजाइनल हेल्थ के लिए भी अच्छा है। चित्र: शटरस्टॉक

7 फल ; 

जो महिलाएं रोजाना फल खाती हैं, उन्हें यूटरस फाइब्रॉइड होने के चांस लगभग 11% तक कम हो जाते हैं। इससे आपको अनियमित ब्लीडिंग और दर्द होना कम हो जाता है। इसलिए मौसमी फलों की हर रोज दो सर्विंग जरूर लें। 

स्वस्थ योनि के लिए इन चीजों से करें परहेज 

हेल्दी डाइट फॉलो करने के साथ ही आपको अपने योनि स्वास्थ्य के लिए कुछ चीजों से परहेज करना भी जरूरी है। अगर आप शराब अधिक पीती हैं या स्मोकिंग करती हैं तो आपकी वेजाइनल हेल्थ के लिए जोखिम बढ़ सकते हैं। 

इनके साथ ही जंक फूड, डीप फ्राइड और तेज मिर्च वाली चीजों की अधिकता भी आपकी योनि को नुकसान पहुंचा सकती है। 

यह भी पढ़ें – सबके लिए नहीं हैं पैंटी लाइनर, एक्सपर्ट बता रहे हैं पैंटी और पैंटी लाइनर से जुड़े कुछ जरूरी तथ्य

मोनिका अग्रवाल मोनिका अग्रवाल

स्वतंत्र लेखिका-पत्रकार मोनिका अग्रवाल ब्यूटी, फिटनेस और स्वास्थ्य संबंधी विषयों पर लगातार काम कर रहीं हैं। अपने खाली समय में बैडमिंटन खेलना और साहित्य पढ़ना पसंद करती हैं।