डाइट में शामिल करें सैल्मन मछली, योनि की हर समस्या रहेगी दूर 

योनि को ड्राईनेस और किसी भी प्रकार के इन्फेक्शन से बचाने के लिए खाएं ओमेगा 3 फैटी एसिड से भरपूर सैल्मन मछली। ओमेगा 3 फैटी एसिड योनि स्वास्थ्य के लिए जरूरी पोषक तत्व है। 

योनि स्वास्थ्य के लिए सैल्मन मछली फायदेमंद होती हैं| चित्र : शटरस्टॉक
स्मिता सिंह Published on: 8 October 2022, 20:00 pm IST
  • 140

भोजन शरीर के हर अंग को प्रभावित करता है। यदि हेल्दी डाइट ली जाये, तो इसके पोषक तत्व कभी शारीरिक अंगों को बीमार नहीं होने देंगे। पौष्टिक भोजन इंटिमेट पार्ट्स को भी हेल्दी रखते हैं। यदि विशेषज्ञों की बात मानें तो  योनि को साफ करने की भी ज्यादा जरूरत नहीं पड़ती है। क्योंकि खाद्य पदार्थ न सिर्फ किसी भी प्रकार के संक्रमण से लड़ कर फंकी स्मेल को कम करने में मदद करते हैं, बल्कि योनि को स्वस्थ भी रखते हैं। कई खाद्य पदार्थों में एक साल्मन मछली है, जो योनि स्वास्थ्य (Salmon for vaginal health) के लिए बेहद लाभकारी है।   

संपूर्ण शरीर के लिए फायदेमंद है सैल्मन (Salmon Benefits for Health)

पोषण विशेषज्ञ कृतिका अवस्थी कहती हैं, ‘सैल्मन प्रोटीन का बढ़िया स्रोत है। यह हड्डियों को मजबूत बनाने में मदद करता है। यह मांसपेशियों के नुकसान को रोकने और शरीर में किसी भी प्रकार की टूट-फूट की मरम्मत में भी मदद करता है। सैल्मन एस्टैक्सैन्थिन एलिमेंट से भरपूर होता है। यह एलिमेंट त्वचा की लोच को बनाए रखने में मदद करता है। यह स्किन एजिंग को कम करने में मदद करता है और यूवी किरणों से होने वाली क्षति से भी बचाव करता है।

सैल्मन के महत्वपूर्ण पोषक तत्व (Nutritional elements in Salmon)

प्रोटीन के साथ-साथ सैल्मन में सैचुरेटेड फैट कम होता है। यह विटामिन बी 12 के सबसे अच्छे स्रोतों में से एक है। यह पोटैशियम, आयरन और विटामिन डी जैसे पोषक तत्वों से भी समृद्ध होता है।

अमेरिका के एग्रीकल्चर डिपार्टमेंट के नेशनल न्यूट्रिएंट डेटाबेस के अनुसार,  3 औंस या लगभग 85 ग्राम सैल्मन में 175 कैलोरी होती है। इसमें 10.5  ग्राम वसा और 0 ग्राम कार्बोहाइड्रेट होता है।

योनि स्वास्थ्य के लिए कैसे फायदेमंद है सैल्मन (Salmon for vaginal health)

असल में योनि स्वास्थ्य के लिए ओमेगा 3 फैटी एसिड बेहद जरूरी है। सैल्मन ओमेगा 3 फैटी एसिड प्रदान करती है। इससे योनि के सूखापन को रोकने में मदद मिलती है। यह ब्लड सर्कुलेशन को भी बढ़ावा देती है। सैल्मन में मौजूद ओमेगा 3 फैटी एसिड फंगल संक्रमण के साथ-साथ सूजन-रोधी बीमारियों से लड़ने में भी मदद करता है।

ओमेगा 3 फैटी एसिड से भरपूर खाद्य पदार्थ लयूब्रिक्रेशन बढ़ाकर योनि के सूखेपन को कम करते हैं। 

कैसे खाएं सैल्मन (How to eat Salmon)

पैन फ्राई की बजाय सैल्मन को बेक (Baked Salmon is more healthy than pan fry salmon) कर खाएं। बेक कर खाना अधिक स्वास्थ्यकर है, क्योंकि पकाने के लिए एक्स्ट्रा फैट और कैलोरी का प्रयोग नहीं किया जाता है।

sea food
ओामेगा 3 फैटी एसिड के कारण सैल्मन वेजाइनल हेल्थ के लिए फायदेमंद होती है। चित्र: शटरस्टॉक

सैल्मन पर ओलिव ऑयल, नमक और काली मिर्च लगा लें। इसे बेकिंग डिश पर रख दें। ओवन को 275 डिग्री पर गर्म करें। इसमें फिश को रख दें।

30 मिनट बाद यह तैयार हो जायेगा।  आपको सैल्मन फलैक्स अलग होते हुए दिखाई देंगे।  योनि को स्वस्थ रखने के लिए सप्ताह में कम से कम 2 दिन सैल्मन और दूसरी फैटी मछली (मैकेरल और टूना) खानी चाहिए।

यह भी पढ़ें :- Breast Cancer Awareness Month : स्तन कैंसर का जोखिम भी बढ़ा सकते हैं डेयरी उत्पाद, जबकि वीगन फूड हैं सेफ  

 

  • 140
लेखक के बारे में
स्मिता सिंह स्मिता सिंह

स्वास्थ्य, सौंदर्य, रिलेशनशिप, साहित्य और अध्यात्म संबंधी मुद्दों पर शोध परक पत्रकारिता का अनुभव। महिलाओं और बच्चों से जुड़े मुद्दों पर बातचीत करना और नए नजरिए से उन पर काम करना, यही लक्ष्य है।

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
nextstory

हेल्थशॉट्स पीरियड ट्रैकर का उपयोग करके अपने
मासिक धर्म के स्वास्थ्य को ट्रैक करें

ट्रैक करें