वैलनेस
स्टोर

इन 5 कारणों से आपकी जीवनशैली है अनियमित पीरियड्स के लिए जिम्मेदार

Published on:16 April 2021, 15:48pm IST
अगर आपके पीरियड्स भी रेगुलर नहीं हैं, तो आपकी बिगड़ी हुई जीवनशैली इसके लिए जिम्मेदार हो सकती है! अधिक जानने के लिए पढ़ें, ताकि आप इसे सुधारने के लिए कुछ बदलाव कर सकें।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 90 Likes
आपकी लाइफस्‍टाइल आपके मासिक धर्म चक्र को भी प्रभावित करता है। चित्र: शटरस्‍टॉक

महिलाओं का अपने पीरियड्स के साथ प्यार और नफरत का रिश्ता होता है! हर बार जब पीरियड्स आने वाले होते हैं, तो हम दुखी महसूस करते हैं। भगवान न करे, अगर वह देर से आ रहे हैं, तो हम तनावग्रस्त हो जाते हैं। इर्रेगुलर या मिस्ड पीरियड चिंता का विषय नहीं है, अगर यह एक बार हो। लेकिन अगर आप हमेशा यही सोचती हैं कि पीरियड्स अब तक क्‍यों नहीं आए तो यह एक चिंताजनक बात है।

कहीं आप गयनेकोलॉजिस्ट को दिखाने की तो नहीं सोच रही हैं? क्योंकि आपके हार्मोन के साथ कुछ गड़बड़ी हो सकती है। यह गर्भनिरोधक विधि में बदलाव या रजोनिवृत्ति के संकेत भी हो सकता है। वैसे, चिकित्सा पर हमेशा ध्यान देने की सलाह दी जाती है, लेकिन कई जीवनशैली कारक हैं जो अनियमित पीरियड्स का कारण हो सकते हैं।

पीरियड्स अनियमित होने के लिए ये कारण जिम्‍मेदार हो सकते हैं। चित्र: शटरस्‍टॉक

इसलिए, इस बात का ध्यान रखें कि आप क्या करती हैं, कितना खाती हैं और कितना व्यायाम करती हैं।

यहां कुछ जीवनशैली कारक दिए गए हैं, जो अनियमित पीरियड्स का कारण हो सकते हैं:

1. तनाव

हम नहीं जानते कि तनाव हमारे लिए कितना हानिकारक साबित हो सकता है। यह आपके हार्मोन को भी नुकसान पहुंचा सकता है! जब आप तनाव लेती हैं, तो आपका शरीर ‘फाइट एंड फ्लाइट’ मोड में चला जाता है, जो आपके स्वास्थ्य पर नकारात्मक प्रभाव डालता है।

इसकी वजह से आप अपने पीरियड्स में अनिद्रा, मुंहासे और यहां तक कि अनियमितताओं का भी सामना कर सकती हैं। इसलिए, शांत रहने की कोशिश करें। वरना आप हर महीने पीरियड्स की समस्या से जूझ सकती हैं।

2. अधिक व्यायाम करना

हम सभी जानते हैं कि व्यायाम स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छा है और हमारे शरीर को उचित रूप से कार्य करने में मदद करता है! लेकिन अगर आप इसे ज्यादा कर लें तो क्या होगा? हां, इससे आपके पीरियड्स पर हानिकारक प्रभाव पड़ सकता है।

जरूरत से ज्‍यादा एक्‍सरसाइज माहवारी को प्रभावित करती है। चित्र: शटरस्‍टॉक

यह मैराथन के लिए प्रशिक्षण से लेकर इंटरवल ट्रेनिंग तक कुछ भी हो सकता है। यदि आपने यह अभ्यास अचानक शुरू कर दिया है, तो आप और भी अधिक अनियमितताओं को महसूस कर सकती हैं। जिससे आपके हार्मोन गड़बड़ा सकते हैं और यह अनियमित पीरियड्स का कारण बनता है।

3. शराब और धूम्रपान का लगातार सेवन

यदि मॉडरेशन में किया जाए तो धूम्रपान और आपका पसंदीदा कॉकटेल हानिकारक नहीं है। लेकिन अगर आप इसे आदत बनाती हैं (लॉकडाउन ने बहुत से लोगों के लिए ऐसा किया है), तो आपके पीरियड्स अनियमित हो जाएंगे।

ऐसा इसलिए है, क्योंकि यह आपके हार्मोन में असंतुलन का कारण बनता है। जो अंततः अनियमित पीरियड्स की समस्या पैदा करता है। इसलिए, मॉडरेशन में ही इसे करें आदत न बनने दें।

4. अस्वस्थ भोजन करना

विशेषज्ञों का कहना है कि ‘आप जो खा रहे हैं, उसका सीधा असर आपके स्वास्थ्य पर पड़ता है।’ भोजन को शरीर के समुचित कार्य के लिए ईंधन के रूप में माना जाना चाहिए। यदि आप इसे हल्के में लेती हैं और तले और शक्कर युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन करती रहती हैं, तो आपके हार्मोन में उतार-चढ़ाव आ सकता है। यही इर्रेगुलर पीरियड्स का कारण बनता है। वास्तव में उचित पोषण का कोई विकल्प नहीं है।

जंक फूड को छोड़ना इतना भी मुश्किल नहीं है। चित्र: शटरस्‍टॉक

5. इर्रेगुलर स्लीप साइकिल

अच्छी नींद स्वस्थ जीवनशैली जीने का महत्वपूर्ण हिस्सा है। जब आपका स्लीपिंग पैटर्न इर्रेगुलर होता है, तो शरीर में हार्मोनल बदलाव होने लगते हैं। यह आपके मासिक धर्म चक्र को प्रभावित कर सकते हैं। इसके अलावा, नींद की कमी भी मेलाटोनिन के स्तर के उत्पादन में असंतुलन का कारण बनती है, जो हेल्दी पीरियड्स के लिए महत्वपूर्ण है।

यह भी पढ़ें – आपके मासिक धर्म चक्र को विनियमित करने में मदद करेंगी ये 7 हर्ब्‍स, जानिए कैसे करना है इस्‍तेमाल 

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।