थैंक्‍स टू लॉकडाउन: आपकी वेजाइना को इन 4 तरह से फायदा पहुंचा रहा है वर्किंग फ्रॉम होम

घर से काम करना यानी ना टाइट जीन्स पहननी हैं न पैंट्स। आप आरामदायक लोअर और शॉर्ट्स पहन कर भी काम कर सकती हैं। यह आपकी वेजाइना के स्वास्थ्य के लिए बहुत मददगार है।
apane yoni svaasthy aur svachchhata ko dhyaan mein rakhen!
अपने योनि स्वास्थ्य और स्वच्छता को ध्यान में रखें! चित्र: शटरस्‍टॉक
टीम हेल्‍थ शॉट्स Updated: 10 Dec 2020, 02:17 pm IST
  • 78

हमें घर से काम करते अब लगभग 6 महीने हो चुके हैं और अब टाइट जीन्स और पैंट बीते दिनों की बात हो चुकी है। जहां आराम की दृष्टि से ये कपड़े ठीक नहीं हैं, आपकी वेजाइना के लिए भी ये टाइट कपड़े नुकसानदेह होते हैं।

टाइट सलवार या जीन्स ब्लड सर्कुलेशन में रुकावट डालते हैं और इंटीमेट एरिया में हवा का बहाव भी रोकते हैं। इस कारण गर्मी और पसीना अंदर ही रह जाता है और इंफेक्शन का कारण बनता है।
जब हम जान चुके हैं कि टाइट कपड़े हमें किस तरह नुकसान पहुंचा रहे थे, तो यह भी जानते हैं कि ढीले कपड़े किस तरह फायदेमंद हैं।

1. वेजाइनल थ्रश की सम्भावना सबसे कम हैं

वेजाइनल थ्रश एक आम यीस्ट इंफेक्शन है जो सभी महिलाओं ने कभी न कभी जरूर झेला होगा। इसमें वेजाइना में खुलजी, सूजन, पेशाब करते वक्त जलन और सेक्स के दौरान दर्द और जलन होती है। इस इंफेक्शन का सबसे बड़ा कारण होती हैं टाइट डेनिम्स। यह देखा जा सकता है कि जो महिलाएं टाइट जीन्स या लेगिंग्स पहनती हैं उन्हें वेजाइनल इन्फेक्शन होने की सम्भावना ज्यादा होती है।

वेजाइनल यीस्‍ट इंफेक्‍शन का एक कारण अंडरगारमेंट्स का गीलापन भी है। चित्र: शटरस्‍टॉक

2. UTI से आपको छुटकारा मिला है

UTI यानी यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन में बैक्टीरिया यूरेथ्रा तक पहुंच जाते हैं और इन्फेक्शन पैदा कर देते हैं। यह बहुत कष्टदायक होता है। इस इन्फेक्शन में बार-बार पेशाब लगती है, लेकिन करने पर पेशाब होती नहीं है। UTI में जलन और दर्द भी बहुत होता। इस इंफेक्शन का मुख्य कारण टाइट जीन्स और पब्लिक बाथरूम होते हैं। लॉकडाउन के दौरान आप दोनों से ही दूर हैं और इसका फायदा आपकी वेजाइना को हो रहा है।

3. वल्वोडायनिया का रिस्क कम होता है

वल्वोडायनिया एक गम्भीर सिंड्रोम है जिसमें वल्वा में अत्यधिक जलन, चुभन और दर्द होता है। यह दर्द कई सालों तक रह सकता है। सेक्स के बाद, टैम्‍पोन्‍स का इस्तेमाल करते वक्त और बहुत देर बैठने पर यह दर्द होने लगता है।

टाइट जींस और पैंट्स आपकी वेजाइनल हेल्‍थ के लिए नुकसानदायक है। चित्र: शटरस्‍टॉक

इस सिंड्रोम का कारण होती हैं आपकी टाइट जीन्स। असल में जीन्स पहनने से आपके ग्रोइन एरिया पर दबाव पड़ता है जिसके कारण वल्वोडायनिया हो सकता है। जीन्स न पहनने से आप वल्वोडायनिया के रिस्क को कम करती हैं।

4. जॉक इच को कहें अलविदा

महिलाओं को भी जॉक इचिंग हो सकती है। यह डर्मेटोफाइट नामक फंगस के कारण होती है। इसमें ग्रोइन एरिया पर लाल रैशेस पड़ जाते हैं और खुजली होती है। यह कुछ-कुछ दाद जैसे ही दिखते हैं और कई बार पपड़ी भी पड़ जाती है। पैजामे पहनने से आप जॉक इच से बची रहती हैं।

तो आपको टाइट जीन्स से दूर करने के लिए आपको इस लॉकडाउन का आभारी होना चाहिये। यही नहीं आने वाले समय के लिए अपने कपड़ों में कुछ ढीले पैन्ट्स या स्कर्ट शामिल करें।

  • 78
लेखक के बारे में

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं। ...और पढ़ें

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
अगला लेख