फॉलो
वैलनेस
स्टोर

10 तरह का हो सकता है फीमेल ऑर्गेज्म, हर स्‍त्री को जानना चाहिए इनके बारे में

Published on:5 January 2021, 21:36pm IST
आप यह जानती होंगी कि ऑर्गेज्म क्या है। लेकिन क्या आप जानती हैं कि महिलाएं एक से अधिक प्रकार के चरमोत्कर्ष (climax) का अनुभव कर सकती हैं। वास्तव में आपको फीमेल ऑर्गेज्म के इन 10 प्रकारों के बारे में जानना चाहिए।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 70 Likes
हर स्‍त्री को इनके बारे में पता होना चाहिए। चित्र: शटरस्‍टॉक

फीमेल ऑर्गेज्म हमेशा से एक रहस्य रहा है। हम यहां सिर्फ पुरुषों के बारे में बात नहीं कर रहे हैं, बल्कि कई महिलाएं भी इसे तलाशने में विफल रही हैं। जबकि कई महिलाएं मल्टिपल ऑर्गेज्म का आनंद लेती हैं, वहीं दूसरों को इसके लिए काफी संघर्ष करना पड़ता है। बेशक, बहुत कुछ आपके साथी पर भी निर्भर करता है, लेकिन सही समय पर सही जगह चुनना इसकी एक कुंजी है।

फीमेल ऑर्गेज्म (female orgasm) को समझने में एक समस्या यह भी है कि महिलाओं को एक गलत बात पर विश्वास है कि केवल योनि में उत्तेजना होने पर ही चरमोत्कर्ष का अनुभव किया जा सकता है। हालांकि यह सच नहीं है। आपको यह जानकर हैरानी होगी कि ऐसे 10 फीमेल ऑर्गेज्म हैं जिनके बारे में ज्यादातर लोग नहीं जानते हैं।

पाएं अपनी तंदुरुस्‍ती की दैनिक खुराकन्‍यूजलैटर को सब्‍स्‍क्राइब करें

1. वेजाइनल ऑर्गेज्म

हम सभी इसके बारे में अच्छे से जानते हैं। क्या आप जानती हैं, कि हम में से ज्यादातर लोग संभोग करते समय ऑर्गेज्म का अनुभव तो करते हैं, लेकिन फोरप्ले के दौरान नहीं। हां, यह सच है।

जिन महिलाओं की क्लिट (clit) और मूत्रमार्ग के मैंस (urethra meatus) के बीच कम दूरी होती है, वे वेजाइनल ऑर्गेज्म का अनुभव अधिक करती हैं। लेकिन हममें से बाकी लोगों को केवल प्रवेश (penetration) के माध्यम से हमारे बिग-ओ (big-O) को खोजने में वास्तव में मुश्किल हो सकती है।

2. एनल ऑर्गेज्म

एनल सेक्स दर्दनाक हो सकता है, लेकिन कुछ महिलाओं के लिए यह एक ऑर्गेज्म तक पहुंचने का एकमात्र तरीका है। चूंकि मलाशय और योनि में कुछ तंत्रिकाएं होती हैं, जो एनल सेक्स के दौरान उत्तेजित हो जाती हैं।

हां ये सच है, आप एक सेशन में कई बार ऑर्गेज्‍म पा सकती हैं। चित्र: शटरस्‍टॉक
हां ये सच है, आप एक सेशन में कई बार ऑर्गेज्‍म पा सकती हैं। चित्र: शटरस्‍टॉक

3. ब्लेंडेड ऑर्गेज्म

इसमें दो या दो से अधिक प्रकार की उत्तेजना शामिल है। उदाहरण के लिए, कुछ महिलाओं को आवशेपूर्ण चुंबन (passionate kiss) और क्लिटोरल उत्तेजना (Clitoral stimulation) के मिश्रण के साथ ऑर्गेज्म का अनुभव हो सकता है। हालांकि, यह पूरी तरह से महिला से महिला पर निर्भर करता है।

4. निप्पल ऑर्गेज्म

निप्पल्स महिलाओं का जाना माना उत्‍तेजना बिंदु (erogenous points) है। इसका कारण यह है कि जब निपल्स उत्तेजित होते हैं, तो शरीर ऑक्सीटोसिन जारी करता है जो गर्भाशय और योनि के संकुचन का कारण बनता है और अंततः एक ऑर्गेज्म के अनुभव की ओर जाता है।

5. क्लिटोरल संभोग

क्लिटोरल स्टिमुलेशन (Clitoral stimulation) ऑर्गेज्म तक पहुंचने का एक और जाना-पहचाना तरीका है, क्योंकि क्लिटोरिस में हजारों नसें होती हैं जो महिलाओं में आनंददायक उत्तेजना पैदा करती हैं।

6. जी-स्पॉट ऑर्गेज्म

यह काफी पुराना लग सकता है। लेकिन उन महिलाओं के लिए जिन्होंने इस छोटे से कामोत्तेजक क्षेत्र (erogenous area) के गुप्त छिपे हुए स्थान की खोज की है, वे इस बात की कसम खा सकते हैं कि यह एक स्ट्रांग ऑर्गेज्म को अनुभव कराता है।

यह साइकोलॉजी से जुड़ा मसला है, इसलिए फीमेल ऑर्गेज्‍म आने में टाइम लगता है। चित्र: शटरस्‍टॉक

7. ए-स्पॉट ऑर्गेज्म

यह मूल रूप से योनि के उथले क्षेत्र की उत्तेजना है, जो योनि के अंदर लगभग 7 से 10 सेंटीमीटर तक गहरा है।

8. ओरल ऑर्गेज्म

ओरल सेक्स भी कई तरीकों में से एक है जो महिलाओं को अपने ऑर्गेज्म को प्राप्त करने में मदद कर सकता है।

9. डीप ऑर्गेज्म

यह तब होता है, जब आपका साथी बुल-आई (bull-eye) हिट मारता है। जी हां, यहां हमारा मतलब आपकी योनि की दीवार से है।

ये जरूरी है कि आपकी सेक्‍सुअल लाइफ हेल्‍दी हो। चित्र: शटरस्‍टॉक

10. स्किन ऑर्गेज्म

स्पर्श कई बार आपके भीतर करंट पैदा कर सकता है, सिर्फ हाथ पकड़ने और गले लगने से ही आप कई बार वहां तक गीली हो सकती हैं। इस तरह के ऑर्गेज्म को फ्रिसन (frisson) के नाम से भी जाना जाता है। इस दौरान जब कोई आपको छूता है तो आपके रोंगटे खड़े हो सकते हैं और यह आपको गर्म कर सकता है।

यह भी पढ़ें – क्‍या आप जानती हैं कि इलायची आपकी लिबिडो भी बढ़ा सकती है, जानिए इलायची खाने के 5 बेहतरीन फायदे

0 कमेंट्स

कृपया अपना कमेंट पोस्ट करें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।