करौंदा है पोषक तत्वों का भंडार, जानिए कैसे करना है इसका सही इस्तेमाल 

Published on: 30 July 2022, 08:00 am IST

तेज खटास लिए हुए करौंदा चटनी और अचार के लिए खास है। पर क्या आप जानती हैं कि यह आपको मानसून में होने वाली कई समस्याओं से भी राहत दिलाता है। 

karonda ke fayde
करौंदा ब्लग शुगर कंट्रोल करता है और इम्यून सिस्टम भी मजबूत करता है। चित्र: शटरस्टॉक

लाल-सफेद और मरून कलर का करौंदा बारिश के मौसम में खूब मिलता है। एंटीऑक्सीडेंट, एनालजेसिक, एंटी इन्फ्लेमेटरी, लिवर प्रोटेक्टिंग, ब्लड शुगर लेवल घटाने वाले एंटी हाइपरग्लाइसेमिक और कोलेस्ट्रॉल घटाने वाले हाइपोलिपिडेमिक और वुंड हीलिंग प्रोपर्टी वाले करौंदे (how to use karonda) का सेवन बारिश के मौसम में जरूर करना चाहिए।

करौंदे में पाए जाने पोषक तत्व

इसमें विटामिन सी,आयरन, कैल्शियम और फास्फोरस भरपूर होता है।  इसके साथ ही अल्केलॉयड्स, फ्लेवोनॉयड्स, सेपोनिन्स, ग्लाइकोसाइड्स, फीनॉलिक कंपाउंड्स, टेनिन्स, सेलिसाइलिक एसिड पाया जाता है। करौंदे के बीज में 10 प्रतिशत प्रोटीन, 22.4 प्रतिशत ऑयल और 72.7 प्रतिशत ओलिक एसिड भी पाया जाता है।

यहां हैं करौंदे के फायदे

आयुर्वेद और नेचुरोपैथ के अनुसार करौंदे का पत्ता, जड़ और फल सभी बहुत फायदेमंद होते हैं। करौंदे के नियमित प्रयोग से कई स्वास्थ्य समस्याएं ठीक होने में मदद मिलती है।

1 पैरों के फटने में राहत

बरसात के दिनों में पैर फटने या फंगस लगने की समस्या सबसे अधिक होती है। इसमें करौंदा राहत दिलाता है।

कैसे करें प्रयोग

नियमित रूप से करौंदे के बीजों को पीसकर पैरों में लगाने से फायदा मिलता है। कुछ दिनों में पैर फटने के कारण जो घाव बन जाते हैं, उसमें भी आराम मिलता है। 

करौंदे के बीज को पीसकर तेल में पकाकर मलने से हाथ-पैर को मुलायम बनाता है।

2 बुखार, फ्लू में देता है राहत 

बारिश के दिनों में संक्रमित होने की संभावना अधिक होती है। इसमें करौंदा की पत्ती लाभ पहुंचाती है।

कैसे करें प्रयोग

एक मुद्ठी करौंदा की पत्तियों को डेढ़ गिलास पानी के साथ उबालें।

आंच धीमी ही रखें। 

उबालने पर जब आधा गिलास पानी जल जाए, तो छानकर काढ़ा पियें, राहत मिलेगी।

3 स्किन संबंधी समस्याएं दूर होती हैं 

बारिश के मौसम में स्किन पर फुंसी, खुजली की समस्याएं होती हैं। करौंदे में मौजूद विटामिन सी किसी भी प्रकार की स्किन प्रॉब्लम को ठीक कर देता है।

कैसे करें प्रयोग

करौंदे के पके फल को मिक्सी में पीस लें।

karonda ke fayde
करौंदे की सब्जी और चटनी भी खाई जा सकती है। चित्र: शटरस्टॉक

इसे फुंसी या खुजली के स्थान पर लगाएं। इसमें मौजूद एंटीबैक्टीरियल तत्व राहत दिलाते हैं।

4 वजन घटाने में कारगर

यदि आप वेट लॉस की योजना बना रही हैं, तो अपने आहार में करौंदे को शामिल करें। इसमें फाइबर होता है, जिससे पेट काफी देर तक भरा महसूस होता है।

कैसे करें प्रयोग

एक मुट्ठी करौंदे को अपने ब्रेकफास्ट या फ्रूट टाइम में शामिल करें।

करौंदे के पत्ते को उबालकर पीने से भी वजन कम होता है।

5 डायबिटीज में भी है फायदेमंद

नागपुर यूनिवर्सिटी में हुई रिसर्च के अनुसार, एंटी ऑक्सीडेंट और एंटी बैक्टीरियल गुणों वाला करौंदा टाइप 2 डायबिटीज मरीजों के लिए बेहद फायदेमंद है।

कैसे करें प्रयोग

डायबिटीज पेशेंट करौंदे के फल को नियमित रूप से अपने आहार में शामिल करें।

करौंदा का कच्चा फल खा सकते हैं।

आप इसकी चटनी भी बना सकती हैं। 

कम तेल-मसाले वाली करौंदे की सब्जी भी खा सकती हैं।

6 इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाता है

करौंदे का इस्तेमाल रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मदद करता है। इससे बीमारियों से लड़ने की क्षमता का विकास होता है।

कैसे करें प्रयोग

कच्चा फल खाएं।

करौंदे की चटनी खाएं। 

karonda ke fayde
करौंदे के बीज और पत्तियां भी स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद हैं। चित्र: शटरस्टॉक

यह भी पढ़ें:-आपकी हार्ट हेल्थ के लिए फायदेमंद हैं दिल के आकार के ये पत्ते, नोट कीजिए झटपट रेसिपी 

स्मिता सिंह स्मिता सिंह

स्वास्थ्य, सौंदर्य, रिलेशनशिप, साहित्य और अध्यात्म संबंधी मुद्दों पर शोध परक पत्रकारिता का अनुभव। महिलाओं और बच्चों से जुड़े मुद्दों पर बातचीत करना और नए नजरिए से उन पर काम करना, यही लक्ष्य है।