सर्दियों में पैरों का हो गया है बुरा हाल? तो इनकी देखभाल में मदद करेंगे ये खास टिप्स

पैरों पर टैनिंग और फटी एड़ियां ज्यादातर लोगों की परेशानी है। पूरे दिन कवर रहने के बावजूद अगर आपके पैर भी रूखे और भद्दे लगते हैं, तो जानिए इसका कारण और बचाव के उपाय।

winter foot care
जानिए सर्दी के मौसम में कैसे रखना है अपने पैरों का ख्याल। चित्र शटरस्टॉक।
अंजलि कुमारी Updated on: 30 December 2022, 17:52 pm IST
  • 138

सर्दियां कई लोगों को काफी ज्यादा पसंद होती है। इस दौरान गर्मा गरम चाय, कोजी ब्लैंकेट और सूरज की किरणे इन सभी चीजों का लुफ्त उठाने में काफी मजा आता है। परंतु हर मौसम सेहत से जुड़ी कुछ परेशानियों को अपने साथ लेकर आती हैं। ठीक इसी प्रकार सर्दी संक्रमण और ड्राइनेस का मौसम है। सर्दियों में त्वचा काफी ज्यादा प्रभावित हो जाती है। खासकर पैरों पर इसका बुरा असर पड़ता है जैसे कि इंफेक्शन, एड़ियों में दरार आना, त्वचा के बेजान पर जाने जैसी समस्याएं देखने को मिलती हैं।

सर्दियों में पैरो की सेहत पर अधिक ध्यान देने की जरुरत होती है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए आज हम लेकर आये हैं ऐसे कुछ महत्वपूर्ण टिप्स जो सर्दियों में आपके पैरो की सेहत को बनाये रखने में करेंगे आपकी मदद। साथ ही जानेंगे आखिर पैर क्यों हो जाते हैं प्रभावित।

पहले जानें सर्दियों में क्यों खराब होने लगती है पैरों की हालत

1. गिरते तापमान की वजह से

वातावरण में जरूरत से ज्यादा ठंड होने के कारण पैरों की त्वचा पर काफी ज्यादा प्रभाव पड़ता है। वहीं लंबे समय तक बिना किसी प्रोटेक्शन के पैरों के स्किन को ठंड में रखने से इनकी स्थिति और ज्यादा खराब हो सकती है।

खासकर यदि आपके पैरों की त्वचा संवेदनशील है या आप न्यूरोपैथी और डायबिटीज जैसी स्थिति से ग्रसित हैं, तो सामान्य लोगों की तुलना में आपके पैरों के प्रभावित होने की संभावना ज्यादा होती है।

foot dryness
पैर हो सकते हैं ड्राई। चित्र: शटरस्‍टॉक

2. वातावरण में मॉइस्चर की कमी होने से

साल के अन्य दिनों की तुलना में सर्दियां वातावरण की नमी को छीन लेती हैं। ऐसे में हवा में मॉइस्चर की कमी होने के कारण शरीर के सभी अंगों कि त्वचा ड्राई होने लगती है। ठीक उसी तरह पैरों की त्वचा भी ड्राई हो जाती है और एड़ियों में दरारें पड़ने लगती हैं और त्वचा के बेजान पड़ने की संभावना बढ़ जाती है।

3. फुटवियर का भी पड़ता है नकारात्मक प्रभाव

सर्दियों में आमतौर पर हम सभी स्वम्पी फुटवियर पहनते हैं। इसके साथ ही ऑफिस जाते वक्त या फिर कहीं भी बाहर निकलने के लिए इसी प्रकार के जूतों का इस्तेमाल करते हैं। इन्हें लंबे समय तक पहने रहने के कारण पसीना अंदर ही पैरों में बना रहता है। जिस वजह से पैर की स्किन खराब हो सकती है। इसके साथ ही एथलीट फुट, अंगूठे में फंगल इन्फेक्शन और बदबू आने जैसी समस्याएं देखने को मिलती हैं।

यह भी पढ़ें : फ्लैट फुटवियर भी बन सकते हैं एड़ी में दर्द का कारण, जानिए क्या है प्लांटर फैसिटिस की समस्या

सर्दियों में पैरों की सेहत को बनाए रखने के लिए आजमाएं यह खास हाइजीन टिप्स

1. नियमित रूप से पैरों को धुलें

नियमित रूप से पैरों को अच्छी तरह धुलें यह फंगल इंफेक्शन और बदबू फैलाने वाले बैक्टीरिया को दूर रखेगा। वहीं हर बार पैरों को धुलने के लिए केमिकल युक्त साबुन का इस्तेमाल करने से बचें। साथ ही अपनी उंगलियों के बीच के हिस्से को अच्छी तरह साफ करें।

foot-care.
विटामिन की कमी का संकेत हो सकता है बार-बार एड़ियों का फटना। चित्र शटरस्टॉक

2. गर्म पानी में लंबा समय न बिताएं

सर्दियों में ज़्यादातर लोग नहाने के लिए गर्म पानी का इस्तेमाल करते हैं परंतु गर्म पानी में जितना हो सके उतना कम समय व्यतीत करने की कोशिश करें। सर्दियों में आपकी त्वचा पहले से ही काफी रूखी और बेजान हो जाती है, ऐसे में बार-बार गर्म पानी से नहाने से त्वचा और ज्यादा ड्राई हो सकती है।

3. मॉइश्चराइजर लगाना न भूलें

नियमित रूप से नहाने के बाद हल्की गीली त्वचा पर मॉइश्चराइजर लगाकर मसाज जरूर करें। यह आपकी त्वचा में नमी को बनाए रखता है और स्किन को ट्राई होने और एड़ियों में दरार पड़ने से बचाता है।

4. नाखून ट्रिम करना न भूलें

सर्दियों में हमारा पैर ज्यादातर समय जूतों के साथ भी बिताता है। ऐसे में बड़े नाखूनों में फंगल इंफेक्शन होने की संभावना बनी रहती है। इसलिए इन्हें समय-समय पर ट्रिम करती रहें। यह आपको पैरों के हर प्रकार के इंफेक्शन से दूर रहने में मदद करेगा।

अब जाने सर्दियों में पैरों की देखभाल के कुछ अन्य तरीके

1. कॉटन के मोजे पहनें

सर्दियों में पैर को कवर करके रखने से काफी गर्माहट और आराम मिलता है। परंतु इसे लंबे समय तक भी कवर नहीं किया जा सकता। ऐसे में कॉटन सॉक्स आपकी मदद कर सकते हैं। इन्हें पहनने से एयर सरकुलेशन अच्छी तरह हो पाता है और आपका पैर भी ठंड के सीधे संपर्क में नहीं रहता। इसलिए आपके पैर ठंड में जल्दी प्रभावित नहीं होते।

wear cotton socks
कॉटन के मोज़े पहने। चित्र: शटरस्‍टॉक

2. ऑलिव ऑयल है अच्छा विकल्प

ऑलिव ऑयल में हीलिंग प्रॉपर्टी पाई जाती है। ऐसे में अपने पैरों की प्रभावित त्वचा जैसे कि फटी एड़ियों पर इसका इस्तेमाल आपको दर्द से राहत देगा। साथ ही त्वचा को तेजी से हिल होने में मदद करता है। वहीं ऑक्सीजन सप्लाई को भी रेगुलेट करता है।

3. शहद और गुनगुने पानी की थेरेपी रहेगी असरदार

शहद में एंटी बैक्टीरियल और एंटीसेप्टिक प्रॉपर्टी मौजूद होती है। ऐसे में गुनगुने पानी में शहद मिलाकर पैरों को कुछ देर भिगोए रखें। ऐसा करने से सर्दियों में होने वाले स्किन डैमेज को रोका जा सकता है। वहीं शहद मॉइश्चराइजिंग एजेंट की तरह काम करती है। तो ड्राई स्किन की समस्या से निजात पाने का यह एक बेहतर विकल्प साबित हो सकता है।

यह भी पढ़ें : आपकी स्किन ड्राई है या डिहाइड्रेटेड, इन खास तरीकों से लगाएं पता

  • 138
लेखक के बारे में
अंजलि कुमारी अंजलि कुमारी

इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट अंजलि फूड, ब्यूटी, हेल्थ और वेलनेस पर लगातार लिख रहीं हैं।

स्वास्थ्य राशिफल

स्वस्थ जीवनशैली के लिए ज्योतिष विशेषज्ञों से जानिए अपना स्वास्थ्य राशिफल

सब्स्क्राइब
nextstory

हेल्थशॉट्स पीरियड ट्रैकर का उपयोग करके अपने
मासिक धर्म के स्वास्थ्य को ट्रैक करें

ट्रैक करें