इन 5 आसान ट्रिक्स के साथ करें अपनी डेली डाइट में शुगर इनटेक कंट्रोल

शुगर हमारी दिनचर्या का अहम हिस्सा है। सुबह की मीठी चाय से शुरू होने वाले दिन में हम हर थोड़ी देर में कुछ न कुछ मीठा खाते हैं। इससे हमें इंस्टेंट एनर्जी तो मिल जाती है। मगर ज्यादा मात्रा में शुगर इनटेक करने से शरीर पर उनका नकारात्मक प्रभाव भी नज़र आने लगता है। आइए जानते हैं कि कैसे शुगर को अपनी दिनचर्या से किया जा सकता है रिप्लेस

sugar har kisi ke liye nuksaandayak hai
चीनी का सेवन सेहत के लिए नुकसानदायक है।चित्र: अडोबी स्टॉक
ज्योति सोही Updated on: 17 January 2023, 19:21 pm IST
  • 141
इस खबर को सुनें

कोई भी त्योहार हो या पार्टी मीठे के बिना अधूरी लगती है। आइसक्रीम(ice cream) से लेकर चॉकलेट(chocolate) तक, केक से लेकर घर बनने वाली मिठाइयों तक हर चीज़ में शुगर का भरपूर इस्तेमाल किया जाता है। अगर आप भी अपनी सेहत को लेकर सतर्क हैं, तो इन आसान उपायों को अपनाकर आप अपनी डाइट में से मीठे को बड़ी आसानी से बाहर निकाल सकते हैं। टाइप 2 शुगर (type 2 sugar) से लेकर हार्ट संबधी बीमारियों(heart disease) के लिए खतरा साबित होने वाली शुगर का अत्यधिक सेवन हर किसी के लिए नुकसानदायक है(how to control sugar intake) । आइए जानते हैं इससे बचने के आसान उपाय।

कैसे करें शुगर को कंट्रोल

इस बारे में हमारी एक्सपर्ट टोनऑप से डॉ रूचि सोनी बता रही है कि शुगर कई प्रोर के केमिकल से कोटिड होती है। इसमें बहुत ज्यादा ग्लूकोज़(glucose) होता है, जो धीरे धीरे शरीर में इफ्लामेशन को बढ़ाने लगता है। इससे सबसे ज्यादा हार्ट डिसीज रिस्क(heart disease risk) बढ़ने लगता है। साथ ही बैलीफैट(belly fat) बढ़ने का भी खतरा रहता है। ब्लड में ज्यादा शुगर पहुंचने से वो पैनक्रियाज पर नकारात्मक प्रभाव डालती है। ऐसे में व्हाइट शूगर की जगह ब्राउन शुगर(brown sugar) का इस्तेमाल करें।

जब आप ज्यादा मात्रा में चीनी का सेवन करती हैं, तो इससे उच्च रक्तचाप, वजन बढ़ना, सूजन, डायबिटीज, फैटी लिवर, हार्ट प्रॉब्लम होने की संभावना बढ़ जाती है। चित्र : एडोबी स्टॉक

शुगर को नियंत्रित(sugar control) करने के लिए लॉकी(bottle gourd), पेठे और करेले के रस को पिएं। इससे हमारे शरीर में शुगर को आसानी से कंट्रोल किया जा सकता है।

वहीं मेथी के दानों(fenugreek seed) को ओवरनाईट(overnight) भिगोकर उसके पानी को पीने से भी फायदा मिलता है।

रोटी बनाने के लिए चोकर सहित मिक्स ग्रेन आटे का प्रयोग करें। इससे रोटी से हमें सभी पोषक तत्व प्राप्त होंगे।
साथ ही इससे हमारी डाइट फाइबर रिच(fiber rich diet) हो जाएगी।

आप आटे को गूंथने के लिए बीटरूट का पानी या फटे दूध के पानी को इस्तेमाल कर सकते हैं।

यहां हैं एक्सपर्ट की बताई कुछ ट्रिक्स जो शुगर इनटेक कट करने में कर सकती हैं आपकी मदद

1 बेकरी आइटम्स को खजूर या फिग्स से रिप्लेस करें

कहते हैं कि कोई भी चीज़ अगर नियम के अनुसार खाई जाए, तो वो शरीर को फायदा पहुंचाने का काम करती है। वहीं रोजाना़ और लिमिट से ज्यादा बेकरी आइटम्स का सेवन शरीर को नुकसान पहुंचाने का काम करता है। हांलाकि बाज़ार में बिकने वाली बिस्किट, केक और पुंडिंग बच्चे बहुत चाव से खाते हैं। मगर इनमें शुगर और कार्ब्स बहुत ज्यादा मात्रा में पाए जाते है। मीठे की क्रेविंग होने पर खजूर या फिग को अपनी डाइट का हिस्सा बनाएं।

2 चटनी को केचअप की जगह करें इस्तेमाल

घर में बनने वाली मां के हाथ की इमली की चटनी खुद में ढ़ेरों फायदों को समेटे हुए है। वहीं बाज़ार में बिकने वाले टोमेटो केचअप में बहुत अधिक मात्रा में शुगर कंटेट पाया जाता है। जो खाने का स्वाद तो दोगुना कर सकता है। मगर इसमें मौजूद शुगर हमें कई रोगों से ग्रस्त करने कमें कारगर है। आप केचअप की जगह स्नैकस या परांठों को इमली की चटनी के साथ भी खा सकते हैं।

mithai aur unki calorie
अगर आप स्वीट्स खाने के शौकीन हैं, तो अपनी डाइट को हेल्दी बनाने के लिए फलों को मिठाइयों से रिप्लेस करें। चित्र : शटरस्टॉक

3 स्वीट्स की जगह करें फ्रूटस सर्व

अगर आप स्वीट्स खाने के शौकीन हैं, तो अपनी डाइट को हेल्दी बनाने के लिए फलों को मिठाइयों से रिप्लेस करें। फलों की नेचुरल मिठास आपके शरीर के लिए फायदेमंद साबित हो सकती है। वहीं स्वीटस में इस्तेमाल होने वाली रिफाइंड शुगर शरीर को नुकसान पहुंचाती है। आप डाइट में केले, सेब और तरबूज समेत कई फलों को शामिल कर सकते है।

4 चीनी की जगह किशमिश डालें

अक्सर दलिया, ओट्स और कॉर्न फ्लेक्स में मिठास लाने के लिए थोड़ी सी चीनी एड करते हैं। मगर इस बार इन ब्रेकफास्ट मील्स में चीनी की जगह किशमिश या अज़ीर को मिलाएं। इन सूखे मेवों में अपनी नेचुरल मिठास होती है। जो आपको पोषण के साथ साथ मीठा खाने से बचाने में भी सहायक है। वहीं दूध में भी चीनी की जगह छुआरों को उबालकर पी सकते हैं। इसके अलावा दूध के साथ आप डेटस खा सकते हैं।

5 नारियल पानी से करें कोल्ड ड्रिंक्स को रिप्लेस

कोल्ड ड्रिंकस को पीने से परहेज़ करें। इसमें इस्तेमाल होने वाली कार्बानेटिड शुगर शरीर में एक समय में भारी मात्रा में शुगर डिलीवर करने का काम करते है। कोल्ड ड्रिंकस की जगह नारियल पानी, नींबू पानी और लस्सी को आप पी सकते हैं। जो शरीर को पोषण प्रदान करने का काम करते हैं।

ये भी पढ़ें- सर्दियों में बालों की सेहत का रखें ख्याल, हेयर वॉश के लिए करें इन चीजों का इस्तेमाल

  • 141
लेखक के बारे में
ज्योति सोही ज्योति सोही

लंबे समय तक प्रिंट और टीवी के लिए काम कर चुकी ज्योति सोही अब डिजिटल कंटेंट राइटिंग में सक्रिय हैं। ब्यूटी, फूड्स, वेलनेस और रिलेशनशिप उनके पसंदीदा ज़ोनर हैं।

स्वास्थ्य राशिफल

स्वस्थ जीवनशैली के लिए ज्योतिष विशेषज्ञों से जानिए अपना स्वास्थ्य राशिफल

सब्स्क्राइब
nextstory

हेल्थशॉट्स पीरियड ट्रैकर का उपयोग करके अपने
मासिक धर्म के स्वास्थ्य को ट्रैक करें

ट्रैक करें