टेस्टी और हेल्दी सत्तू पराठा बनाना है तो नोट कीजिए स्टेप बाय स्टेप रेसिपी

Published on: 1 July 2022, 16:08 pm IST
बरसात के मौसम में सत्तू पराठा से बेहतर हाई प्रोटीन नाश्ता दूसरा नहीं हो सकता है। ये न केवल स्वादिष्ट है, बल्कि दिन भर आपका पेट भरा रखेगा। 
शालिनी पाण्डेय
जानें कैसे आप भी बना सकती हैं सत्तू का पराठा, चित्र: शटरस्टॉक
ऐप खोलें

क्या आप जानती हैं कि सत्तू के पराठे को मकुनी भी कहते हैं और सत्तू और कुछ नहीं बल्कि भुने हुए चने की दाल का आटा ही है?

बिहार और पूर्वी उत्तर प्रदेश में बड़े चाव से खाए जाने वाले सत्तू से पूर्वांचल में कई व्यंजन बनाए जाते हैं। अपने पौष्टिक गुणों के कारण सत्तू अब दुनिया भर में लोकप्रिय हो रहा है। यही वजह है कि लोग सत्तू के पराठे को हेल्दी ब्रेकफास्ट के तौर पर  अपनी दिनचर्या में शामिल करने लगे हैं।

इसी बात को ध्यान में रखते हुए आज हम यहां आपके लिए लाए हैं ढेर सारे हेल्थ बेनिफिट वाले सत्तू के पराठे की स्टेप बाय स्टेप रेसिपी (Step by step sattu paratha recipe)।

ताकि बरसात के मौसम में बाहर का अनहेल्दी खाना खाने के बजाए आप घर पर ही अपने लिए ये हाई प्रोटीन नाश्ता (High protein breakfast) बना सकें। 

मुंह में पानी लाने वाला सत्तू का पराठा है पौष्टिक भी

सत्तू का पराठा न सिर्फ खाने में चटपटा और स्वादिष्ट होता है, बल्कि प्रोटीन के प्रमुख शाकाहारी स्रोतों में से एक है। सत्तू का इस्तेमाल कई बिहारी व्यंजनों में किया जाता है। सत्तू का पराठा बनाने के लिए पहले सत्तू को स्पाइस अप किया जाता है यानी मसालेदार बनाया है। जिसके लिए विभिन्न हर्ब्स, सरसों का तेल और नमक का इस्तेमाल किया जाता है। 

इसमें ध्यान रखा जाता है कि स्टफिंग कि कंसिस्टेंसी में बाइन्डिंग हो और इसके बाद इसे बाकी स्टफ्ड पराठों की तरह ही आटे में भर कर बेल लिया जाता है। तवे पर सेंकने के बाद इसे दही या बैंगन के भरते और धनिए की चटनी की साथ परोसा जाता है।  

गर्मी से लेकर बारिश तक बड़े चाव से खाए जाने वाला यह पराठा एक स्वादिष्ट और हेल्दी भोजन है। पराठे सेंकने के लिए आप तेल, घी या बटर कुछ भी ट्राई कर सकती हैं। बल्कि तवे पर रोटी की ही तरह सेंक कर आप इसमें एक्स्ट्रा फैट एड होने से रोक कर अपने हेल्दी डाइट का हिस्सा बना सकती हैं। 

सत्तू के पराठे बनाने के लिए पहले नोट करें सामग्री 

आटे के लिए (for the dough)

3 कप गेहूं का आटा, 1 कप गुनगुना पानी, 1 बड़ा चम्मच तेल 

स्टफिंग के लिए सामग्री (ingredients for stuffing)

2 कप भुना हुआ बेसन (सत्तू), 2 प्याज बारीक कटा हुआ, 3 हरी मिर्च बारीक कटी हुई, 6 कली लहसुन बारीक कटा हुआ, 1 इंच अदरक बारीक कटा हुआ या कद्दूकस किया हुआ,  2 चम्मच काला जीरा या कलौंजी, 3 बड़े चम्मच हरा धनिया कटा हुआ, 1 बड़ा चम्मच सरसों का तेल, 1 बड़ा चम्मच नींबू का रस, 2 बड़े चम्मच आम का अचार मैश किया हुआ, घी , तेल  या बटर पराठे सेंकने के लिए। 

अब नोट कीजिए सत्तू पराठा बनाने का तरीका (How to make sattu paratha)

स्टेप 1 : पहले तैयार करें आटा

गरमा गरम सत्तू का पराठा बनाने के लिये स्टफिंग की सभी सामग्री को एक साथ मिला लीजिये। आटा ऐसा गूंथे जो पूरी के लिए लगाए जाने वाले आटे से मुलायम और रोटी वाले आटे से कुछ ज़्यादा कड़ा हो। अच्छी तरह से गूंथे हुए नरम आटे से नरम परांठे बनते हैं। स्टफिंग तैयार होने तक गीले मलमल के कपड़े से इसे ढककर रख दें।

हरियाले रंग की धनिया चटनी के साथ सत्तू के पराठे का स्वाद दोगुना हो जाता है। चित्र: शटरस्‍टॉक

स्टेप 2 : ऐसे बनाएं स्टफिंग 

स्टफिंग की सारी सामग्री को एक साथ मिला लें। अगर मिश्रण बहुत ज्यादा सूखा लगे तो थोड़ा गर्म पानी छिड़कें और अच्छी तरह मिला लें।

स्टेप 3 : लोई बनाएं 

आटे को छोटे बॉल्स में बांट लें और प्रत्येक बॉल को थोड़ा बेल लें, उस पर थोड़ा सा घी/तेल फैलाएं और बीच में 2 टेबलस्पून फिलिंग रखें, चारों तरफ से ढककर पराठे को 1/2 इंच मोटा बेल लें।

स्टेप 4 : इस तरह सेंकें

तवा गरम करें और तवे पर घी/तेल की कुछ बूंदें डालें। पराठे को बारी-बारी से दोनों तरफ से सुनहरा होने तक पका लें। आपका सत्तू पराठा तैयार है। बाकी पराठों को बनाने के लिए भी यही प्रक्रिया दोहराएं।

स्टेप 5 : इस तरह करें सर्व 

सत्तू पराठा की सर्विंग भी उतनी महत्वपूर्ण जितनी इसकी रेसिपी। बरसात के मौसम में आप इसे अपनी पसंदीदा चटनी, बैंगन के भर्ते या आलू चोखा के साथ परोस सकती हैं। 

यह भी पढ़ें: दर्द से छुटकारा चाहती हैं तो अपनाएं एक्यूप्रेशर का जादुई उपचार

शालिनी पाण्डेय

Next Story