विटामिन्स की कमी भी बनती है एड़ी फटने का कारण, जानिए बचाव और उपचार के तरीके

पैरों की खुश्की पर अगर ध्यान न दिया जाए तो ये जल्दी ही फटी एड़ियों का कारण बन सकते हैं। जानिए अपने पैरों की देखभाल के लिए आपको क्या करना है।

foot-care.
विटामिन की कमी का संकेत हो सकता है बार-बार एड़ियों का फटना। चित्र शटरस्टॉक
निशा कपूर Published on: 21 October 2022, 20:14 pm IST
  • 149

अक्सर लोग बदलते मौसम में चेहरे का तो खास ध्यान रखते हैं, लेकिन अपने पैरों को भूल जाते हैं। मगर पैरों के प्रति लापरवाही न सिर्फ उन्हें भद्दा बनाती है, बल्कि कई समस्याएं भी दे सकती है। इन्हीं में से एक है फटी एड़ियां, जो आगे चलकर बहुत दर्दनाक हो जाती हैं। अधिकतर सर्दियों के मौसम में एड़ियां फटने की परेशानी होने लगती है। इसलिए यह जरूरी है कि आप समय रहते ही ऐसे तरीके अपनाएं, जो इस समस्या से आपको बचा सकें। यहां हेल्थ शॉट्स के इस लेख में हम आपको बताने वाले हैं एड़ी फटने के कारण, उससे बचाव के उपाय (How to avoid crack heels) और समाधान।

क्यों फटने लगती हैं एड़ियां (Causes of crack heel)

असल में, हार्मोन्स में होने वाले बदलाव और विटामिंस की कमी के चलते भी एड़िया फटने (Cracked Heels) की परेशानी होने लगती है।

कुछ लोग इस परेशानी से हर मौसम में जूझते हैं। यह इस बात की तरफ संकेत करता है कि आपकी बॉडी में कुछ विटामिन्स की कमी हो गयी है। महिलाएं क्रेक हील्स से अधिक परेशान रहती हैं। तो ऐसे में हम आपके लिए लाये कुछ खास उपाय जो आपको इस परेशानी से राहत दिला सकते हैं।

foot care ke liye ye tips follow karen
अपने पैरों की देखभाल के लिए ये टिप्स फॉलो करें। चित्र: शटरस्टॉक

समझिए विटामिन्स की कमी और फटी एड़ियों का कनैक्शन

जब हमारी त्वचा में नमी की कमी होती है, तो वह ड्राई हो जाती हैं। ड्राइनेस की वजह से कभी-कभी एड़ियों से खून भी निकलने लगता है। जिन लोगों की एड़िया पूरे साल फटी रहती हैं। उनमें विटामिन बी3, ई, और सी की कमी हो सकती है। इनकी कमी के कारण सिर्फ हील्स ही नहीं बॉडी की रूखी और बेजान होने लगती है।

फटी एड़ियों से बचना है तो अभी से करें ये उपाय

  • यदि आप अपनी एड़ियों को सुंदर और मुलायम रखना चाहती हैं तो इन्हें मॉइस्चराइज करती रहें।
  • सप्ताह में कम से कम एक दिन अपने पैरों को 20 से 25 मिनट गुनगुने पानी में रखें। और इसके बाद स्क्रब और मॉइस्चराइज जरूर करें।
  • अपने आहार में ड्राई फ्रूट्स को जगह दें।
  • नहाते समय एड़ियों को स्क्रबर से साफ़ करें। जिससे उनमें जमी सारी गंदगी आसानी से निकल जाए।
  • रात को सोने से पहले अपने पैरों को अच्छे से साफ़ करके ही बिस्तर में जाए।
  • किसी भी उपाय को करने से पहले पैरों को साफ़ करें और बाद में मौजे पहने जिससे गंदगी पैरों में न जाए।

अगर एड़ियां फटने लगी हैं, तो आजमाएं ये घरेलू नुस्खे

1. विटामिन-ई ऑयल और कैप्सूल

एनसीबीआई (नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इनफार्मेशन) पर प्रकाशित पबमेड (PubMed. Gov) की रिसर्च के मुताबिक, विटामिन-ई त्वचा के लिए बहुत लाभकारी है। इसमें वून्ड हीलिंग गुण शामिल होता है, जो हल्के घाव को भरने में सहायता करता है। इसके साथ ही, इसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी और हाइड्रेटिंग गुण भी मौजूद होता है। जो स्किन की सूजन को कम करता है और ड्राई स्किन को हाइड्रेड करता है।

यह भी पढ़े- त्योहार न बन जाए डायबिटीज का कारण, इन 5 तरीकों से उत्सवों के दौरान भी रखें ब्लड शुगर कंट्रोल

कैसे करें इस्तेमाल

तीन से चार विटामिन-ई कैप्सूल का ऑयल निकाल कर फटी एड़ियों पर लगाएं और थोड़ी देर तक मसाज करें। दिन में 2 से 3 बार मसाज की जा सकती है।

2. चावल का आटा

पबमेड (PubMed. Gov) की रिसर्च के अनुसार, चावल का आटा फटी हुई त्वचा को हील कर सकता है। वहीं, नींबू का इस्तेमाल स्किन को सॉफ्ट बनाता है। शहद स्किन को मॉइस्चराइज और हील करने में फायदेमंद सिद्ध हो सकता है।

paron ko de raht
फुट बाथ दर्द से देगा राहत। चित्र : शटरस्टॉक

कैसे करें इस्तेमाल

एक चम्मच चावल के आटे में, 2 चम्मच शहद और एक चम्मच नींबू का रस मिक्स करें। लगभग 10 से 15 मिनट तक अपने पैरों को पानी में रखें उसके बाद इस मिश्रण से स्क्रब करें। इस नुस्खे को सप्ताह में 2 बार किया जा सकता है।

3. तिल का तेल

तिल के तेल में कई पोषक तत्व भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। इसमें घाव को हील करने का भी गुण शामिल होता है। बहुत बार क्रेक हिल्स में संक्रमण की परेशानी हो जाती है, ऐसे में तिल के तेल का इस्तेमाल फायदेमंद माना जा सकता है।

कैसे करें इस्तेमाल

एक चम्मच तिल के तेल को हल्का गुनगुना करके अपनी एड़ियों पर हल्के हाथ से मसाज करें। रोजाना रात को सोते समय ऐसा करने से फटी एड़ियों से राहत मिल सकती है।

यह भी पढ़े- हैंड हाइजीन के लिए जरूरी है सैनिटाइजर, पर दिवाली पर रहें कुछ चीजों से सावधान 

  • 149
लेखक के बारे में
निशा कपूर निशा कपूर

देसी फूड, देसी स्टाइल, प्रोग्रेसिव सोच, खूब घूमना और सफर में कुछ अच्छी किताबें पढ़ना, यही है निशा का स्वैग।

स्वास्थ्य राशिफल

स्वस्थ जीवनशैली के लिए ज्योतिष विशेषज्ञों से जानिए अपना स्वास्थ्य राशिफल

सब्स्क्राइब
nextstory

हेल्थशॉट्स पीरियड ट्रैकर का उपयोग करके अपने
मासिक धर्म के स्वास्थ्य को ट्रैक करें

ट्रैक करें