Lotus Stem: इन 4 तरह से अपनी वेट लॉस डाइट में शामिल कर सकती हैं कमल ककड़ी, जानें इसके कुछ खास फायदे

कमल स्टेम जिसे आम भाषा में "कमल ककड़ी" कहा जाता है, उसमें कई महत्वपूर्ण पोषक तत्वों की गुणवत्ता मौजूद होती है। वहीं इसे डाइट में शामिल किया जा सकता है।
healthy chips recipe
कमल ककड़ी के साथ खुद को दें सेहतमंद ट्रीट, चित्र:शटरस्टॉक
अंजलि कुमारी Published: 8 Jun 2024, 10:00 am IST
  • 123

कमल हमारा राष्ट्रीय फूल है, इसका इस्तेमाल आम तौर पर धार्मिक रूप से किया जाता है। परंतु आपको बताएं कि इसकी स्टेम जिसे आम भाषा में “कमल ककड़ी” कहा जाता है, उसमें कई महत्वपूर्ण पोषक तत्वों की गुणवत्ता मौजूद होती है। वहीं इसे डाइट में शामिल किया जा सकता है। कमल के स्टेम को लोग बेहद पसंद करते हैं, परंतु अभी भी कई ऐसे लोग हैं जो इसकी गुणवत्ता से अनजान हैं। तो चलिए आज हेल्थ शॉट्स के साथ जानते हैं कमल ककड़ी में मौजूद पोषक तत्वों की गुणवत्ता, और इसके फायदे (benefits of lotus stem)। साथ ही जानेंगे इसे डाइट में शामिल करने के कुछ हेल्दी तरीके।

मणिपाल हॉस्पिटल गाजियाबाद की न्यूट्रीशन और डायटेटिक्स की हेड, डॉक्टर अदिति शर्मा ने कमल ककड़ी के कुछ खास फायदे बताए हैं। तो चलिए जानते हैं, इसकी गुणवत्ताओं के बारे में (benefits of lotus stem)।

जानें कमल ककड़ी के फायदे (benefits of lotus stem)

1. पाचन में मदद करता है (helps in digestion)

लकड़ीदार, मांसल कमल की जड़ आहार फाइबर से भरपूर होती है, जो मल त्याग को आसान बनाने के लिए जानी जाती है। कमल की जड़ कब्ज के लक्षणों को कम कर सकती है, वहीं पाचन और गैस्ट्रिक जूस के सेक्रेशन को बढ़ावा देती है, जिससे कि शरीर में पोषक तत्वों का अवशोषण बढ़ जाता है। यह चिकनी आंतों की मांसपेशियों में पेरिस्टाल्टिक गति को उत्तेजित करती है, जिससे मल त्याग आसान और नियमित हो जाता है।

digestion
पाचन स्वास्थ्य में सुधर करे. चित्र : एडॉबीस्टॉक

2. वेट लॉस को बढ़ावा देता है (promotes weight loss)

कमल ककड़ी को वेट लॉस डाइट में शामिल करना एक अच्छा आईडिया है। इसमें पर्याप्त रूप से फाइबर की मात्रा पाई जाती है, वहीं इसकी कैलोरी कम होती है और पोषक तत्व अधिक होते हैं। कमल ककड़ी की सब्जी और रोटी खाने से आपको लंबे समय तक संतुष्टि प्राप्त होती है, जिससे कि आप बार-बार भोजन नहीं करती।

3. वॉटर रिटेंशन को प्रिवेंट करे (helps in water retention)

नेशनल लाइब्रेरी ऑफ़ मेडिसिन द्वारा प्रकाशित अध्ययन के अनुसार कमल की जड़ों में मौजूद उच्च पोटेशियम सामग्री अतिरिक्त सोडियम को अवशोषित करती है, और यूरिन उत्पादन को उत्तेजित करती है। नतीजतन, इसका सेवन अत्यधिक पानी के जमाव को रोकने में सहायता करता है।

यह भी पढ़ें: सेहतमंद रहना है, तो इन 4 हेल्दी होममेड डिप से रिप्लेस करें मायोनिज और कैचप

4. मानसिक स्पष्टता प्रदान करता है (promotes mental health)

कमल ककड़ी में पर्याप्त मात्रा में विटामिन बी पाया जाता है। विटामिन बी कॉम्प्लेक्स के तत्वों में से एक पाइरिडोक्सिन है। यह मस्तिष्क में तंत्रिका रिसेप्टर्स के साथ सीधे संपर्क करता है, जो मूड और मानसिक स्थिति को प्रभावित करते हैं। यह चिड़चिड़ापन, सिरदर्द और तनाव के स्तर को भी नियंत्रित रखने में मदद करता है।

herbs for mental health
मानसिक भलाई के लिए महत्वपूर्ण हैं। इससे अपनेपन और आत्म-सम्मान की भावना विकसित करने में मदद मिलेगी। चित्र : अडोबी स्टॉक

5. एनीमिया के जोखिम को कम कर देता है (helps in anemia)

कमल की जड़ में प्रयाप्त मात्रा में आयरन और कॉपर पाए जाते हैं, ये पोषक तत्व रेड ब्लड सेल्स के उत्पादन में एक प्रमुख भूमिका निभाते हैं। इनके सेवन से एनीमिया के लक्षणों के जोखिम को कम किया जा सकता है साथ ही रक्त प्रवाह को बढ़ाने में मदद मिलती है। इस प्रकार यह जड़ रक्त परिसंचरण को उत्तेजित करने और ऑर्गन ऑक्सीजनेशन को बढ़ाने में मदद करती है।

अब जानें इन्हे किस तरह से डाइट में शामिल करना है (how to add lotus stem in your diet)

1. भुनी हुई कमल ककड़ी

कमल ककड़ी को भूनकर शाम के स्नैक्स के तौर पर लेना एक बेहद हेल्दी विकल्प साबित हो सकता है। यह हेल्दी होने के साथ ही बेहद स्वादिष्ट भी होते हैं। आप इन्हें फ्राई करें और इन्हे छोटे-छोटे चौप किए गए धनिए के साथ सर्व करें।

2. लोटस रूट मिक्स सलाद

यदि आप नियमित रूप से सलाद का सेवन करती हैं, तो इनमें कमल ककड़ी को शामिल करें। इसके पतले पतले स्लाइस काटकर इससे अन्य सलाद सामग्री के साथ लें। यह इनके पोषक तत्वों की गुणवत्ता का लाभ उठाने का सबसे अच्छा तरीका है।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें
कमल ककड़ी की यह आसान रेसिपी फाइबर से भरपूर है। चित्र: शटरस्‍टॉक
कमल ककड़ी की यह आसान रेसिपी फाइबर से भरपूर है। चित्र: शटरस्‍टॉक

3. कमल ककड़ी पुलाव

कमल ककड़ी में बेहद कम मात्रा में कैलोरी पाई जाती है। इसके अलावा यह अन्य कई महत्वपूर्ण पोषक तत्वों से भरपूर होता है। आप इसे अपनी नियमित पुलाव में ऐड कर सकती हैं। इसके अलावा इससे मिलेट पुलाव तैयार करना भी एक अच्छा आईडिया है। फाइबर, प्रोटीन जैसे पोषक तत्वों से भरपूर ये खाद्य पदार्थ आपको लंबे समय तक संतुष्ट रहने में मदद करेंगे।

4. कमल ककड़ी कबाब

उबाल कर कसे हुए कमल ककड़ी में मसाले हब्र्स और बाइंडिंग एजेंट मिलकर इन्हें ग्रिल या बेक करें। यह एक गिल्ट फ्री कबाब साबित हो सकती है आप चाहे तो इसे मैस किए हुए आलू, प्याज, मिर्च, जीरा पाउडर, काली मिर्च पाउडर आदि को एक साथ मिलाकर तैयार कर सकती हैं।

यह भी पढ़ें: Cooling Herb : आपकी रसोई में मौजूद हैं नेचुरल एयर कंडीशनर्स, ट्राई कीजिए ये 5 कूलिंग हर्ब्स

  • 123
लेखक के बारे में

इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट अंजलि फूड, ब्यूटी, हेल्थ और वेलनेस पर लगातार लिख रहीं हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख