Heat Anxiety : बढ़ती गर्मी कहीं बढ़ा न दे हीट एंग्जाइटी का जोखिम, जानिए इससे कैसे बचना है

आसपास का वातावरण और मौसम आपके शारीरिक तंत्र को प्रभावित करता है। जिसका असर ब्रेन पर भी होता है। गर्मियों में होने वाली ऐसी ही एक समस्या है हीट एंग्जाइटी।
Jaldi uthna kyu hai jaruri
लंबे वक्त तक सोने से शरीर में थकान, आलस्य और एनर्जी की कमी बढ़ने लगती है। चित्र- अडोबी स्टॉक
संध्या सिंह Published: 14 Apr 2023, 17:16 pm IST
  • 145

हीट एंग्जाइटी एक ऐसी स्थिति है, जो तब होती है जब शरीर उच्च तापमान के संपर्क में आता है और अपने तापमान को ठीक से नियंत्रित नहीं कर पाता। इसे हीट स्ट्रेस या गर्मी से होने वाली थकावट के रूप में भी जाना जाता है। इसके कारण किसी को भी कमजोरी, चक्कर आना, सिरदर्द, बेचैनी और हार्ट बीट के तेज होने जैसे कई लक्षणों का सामना करना पड़ सकता है। हीट एंग्जाइटी एक गंभीर स्थिति हो सकती है और अगर इसका समय रहते उपचार न किया जाए। गर्मी के मौसम में हीट एंग्जाइटी (How to avoid heat anxiety) से बचना जरूरी है। इसके लिए यहां कुछ उपाय दिए गए हैं।

शरीर के तापमान को रेगुलेट करने के लिए कई तंत्र हैं, जैसे पसीना और रक्त वाहिकाओं को फैलाना। लंबे समय तक उच्च तापमान के संपर्क में रहने पर, ये तंत्र काम करना बंद कर सकते हैं। जिससे शरीर खुद को ठंडा करने में असमर्थ हो सकता है। इसके परिणामस्वरूप हीट एंग्जाइटी हो सकती है। यह एक ऐसी स्थिति है जो किसी को भी प्रभावित कर सकती है, लेकिन उन लोगों में होने की संभावना अधिक होती है जो बाहर काम करते हैं, एथलीट्स या जो लोग किसी विशेष चिकित्सा स्थिति के शिकार हैं।

हीट एंग्जाइटी के बारे में ज्यादा जानकारी के लिए हमने बात की डॉ. आशुतोष श्रीवास्तव से। डाॅ श्रीवास्तव सीनियर क्लीनिकल साइकोलॉजिस्ट हैं।

क्या है हीट एंग्जाइटी का मुख्य कारण

हीट एंग्जाइटी का सबसे बड़ा कारण है डिहाइड्रेशन। जब शरीर डिहाइड्रेट होता है, तो शरीर से पसीना प्रभावी ढंग से बाहर नहीं निकल पाता है जिससे शरीर ठंडा नहीं हो पाता है। इसलिए, शरीर को हाइड्रेटेड रखने के लिए पर्याप्त मात्रा में पानी और अन्य तरल पदार्थों का सेवन करना आवश्यक है। शराब, कैफीन और शक्कर युक्त पेय से बचना भी महत्वपूर्ण है, क्योंकि वे डिहाइड्रेशन का कारण बन सकते हैं और हीट एंग्जाइटी के लक्षणों को बढ़ा सकते हैं।

Anxiety ka prabhav
तेज धूप आपके शरीर को बहुत गर्म कर सकती है जिससे आपको हीट स्ट्रोक का खतरा भी हो सकता है। चित्र : शटरस्टॉक

हीट एंग्जाइटी से कैसे करें बचाव

1 हीट एंग्जाइटी के संकेतों को पहचानें

स्थिति को और अधिक गंभीर होने से रोकने के लिए हीट एंग्जाइटी के संकेतों को पहचानना भी महत्वपूर्ण है। कमजोरी, चक्कर आना, सिरदर्द, बेचैनी और हार्ट रेट में वृद्धि जैसे लक्षण हीट एंग्जाइटी का संकेत हो सकते हैं। यदि ये लक्षण होते हैं, तो जल्की से अपने आप को ठंडा करने की कोशिश करें, जैसे ठंडे वातावरण में जाना, पानी पीना और आराम करना।

ये भी पढ़े- मानसिक थकान और लो प्रोडक्टिविटी का कारण बन सकती है ओवरथिंकिंग, इन 5 उपायों से करें इसे कंट्रोल

2 सुविधाजनक और कूलिंग कपड़े पहनें

हीट एंग्जाइटी को रोकने का एक उपाय है कि आपको उचित कपड़े पगनने चाहिए। हल्के, ढीले-ढाले कपड़े पहनने से शरीर के चारों ओर हवा का संचार होता है, शरीर के तापमान को नियंत्रित करने और ज़्यादा गरम होने से रोकने में मदद मिल सकती है। खुद को ठंडा रखने के लिए पंखे या एयर कंडीशनिंग का उपयोग करना भी महत्वपूर्ण है।

3 तेज धूप में बाहर जाने से बचें

अगर आप तेज धूप में बाहर घूमते है तो आपको इससे बचना चाहिए, क्योकि तेज धूप आपके शरीर को बहुत गर्म कर सकती है जिससे आपको हीट स्ट्रोक का खतरा भी हो सकता है। अगर ज्यादा जरूरी न हो तो धूप में बाहर न निकलें। बहुत जरूरी काम के लिए अगर आपको बाहर जाना ही पड़ता है तो आपका छाता लेकर, कैप पहनकर और पानी की बोतल को साथ लेकर ही बाहर निकलना चाहिए।

behatar svaasthy ke lie tanaav se mukti paen.
शरीर को हाइड्रेटेड रखने के लिए खूब पानी और तरल पदार्थ पिएं। चित्र : शटरस्टॉक

4 गर्मी से ब्रेक लें

हीट एंग्जाइटी को रोकने के लिए ब्रेक लेना और खुद को शांत करना जरूरी है। शारीरिक गतिविधि या बाहर काम करते समय, किसी ठंडे क्षेत्रों में बार-बार ब्रेक लेना आवश्यक है। अत्यधिक परिश्रम से बचना और शरीर पर ध्यान दें, थकान या अधिक गर्मी महसूस होने पर ब्रेक लेना भी महत्वपूर्ण है।

अत्यधिक परिश्रम से बचें और अपना समय शारीरिक गतिविधियों में निकालें। अपने शरीर को सुनें और जब आप थका हुआ या ज़्यादा गरम महसूस करें तो ब्रेक लें।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

5 आसपास के माहौल को ठंडा रखें

जब भी संभव हो छाया या ठंडे स्थान की तलाश करें। अपने घर या कार्यक्षेत्र को ठंडा करने के लिए पंखे या एयर कंडीशनिंग का उपयोग करें।

6 हाइड्रेटेड रहें

अपने शरीर को हाइड्रेटेड रखने के लिए खूब पानी और तरल पदार्थ पिएं। शराब, कैफीन और शक्कर युक्त पेय से बचें, क्योंकि ये डिहाइड्रेशन का कारण बन सकते हैं।

ये भी पढ़े- एलोवेरा की 3 समर ड्रिंक रेसिपीज आपको रखेंगी हाइड्रेटेड, स्किन और बालों के लिए भी हैं फायदेमंद

  • 145
लेखक के बारे में

दिल्ली यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट संध्या सिंह महिलाओं की सेहत, फिटनेस, ब्यूटी और जीवनशैली मुद्दों की अध्येता हैं। विभिन्न विशेषज्ञों और शोध संस्थानों से संपर्क कर वे  शोधपूर्ण-तथ्यात्मक सामग्री पाठकों के लिए मुहैया करवा रहीं हैं। संध्या बॉडी पॉजिटिविटी और महिला अधिकारों की समर्थक हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख