लॉग इन

एक्ने से परेशान हैं, तो आहार में शामिल करें ये 5 तरह के जूस

गालों, माथे या बैक पर एक्ने का सबसे बड़ा कारण पेट की गर्मी और त्वचा में अतिरिक्त ऑयल का इकट्ठा होना होता है। स्वभाविक है जब कारण पेट के अंदर है, तो समाधान भी पेट के अंदर से ही किया जाना चाहिए
विटामिन सी, जिंक और एंथोसायनिन से भरपूर फलों का जूस पीने से शरीर फ्री रेडिकल्स के प्रभाव से मुक्ति मिलती है और मुहांसों की समस्या से बचा जा सकता है। चित्र- अडोबी स्टॉक
ज्योति सोही Published: 18 May 2024, 11:00 am IST
ऐप खोलें

बढ़ता तापमान ओवरऑल हेल्थ के साथ स्किन के लिए भी बेहद नुकसानदायक साबित होता है। गर्मी के मौसम में सीबम प्रोडक्शन बढ़ने से त्वचा पर अतिरिक्त तेल की समस्या का सामना करना पड़ता है, जो एक्ने का कारण बनने लगते हैं। दरअसल, गर्मी में प्यास बुझाने के लिए अलग अलग जूस और ड्रिंक्स का सेवन किया जाता है। इससे त्वचा को मुहांसों की समस्या का सामना करना पड़ता है। युवाओं में आमातौर पर माथे पर एक्ने बढ़ने लगते हैं। मौसम में बदलाव के अलावा अनियमित खान पान भी एक्ने की समस्या का कारण साबित होता है। जानते हैं फोरहेड एक्ने से निपटने के लिए आहार में शामिल करें ये 5 तरह के जूस।

इस बारे में डायटीशियन डॉ अदिति शर्मा बताती हैं कि हार्मोनल इंबैलेंस, इंफ्लामेशन, सीबम प्रोडक्शन और बैक्टीरियल इंफे्क्शन फोरहेड एक्ने का कारण बनने लगते हैं। दरअसल, आहार में अतिरिक्त शुगर, कार्ब्स, रिफाइंड अनाज, डेयरी प्रोडक्टस और तनाव के चलते एक्ने की समस्या का सामना करना पड़ता है। इसके अलावा मेकअप रिमूव न करना भी एक्ने की समस्या को बढ़ा सकता है। ऐसे में विटामिन सी, जिंक और एंथोसायनिन से भरपूर फलों का जूस पीने से शरीर फ्री रेडिकल्स के प्रभाव से मुक्ति मिलती है और मुहांसों की समस्या से बचा जा सकता है।

हार्मोनल इंबैलेंस, इंफ्लामेशन, सीबम प्रोडक्शन और बैक्टीरियल इंफे्क्शन फोरहेड एक्ने का कारण बनने लगते हैं। चित्र- अडोबी स्टॉक

जानें वो 5 जूस जिनकी मदद से फोरहेड एक्ने की समस्या से मिलेगी राहत

1. सेलेरी जूस (Celery juice)

विटामिन, मिनरल, कैल्शियम और मैग्नीशियम से भरपूर सेलेरी जूस में एंटीऑक्सीडेंटस की उच्च मात्रा पाई जाती है। इससे शरीर गर्मियों में हाईड्रेट रहता है और शरीर में मौजूद टॉक्सिक पदार्थों को डिटॉक्स करने में मदद मिलती है। सेलेरी जूस का सेवन करने से त्वचा में ऑक्सीडेंटिव तनाव कम होने लगता है और कोलेजन की मात्रा बढ़ने लगती है। एक्सपर्ट के अनुसार सेलेरी जूस गट हेल्थ को भी मज़बूत बनाए रखने में मदद करता है और फोरहेड एक्ने की समस्या हल हो जाती है।

जानें रेसिपी- दिन की हेल्दी और हाइड्रेटेड शुरूआत के लिए बेस्ट है सेलेरी जूस, जानिए इसके फायदे और बनाने का तरीका

2. बीटरूट जूस (Beetroot juice)

चुकंदर में एंटीऑक्सीडेंटस की प्रुचर मात्रा पाई जाती है। इससे त्वचा पर सीबम प्रोडक्टशन को नियंत्रित करने में मदद मिलती है। इसके अलावा चुकंदर में पाई जाने वाली विटामिन ए और सी की मात्रा स्किन सेल्स को रिपेयर करते हैं। बीटरूट जूस को नियमित तौर पर पीने से स्किन नेचुरली एक्सफोलिएट होने लगती है। इसके अलावा फोरहेड एक्ने और हाईपरपिगमेंटेशन के प्रभाव से भी मुक्ति मिल जाती है।

जानें रेसिपी- Beetroot Juice and Heart health : यहां हैं बीटरूट जूस और हार्ट हेल्थ से जुड़े उन सभी सवालों के जवाब, जिन्हें लोग बार-बार पूछते हैं

चुकंदर में पाई जाने वाली विटामिन ए और सी की मात्रा स्किन सेल्स को रिपेयर करते हैं। चित्र : अडोबी स्टॉक

3. एलोवेरा जूस (Aloe vera juice)

नियमित रूप से एलोवेरा जूस का सेवन करने से शरीर में विटामिन सी की मात्रा बढ़ती है, जिससे फोरहेड एक्ने की समस्या हल हो जाती है। एलोवेरा जूस को पीने से गर्मी के कारण बढ़ने वाली चेहरे की सूजन और रैशेज से राहत मिलती है। इसके अलावा स्किन सेल प्रोडक्शन में मदद मिलती है। इसमें मौजूद कंपाउड त्वचा को एटोपिक डर्माटाइटिस से राहत दिलाते है।

जानें रेसिपी- एलोवेरा जूस के साथ करें अपने दिन की शुरुआत, सेहत को मिलेंगे ये 5 फायदे

4. अनार का जूस (Pomegranate juice) 

गर्मी के मौसम में शरीर में इलेक्ट्रोलाइट्स संतुलन बनाए रखने के लिए अनार का जूस बेहद फायदेमंद है। इसे पीने से त्वचा की नमी बरकरार रहती है और स्किन फ्री रेडिकल्स के प्रभाव से मुक्त रहती है। अनार में पाए जाने वाले पॉलिफिनॉलिक कंपाउंड स्किन ब्राइटनिंग में मदद करते हैं और सीबम प्रोडक्टशन को रेगुलेट करने में भी मदद करते हैं।

जानें रेसिपी- स्किन पर लाना है बेबी जैसा गुलाबी निखार, तो अपनी डेली डाइट में शामिल करें ये 3 तरह के जूस

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें
अनार में पाए जाने वाले पॉलिफिनॉलिक कंपाउंड स्किन ब्राइटनिंग में मदद करते हैं और सीबम प्रोडक्टशन को रेगुलेट करने में भी मदद करते हैं। चित्र- अडोबी स्टॉक

5. गाजर का जूस (Carrot juice)

बीटा कैरोटीन से भरपूर गाजर का जूस पीने से त्वचा पर बढ़ने वाली एक्ने की समस्या से राहत मिलती है। इससे स्किन का लचीलापन बना रहता है। साथ ही त्वचा के टैक्सचर को इंप्रूव करने में मदद मिलती है। विटामिन ए, सी और ई रिच होने के चलते सीबम के प्रोडक्शन को नियंत्रित करने में मदद करता है। साथ ही त्वचा को यूवीरेज़ से भी प्रोटेक्ट करता है। रोज़ाना गाजर के जूस को आहार में शामिल करने से स्किन संबधी समस्याएं हल होने लगती हैं।

जानें रेसिपी- Carrot Juice Benefits : ब्रेस्ट और लंग्स कैंसर के खतरे को भी कम करता है गाजर का जूस, जानिए इसके और भी फायदे

 

ये भी पढ़ें- स्किन की इलास्टीसिटी को मेंटेन रखने के लिए इन DIY फेसपैक को बनाएं अपने ब्यूटी रूटीन का हिस्सा

ज्योति सोही

लंबे समय तक प्रिंट और टीवी के लिए काम कर चुकी ज्योति सोही अब डिजिटल कंटेंट राइटिंग में सक्रिय हैं। ब्यूटी, फूड्स, वेलनेस और रिलेशनशिप उनके पसंदीदा ज़ोनर हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख