बढ़ता वजन बढ़ा रहा है चिंता, तो अब है कोकोनट को अपनी डाइट में शामिल करने का वक्त

पोषक तत्वों से भरपूर नारियल वजन कम करने में भी आपकी मदद कर सकता है। यह असल में आपके मेटाबोलिज्म को बूस्ट कर, क्रेविंग को भी कंट्रोल करता है।

coconut garmi se rahat degi
वेट लॉस में मदद करता है नारियल। चित्र : शटरस्टॉक
अंजलि कुमारी Published on: 21 August 2022, 19:00 pm IST
  • 147

नारियल की गुणवत्ता के बारे में तो हम सभी जानते हैं। पोषक तत्वों से भरपूर नारियल कई तरह की स्वास्थ्य समस्याओं का एक उचित इलाज माना जाता है। क्या आपने कभी सोचा है कि नारियल किस तरह हमारी वेट लॉस डाइट का हिस्सा बन सकता है। ज्यादातर फल वेट गेन के लिए रिस्पांसिबल होते हैं। परंतु नारियल एक ऐसा फल है जो वजन कम करने में आपकी मदद (coconut for weight loss) कर सकता है।

कई ऐसे सेलिब्रिटी हैं जो वेट लॉस डाइट में नारियल पानी और नारियल का सेवन करते हैं। यह आपकी भूख को नियंत्रित करता है। इसके साथ ही मेटाबॉलिज्म को बूस्ट करके वेट लॉस में प्रभावी तरीके से मदद करता है। तो चलिए जानते है किस तरह नारियल आपकी वेट लॉस डाइट का हिस्सा बन सकता है।

Apne aap ko lekar confident rahe
वेट लॉस के लिए कोकोनट का सेवन असरदार है । चित्र : शटरस्टॉक

यहां जाने वजन कम करने में कैसे मददगार होता है नारियल

1. लो कार्ब्ज फ़ूड

कई सारे डाइटिशियन और न्यूट्रीशनिस्ट लो कार्ब्ज खाद्य पदार्थों को खाने की सलाह देते हैं, यह वेट लॉस में काफी ज्यादा फायदेमंद होता है। नेशनल लाइब्रेरी ऑफ़ मेडिसिन द्वारा प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार कोकोनट में एंटी इन्फ्लेमेटरी प्रॉपर्टी और ओमेगा 3 फैटी एसिड पाई जाती है। वहीं कोकोनट कुकिंग ऑयल आपके साधारण तेल के मुकाबले वेट कंट्रोल करने के लिए काफी ज्यादा फायदेमंद होता है। कुकिंग ऑयल के तौर पर इसका इस्तेमाल वेट लॉस के दौरान शरीर को जरूरी पोषण प्रदान करता हैं।

2. क्रेविंग्स को कम करें

कोकोनट का सेवन भूख को नियंत्रित करने में आपकी मदद करता है। कोकोनट में मौजूद एक प्रकार का फैट आपको लंबे समय तक संतुष्ट रखता है। वहीं कोकोनत में मौजूद शुगर शरीर को इंस्टेंट एनर्जी प्रदान करता है।

Jaldi weight loss ki koshish n karein
जल्दी वजन कम करने की कोशिश में न रहें। चित्र : शटरस्टॉक

यह बार-बार भूख लगने की समस्या को कम कर देता है। इसके साथ ही होने वाले फूड क्रेविंग्स को भी नियंत्रित रखता है। कोकोनट ऑयल को खाद्य पदार्थों को बनाने में इस्तेमाल कर सकती हैं। वहीं फ्रेश कोकोनट को स्मूदी के तौर पर लेना भी हेल्दी रहेगा।

3. मेटाबॉलिज्म को बूस्ट करें

कोकोनट में मौजूद फैटी एसिड मेटाबॉलिज्म रेट को बढ़ा देती है। फैटी एसिड अन्य चेन फैट्स की तुलना में मेटाबॉलिज्म रेट को ज्यादा फ़ास्ट करता है। मेटाबॉलिक रेट फ़ास्ट होने से बॉडी आसानी से वेट लूज कर पाती है।

4. बेली फैट को कम करे

कोकोनट ऑयल भूख को कम करता है और मेटाबॉलिज्म को बूस्ट करता है। कोकोनट ऑयल का नियमित सेवन पेट की चर्बी को कम करने के लिए असरदार माना जाता है। बेली फैट कम होने से मेटाबॉलिक हेल्थ में सुधार होता है और यह लंबे समय से चली आ रही बीमारी से भी राहत पाने में मदद करता है।

Behtareen samagri hai nariyal
बेहतरीन सामग्री हैं नारियल। चित्र: शटरस्‍टॉक 

इस तरह अपने आहार में शामिल कर सकती है कोकोनट

1. डेजर्ट के तौर पर कोकोनट को ले सकती है। इसके साथ ही डेजर्ट को कोकोनट का फ्लेवर देना भी एक अच्छा आईडिया रहेगा।

2. सुबह ब्रेकफास्ट में कोकोनट वॉटर ले सकती हैं। यह आपको पूरे दिन रिफ्रेश रहने में मदद करेगा। साथ ही इसका सेवन पेट को साफ रखता है और वेट लॉस में भी मदद कर सकता है।

3. अपने नियमित खाद्य पदार्थों को बनाने में कोकोनट ऑयल का इस्तेमाल करें। यह वेट लॉस का एक सबसे अच्छा विकल्प होता है।

4. स्मूदी को स्नैक्स के तौर पर ले सकती हैं। यदि आप चाहें तो कोकोनट वॉटर और कोकोनट चंक्स को अन्य हेल्दी फ्रूट स्मूदी की गुणवत्ता और स्वाद बढ़ाने के लिए भी इस्तेमाल कर सकती हैं।

यह भी पढ़ें : हर उम्र में दिखना चाहती हैं युवा और खूबसूरत, तो फॉलो करें 5 टिप्स

  • 147
लेखक के बारे में
अंजलि कुमारी अंजलि कुमारी

इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट अंजलि फूड, ब्यूटी, हेल्थ और वेलनेस पर लगातार लिख रहीं हैं।

स्वास्थ्य राशिफल

स्वस्थ जीवनशैली के लिए ज्योतिष विशेषज्ञों से जानिए अपना स्वास्थ्य राशिफल

सब्स्क्राइब
nextstory