दूध अगर फट गया है, तो इन 5 तरीकों से कर सकती हैं उससे बचे पानी का इस्तेमाल 

जब दूध फट जाता है, तो इसके लिक्विड पार्ट को बेकार समझ कर फेंक देते हैं। यदि आप इस पानी का प्रयोग करें, तो यह आपके स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होगा।

whey water use
फटे हुए दूध के पानी का कई तरह से इस्तेमाल किया जा सकता है। चित्र: शटरस्टॉक
स्मिता सिंह Published on: 10 September 2022, 15:30 pm IST
  • 126

कभी-कभार जब दूध को सही तरह से उबाला नहीं जाता है, तो वह फट जाता है। दूध फटने के बाद हम झटपट सॉलिड पार्ट यानी पनीर छान लेते हैं और पानी फेंक देते हैं। क्या आप जानती हैं कि पनीर का पानी (Whey Water) भी पोषक तत्वों से भरपूर होता है। क्या आप इसके इस्तेमाल करने का तरीका जानना (How to use whey water) चाहेंगी? जानने के बाद आप इसे किचन वेस्ट एलिमेंट (Kitchen waste element) के रूप में नहीं, बल्कि किचन बेस्ट एलिमेंट (Kitchen Best element) के रूप में इस्तेमाल करने लगेंगी। रिसर्च बताते हैं कि यह कई प्रकार के जरूरी पोषक तत्वों से भरपूर होता है।

क्या कहती है रिसर्च

वीणा नागराज, बी सुरेंद्रनाथ, ए पुष्पादास की टीम ने वर्ष 2017 में पनीर के पानी पर शोध किया। इस शोध के अनुसार, पनीर के पानी को दही के रूप में जमाया गया, तो इसमें फैट और प्रोटीन कंटेंट कम थे, लेकिन लैक्टोज और मिनरल की मात्रा अधिक थी। यह शोध रिसर्चगेट में भी प्रकाशित हुई।

पबमेड सेंट्रल में प्रकाशित हुए रिसर्च पेपर के अनुसार, वर्ष 1901 में हॉस्पिटल लॉन्ड में टायफाइड के मरीजों को पनीर का पानी दिया गया था। हालांकि पेशेंट की हालत में सुधार हुए, पर रिसर्च यह स्पष्ट नहीं कर पाई कि पनीर के पानी का तबियत को सुधारने में कितना योगदान रहा।

फटे दूध के पानी में मौजूद पोषक तत्व

यूएस डिपार्टमेंट ऑफ एग्रीकल्चर के अनुसार, पनीर के पानी में लिक्विड फॉर्म में कार्बोहाइड्रेट (4.8 प्रतिशत), प्रोटीन (0.8 प्रतिशत) और वसा (0.3 प्रतिशत) मौजूद होता है। इसमें पानी 93 प्रतिशत मौजूद होता है। इनके अलावा, कई माइक्रो न्यूट्रीएंट्स पोटैशियम, कैल्शियम, फॉस्फोरस और जिंक मौजूद होते हैं।

यहां हैं फटे हुए दूध के पानी को प्रयोग में लाने के 5 तरीके

1स्मूदी या मिल्क बेस्ड ड्रिंक में

कुछ स्मूदी को तैयार करने में हम दूध का प्रयोग करते हैं। यदि आप दूध की बजाय पनीर के पानी का प्रयोग करेंगी, तो स्मूदी उतनी ही हेल्दी और टेस्टी होगी।

2 सत्तू ड्रिंक

काले चने के सत्तू के ड्रिंक को तैयार करते समय हम अक्सर नींबू के रस या दही का प्रयोग करते हैं। कभी आप नींबू रस या दही की बजाय पनीर के पानी का प्रयोग करें। आपको यह ड्रिंक अलग-से स्वाद का एहसास कराएगा।

sattu drink
सत्तू से तैयार होने वाले पेय में भी फटे हुए दूध के पानी का प्रयोग किया जा सकता है। चित्र: शटरस्टॉक

3 तरी वाली सब्जी में

आप तरी वाली सब्जी बना रही हैं और आपका दूध फट गया है। इस पानी को फेंकने की बजाय सब्जी में डाल दें। इससे तैयार ग्रेवी न सिर्फ गाढ़ी होगी, बल्कि स्वाद भी अलग होगा।

4आटा गूंथते समय

मल्टीग्रेन आटा गूंद रही हैं, तो इस गुनगुने पानी से आटा गूंदें। बहुत ही मुलायम और सफेद आटा तैयार होगा। सादे आटे में भी इसका प्रयोग कर सकती हैं।

5 दूध के स्थान पर पनीर के पानी का प्रयोग

दूध के स्थान पर यदि इस पानी को पीती हैं, तो यह आपको लंबे समय तक पेट भरा होने का एहसास दिलाएगा। 

khees mithai

यह भी पढ़ें:-वीगन हैं तो इस बार ट्राई करें पोटैटो मिल्क, हम बता रहे हें इसके फायदे 

  • 126
लेखक के बारे में
स्मिता सिंह स्मिता सिंह

स्वास्थ्य, सौंदर्य, रिलेशनशिप, साहित्य और अध्यात्म संबंधी मुद्दों पर शोध परक पत्रकारिता का अनुभव। महिलाओं और बच्चों से जुड़े मुद्दों पर बातचीत करना और नए नजरिए से उन पर काम करना, यही लक्ष्य है।

स्वास्थ्य राशिफल

स्वस्थ जीवनशैली के लिए ज्योतिष विशेषज्ञों से जानिए अपना स्वास्थ्य राशिफल

सब्स्क्राइब
nextstory

हेल्थशॉट्स पीरियड ट्रैकर का उपयोग करके अपने
मासिक धर्म के स्वास्थ्य को ट्रैक करें

ट्रैक करें