दालचीनी से लेकर लैवेंडर तक, जानिए कैसे करना है स्किन केयर में हर्ब्स का इस्तेमाल

दमकती त्वचा की ख्वाहिश है, परंतु केमिकल युक्त प्रोडक्ट्स के इस्तेमाल से डर लगता है। तो कई ऐसे प्राकृतिक हर्ब्स मौजूद हैं, जो बिना किसी साइड इफेक्ट के आपकी त्वचा कि सेहत के लिए कमाल कर सकते हैं।

herbs for healthy skin
आपकी त्वचा के लिए कमल के हैं ये हर्ब्स। चित्र : शटरस्टॉक
अंजलि कुमारी Updated on: 24 January 2023, 18:24 pm IST
  • 122
इस खबर को सुनें

आजकल महिलाएं स्किन केयर के नाम पर पार्लर जाकर हजारों रुपए खर्च कर आती हैं। हालांकि, पार्लर में इस्तेमाल होने वाले केमिकल युक्त प्रोडक्ट कई बार त्वचा को सूट नहीं करते और साइड इफेक्ट छोड़ जाते हैं। जिसकी वजह से त्वचा से जुड़ी समस्याएं और ज्यादा गंभीर हो जाती हैं। ऐसे में त्वचा पर इस्तेमाल होने वाली सभी चीजों के बारे में सही जानकारी होना जरूरी है। साथ ही किसी भी चीज को इस्तेमाल करने से पहले उचित सावधानी बरतने की कोशिश करें।

हालांकि, कई ऐसे प्राकृतिक हर्ब्स मौजूद हैं, जो बिना किसी साइड इफेक्ट के आपकी त्वचा कि सेहत के लिए कमाल कर सकते हैं। प्राकृतिक गुणों से भरपूर इन हर्ब्स का सही इस्तेमाल एक्ने, पिंपल, डेड स्किन सेल्स से लेकर त्वचा को ग्लोइंग और खूबसूरत बनाने तक में आपकी मदद कर सकता है। तो फिर देर किस बात की, आइये हेल्थशॉट्स से जाने ऐसे ही 5 प्रभावी हर्ब्स के नाम (best herbs for skin care) जो त्वचा से जुड़ी समस्या से निजात पाने में करेंगे आपकी मदद।

यहां हैं त्वचा के लिए आवश्यक हर्ब्स के नाम (best herbs for skin care)

1. पुदीना

नेशनल लाइब्रेरी ऑफ़ मेडिसिन द्वारा प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार पुदीने मैं सैलिसिलिक एसिड मौजूद होते हैं जो त्वचा को पिंपल और एक्ने की समस्या से निजात पाने में मदद करते हैं। इसके साथ ही इसमें एंटीफंगल और एंटीबैक्टीरियल प्रॉपर्टी पाई जाती है। जो त्वचा पर होने वाली खुजली और अन्य इंफेक्शन को दूर रखने में मदद करती हैं। यह न केवल आपके चेहरे की त्वचा बल्कि आपके पैर, हाथ एवं समग्र शरीर की त्वचा के लिए काफी फायदेमंद होता है।

इस तरह इस्तेमाल करें

यदि आप इसे अपने पिंपल एक्ने और डार्क स्पॉट की समस्या के लिए इस्तेमाल करना चाहती हैं, तो पुदीने की कुछ पत्तियों को पीसकर उसका पेस्ट बना लें, इसमें ओट्स और शहद मिलाकर इसे फेस मास्क की तरह इस्तेमाल कर सकती हैं।

यदि आप इसे अपनी फटी एड़ियों के लिए इस्तेमाल करना चाहती हैं। तो पुदीने की कुछ पत्तियां लें, इसे पानी में वॉयल करें और फिर उसी पानी में अपने पैरों को भिगो कर छोड़ दें।

यह भी पढ़ें : जल्द मोटापा कम करना चाहती हैं, तो आज ही अपनी डाइट में शामिल करें ये 5 जड़ी-बूटियां

lavendar oil ke fayde
लैवेंडर ऑयल का प्रयोग करें। चित्र : शटरस्टॉक

2. लैवेंडर

रिसर्च गेट की माने तो लैवंडर में एंटीसेप्टिक, एंटी इन्फ्लेमेटरी और एंटीफंगल प्रॉपर्टीज पाई जाती है। यह सभी त्वचा के विभिन्न प्रकार की समस्याएं जैसे कि स्किन ड्राइनेस, पिंपल, एक्ने, डार्क स्पॉट और त्वचा पर हुई सूजन को कम करने में मदद करते हैं। वहीं सर्दियों में यह आपकी त्वचा के लिए काफी फायदेमंद हो जाता है। क्योंकि यह ड्राइनेस को कम करके त्वचा को मुलायम और ग्लोइंग बनाता है।

इस तरह इस्तेमाल करें लैवेंडर

आप लैवेंडर के सूखे या ताजे फूल को फेसियल क्रीम, टोनर, फेशियल स्टीम के लिए इस्तेमाल कर सकती हैं। इसकी बेहतरीन खुशबू आपको पूरे दिन तरोताजा रखने के साथ ही आपके ब्लड सर्कुलेशन को इंप्रूव करने में मदद करेगी। जो आपकी त्वचा को स्वस्थ रखने के साथ साथ स्किन को प्राकृतिक ग्लो प्रदान करता है।

3. रोजमेरी

नेशनल लाइब्रेरी ऑफ मेडिसिन द्वारा प्रकाशित अध्ययन के अनुसार रोजमेरी आपकी त्वचा को पर्याप्त नमी प्रदान करता है। जिस वजह से त्वचा लंबे समय तक मॉइश्चराइज रहती है। इसके साथ ही यह कोलेजन के प्रोडक्शन को बढ़ा देता है। वहीं रोजमेरी की पत्तियों में मौजूद प्रॉपर्टी फ्री रेडिकल्स से होने वाले डैमेज के प्रभाव को कम करने में सहायक होती हैं। इसके साथ ही इसमें कई ऐसे मिनरल मौजूद होते हैं, जो त्वचा को एक्सटर्नल डैमेज जैसे कि सूरज की हानिकारक किरणों के प्रभाव से बचाते हैं। वहीं यह स्किन इलास्टिसिटी को भी लंबे समय तक बनाए रखते हैं और एजिंग प्रोसेस को धीमा कर देते हैं।

इस तरह इस्तेमाल करें

रोजमेरी के तेल को पानी के साथ मिलाकर अपनी त्वचा पर अप्लाई कर सकती हैं। यह एक्ने, पिंपल जैसी समस्याओं के साथ ही विभिन्न प्रकार के इंफेक्शन और एलर्जी से लड़ने में भी मददगार हो सकता है। वहीं आप रोजमेरी ऑयल को अपने क्लींजर के साथ मिलाकर अप्लाई कर सकती हैं। यह ब्लड सर्कुलेशन को बूस्ट करता है और त्वचा को अंदर से मॉइश्चराइज करता है। ऐसे में त्वचा तरोताजा और खूबसूरत दिखती है।

यह भी पढ़ें : Basil leaves benefits : कोरोना के बढ़ते संक्रमण से डरने के बजाए तुलसी की पत्तियों से करें शरीर को मुकाबले के लिए तैयार

benefits of rosemary oil
आपकी त्वचा के लिए किसी जादू से कम नहीं है रोजमैरी। चित्र शटरस्टॉक।

4. तुलसी

नेशनल लाइब्रेरी ऑफ़ मेडिसिन के अनुसार तुलसी में कई महत्वपूर्ण पोषक तत्व मौजूद होते हैं। जो त्वचा के लिए काफी फायदेमंद हो सकते हैं। वहीं यह एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर होता है। ऐसे में इसका इस्तेमाल त्वचा को एक्ने, ब्लैकेड और पिंपल की समस्या से निजात पाने में मदद करता है। साथ ही डार्क स्पॉट को कम करते हुए त्वचा को बेदाग बनाता है। इतना ही नहीं तुलसी में एंटी बैक्टीरियल, एंटी फंगल और एंटीसेप्टिक प्रॉपर्टी पाई जाती है। जो त्वचा पर होने वाले विभिन्न प्रकार के संक्रमण से स्किन को प्रोटेक्ट करते हैं।

त्वचा पर इस तरह इस्तेमाल करें तुलसी

तुलसी की पत्तियों को पीसकर इसके रस को निकालकर त्वचा पर सीधा अप्लाई कर सकती हैं। इसके साथ ही तुलसी के तेल का इस्तेमाल भी काफी फायदेमंद माना जाता है। इतना ही नहीं आप तुलसी की पत्तियों को पीसकर अन्य प्रकार के घर पर बने फेस पैक में मिलाकर इस्तेमाल कर सकती हैं।

cinnamon scrub
दालचीनी का स्क्रब आपकी त्वचा की गंदगी को साफ करता है। चित्र: शटरस्‍टॉक

5. दालचीनी

पब मेड सेंट्रल द्वारा दालचीनी को लेकर प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार इसमें एंटी इन्फ्लेमेटरी, एंटीऑक्सीडेंट, एंटीफंगल, और एंटीबैक्टीरियल प्रॉपर्टी पाई जाती है। जो त्वचा पर होने वाले विभिन्न प्रकार के संक्रमण से बचाव में मदद करती हैं। वहीं इसमें फ्लेवोनॉयड्स मौजूद होते हैं। साथ ही दालचीनी एंटीसेप्टिक होता है। इसलिए इसका इस्तेमाल पिंपल, एक्ने, ब्लैकहेड जैसी समस्याओं में फायदेमंद होता है। यह स्किन के क्लोज्ड पोर्स को खोलता है, जिस वजह से त्वचा में ऑक्सीजन सप्लाई बढ़ जाती है और आपकी त्वचा ग्लोइंग और खूबसूरत नजर आती है।

अध्ययन की माने तो नियमित रूप से दालचीनी का इस्तेमाल कोलेजन प्रोडक्शन को बढ़ा देता है। जिस वजह से फाइनलाइन और रिंकल्स जैसे एजिंग के निशान समय से पहले परेशान नहीं करते।

इसे इस तरह इस्तेमाल करें

दालचीनी को शहद, केला, दही, इत्यादि के साथ मिलाकर स्क्रब और फेस पैक की तरह इस्तेमाल कर सकती हैं। वहीं आप केवल दालचीनी के पाउडर को भी त्वचा पर लगा सकती हैं। यह आपकी त्वचा के लिए प्रभावी रूप से काम करेगा यदि आपके पास दालचीनी का तेल उपलब्ध है, तो इसका इस्तेमाल त्वचा के लिए कमाल कर सकता है। दालचीनी के तेल से त्वचा को मसाज देने से ब्लड सर्कुलेशन बढ़ता है और स्किन इलास्टिसिटी मेंटेन रहती है।

यह भी पढ़ें : त्वचा पर स्पॉटलेस ग्लो के लिए ट्राई करें सुपरफूड्स से बना कोलेजन बूस्टर फेस मास्क

  • 122
लेखक के बारे में
अंजलि कुमारी अंजलि कुमारी

इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट अंजलि फूड, ब्यूटी, हेल्थ और वेलनेस पर लगातार लिख रहीं हैं।

स्वास्थ्य राशिफल

स्वस्थ जीवनशैली के लिए ज्योतिष विशेषज्ञों से जानिए अपना स्वास्थ्य राशिफल

सब्स्क्राइब
nextstory

हेल्थशॉट्स पीरियड ट्रैकर का उपयोग करके अपने
मासिक धर्म के स्वास्थ्य को ट्रैक करें

ट्रैक करें