इससे पहले कि बारिश के साथ बढ़ने लगे डेंगू का आतंक, जानिए आप इसका जोखिम कैसे कम कर सकते हैं

डेंगू एक आम बीमारी है जो सही समय पर सही दवा और देखभाल न मिलने पर जटिल हो सकती है। एक और महत्वपूर्ण पहलू उचित चिकित्सा व्यवस्था का पालन न करके खुद से दवा लेना है।
Dengue se kaise bachein
डेंगू एक आम बीमारी है जो सही समय पर सही दवा और देखभाल न मिलने पर जटिल हो सकती है। चित्र- अडोबी स्टॉक
संध्या सिंह Published: 26 Jun 2024, 06:15 pm IST
  • 135

डेंगू एक ऐसी बीमारी है, जिसे होने से पहले ही रोका जा सकता है। यह पूरी तरह से हमारे हाथों में होता है कि डेंगू को रोक जा सके। डेंगू मच्छरों के काटने से होने वाली बीमारी है। इसलिए इसके लिए उचित व्यवस्था करके मच्छरों को रोककर, खुद को डेंगू के आतंक से बचाया जा सकता है। बारिश के बढ़ने के साथ ही जब जगह-जगह पानी इकट्ठा होने लगता है, तो डेंगू मच्छरों का आतंक भी बढ़ने लगता है। इसलिए यह जरूरी है कि आप यह खतरे की दस्तक से पहले ही उससे मुकाबले की तैयारी कर लें। तो चलिए जानते है कि डेंगू के खतरे को कैसे रोका (How to reduce the risk of dengue) जा सकता है।

लापरवाही बनाती है डेंगू को खतरनाक

डेंगू एक आम बीमारी है जो सही समय पर सही दवा और देखभाल न मिलने पर जटिल हो सकती है। एक और महत्वपूर्ण पहलू उचित चिकित्सा व्यवस्था का पालन न करके खुद से दवा लेना है। डेंगू को रोकने के लिए भरपूर आराम करें और तरल पदार्थ पिएं। संक्रमण के पहले सप्ताह के दौरान, डेंगू वायरस आपके रक्त में पाया जा सकता है।

संक्रमित अधिकांश लोगों में हल्के या कोई लक्षण नहीं होते हैं। डेंगू से संक्रमित लगभग 4 में से 1 व्यक्ति बीमार हो जाएगा। डेंगू के हल्के लक्षण अधिकांश लोग लगभग एक सप्ताह के बाद ठीक हो जाते हैं।

मच्छर भगाने वाली दवा लगाने से मच्छरों के काटने का जोखिम काफी हद तक कम हो सकता है। चित्र- अडोबी स्टॉक

बारिश ज्यादा हो इससे पहले ही करें डेंगू के खतरे को कम करने के उपाय (Tips to reduce the risk of dengue)

1 मच्छरों के प्रजनन स्थलों को खत्म करें

मच्छर स्थिर पानी में प्रजनन करते हैं, इसलिए अपने घर और समुदाय के आस-पास किसी भी संभावित प्रजनन स्थल को हटाना महत्वपूर्ण है। फूलों के गमलों, बाल्टियों, पुराने टायरों और पालतू जानवरों के बर्तनों जैसी वस्तुओं में रूके पानी की नियमित रूप से जांच करें और उसे हटाएं। फूलदानों और अन्य कंटेनरों में पानी को कम से कम सप्ताह में एक बार बदलें।

सुनिश्चित करें कि मच्छरों को अंडे देने से रोकने के लिए पानी के भंडारण कंटेनरों को कसकर ढंका हुआ हो। पानी को जमा होने से रोकने के लिए गटर और नालियों को साफ और गंदगी से मुक्त रखें।

2 मच्छर भगाने वाली दवा का इस्तेमाल करें

मच्छर भगाने वाली दवा लगाने से मच्छरों के काटने का जोखिम काफी हद तक कम हो सकता है। खुली त्वचा और कपड़ों पर डीईईटी, पिकारिडिन या नींबू नीलगिरी के तेल वाले रिपेलेंट्स का इस्तेमाल करें। अगर आप प्राकृतिक विकल्प पसंद करते हैं, तो सिट्रोनेला, नीलगिरी और लैवेंडर जैसे एसेंशियल तेलों से बने रिपेलेंट्स का इस्तेमाल करें।

मच्छरों को भगाने के लिए घर के अंदर मच्छर कॉइल या वेपोराइज़र का इस्तेमाल करें, खासकर सुबह और देर दोपहर में जब मच्छरों सबसे ज़्यादा सक्रिय होते है।

3 शरीर को ढकने वाले कपड़े पहनें

पूरी तरह से ढके हुए साफ कपड़े पहनने से आप मच्छरों के काटने से बच सकते है। लंबी आस्तीन वाली शर्ट और लंबी पैंट पहनें। मच्छर गहरे रंगों की ओर आकर्षित होते हैं, इसलिए हल्के रंग के कपड़े पहनने से उनके प्रति आपका आकर्षण कम हो सकता है।


पूरी तरह से ढके हुए साफ कपड़े पहनने से आप मच्छरों के काटने से बच सकते है।

4 मच्छरदानी लगाकर सोएं

एक फिजिकल बैरियर बनाकर आप मच्छरों को खुद से दूर रख सकते है। इसके मच्छरदानी आपकी मदद कर सकता है। बिस्तर पर मच्छरदानी का उपयोग करें, खासकर उन जगहों पर जहां मच्छर बहुत ज़्यादा हैं या अगर आप बाहर सो रहे हैं। मच्छरों को अपने घर में घुसने से रोकने के लिए खिड़कियों और दरवाज़ों पर जाली लगाए।

5 यात्रा करते समय सावधान रहें

यदि आप ऐसे क्षेत्र या जगह में यात्रा कर रहे हैं जहां डेंगू आम है, तो अतिरिक्त सावधानी बरतें। अपने साथ मच्छरों से बचने के लिए सभी सुरक्षा उपकरणों को रखना जरूर याद रखें। जिसमें रिपेलेंट्स का उपयोग करना, सुरक्षात्मक कपड़े पहनना शामिल है।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

ये भी पढ़े- Heart Disease Risk : दिल की कुंडली है जेनेटिक टेस्टिंग, पर उससे पहले जान लें कुछ जरूरी बातें

  • 135
लेखक के बारे में

दिल्ली यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट संध्या सिंह महिलाओं की सेहत, फिटनेस, ब्यूटी और जीवनशैली मुद्दों की अध्येता हैं। विभिन्न विशेषज्ञों और शोध संस्थानों से संपर्क कर वे  शोधपूर्ण-तथ्यात्मक सामग्री पाठकों के लिए मुहैया करवा रहीं हैं। संध्या बॉडी पॉजिटिविटी और महिला अधिकारों की समर्थक हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख